Header Ads

सिर्फ एक गिलास प्रतिदिन पी लें ये चीज तो आप हो जाएंगे फिट


सिर्फ एक गिलास प्रतिदिन पी लें ये चीज तो आप हो जाएंगे फिट


मोटापा एक ऐसी समस्या है, जिससे इन दिनों ज्यादातर लोग परेशान हैं। पेट कम करने या वजन कम करने के लिए लोग कई तरह की अभ्यास व दवाओं का प्रयोग करते हैं। लेकिन, इससे भी कुछ फर्क नहीं पड़ता। दरअसल, वजन बढ़ना या फैट की चर्बी आने सिर्फ अनियमित खानपान व बेकार दिनचर्या का कारण है। फैट की चर्बी की समस्या को दूर करने के लिए डाइटिंग को भी अच्छा माना जाता है। लेकिन, यह स्थायी नहीं होती व फर्क भी बॉडी पर धीरे-धीरे पड़ता है। जल्द फैट की चर्बी कम करने व वजन घटाने का एक साधारण सा घरेलू तरीका है। जिससे बिना अभ्यास व बिना डाइटिंग के ही कई किलो वजन घटाया जा सकता है।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट 
डाइटिशियन कविता गर्ग बताती हैं कि फैट की चर्बी जल्द समाप्त करने का सबसे सही उपाय है कि आप अपने खानपान को सुधारें व साथ ही फैट कटर ड्रिंक बनाकर पीएं । इससे कुछ ही दिनों में आपको फर्क नजर आएगा । इस ड्रिंक से भूख लगना बंद नहीं होती । साथ ही इसके लिए आपको किसी तरह की कोई अभ्यास या दवाएं खाना महत्वपूर्ण नहीं है । हालांकि, अगर अभ्यास करेंगे तो आपको ज्यादा लाभ ही होगा । क्योंकि, इससे अधिक मात्रा में चर्बी कम होगी ।

फैट कटर ड्रिंक बनाने के लिए चाहिए

कैसे बनाएं फैट टकर ड्रिंक 
सबसे पहले पैन में पानी डालकर उबाल लें, थोड़ा उबलने पर इसमें जीरा डालकर 10 मिनट तक उबालें । इससे जीरा पानी में अच्छी तरह पक जाएगा । पकने पर उसके तत्व पानी में आ जाएंगे । इसके बाद इसे एक गिलास में डाल लें । इसके बाद इसमें एक चम्मच शहद व नींबू डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर लें । फिर इसका सेवन गर्म चाय की तरह धीरे-धीरे करें । प्रतिदिन खाली पेट इसका सेवन करना लाभकारी साबित होगा ।

क्या रखें ध्यान 
इस ड्रिंक को पीते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि पानी में जो जीरा है उसे पीना नहीं है बल्कि चबा-चबा कर खाना है । अगर आपको जीरा पसंद नहीं है, तो आप जीरा पाउडर का प्रयोग कर सकते है । इसका सेवन करने के बाद कम से कम 2 घंटे कोई भी वस्तु न खानी है न पीनी है । सिर्फ एक बार ही इसका खाली पेट ही सेवन करना है ।


इस तेल से करे मोटापे की समस्या को दूर


मोटापा एक ऐसी समस्या है जिससे आजकल सभी लोग परेशान रहते हैं। जब बॉडी में हार्ड चर्बी जमा हो जाती है, तो बॉडी का मेटाबॉलिज्म निर्बल हो जाता है। जिसके कारण बॉडी में फैट की चर्बी आ जाता है। कई लोग वजन को कम करने के लिए डाइटिंग व अभ्यास का सहारा लेते हैं। पर इनसे भी कोई लाभ नहीं होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे तेलों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें सिर्फ सूंघने से आपका वजन कम हो सकता है।

1- अगर आप अपने वजन को कम करना चाहते हैं, तो पिपरमिंट तेल का प्रयोग करें। इस ऑयल को सूंघने से पाचन क्रिया स्वस्थ रहती है व भूख कम लगती है। इससे आपका वजन कम होता है। एक रिसर्च के अनुसार अगर आप 1 लीटर पानी में पिपरमेंट तेल की एक या दो बूंदों को डालकर पीते हैं तो इससे आपके फेफड़े हमेशा स्वस्थ रहते हैं ।

2- वजन को कम करने के लिए नींबू का प्रयोग लाभकारी होता है । निंबू से बना लाइम तेल सूंघने से आपका वजन सरलता से कम हो सकता है ।

3- अगर आप प्रतिदिन इलायची के ऑयल को सूंघते हैं तो इससे आपका वजन कम हो सकता है । इसके अतिरिक्त इस तेल को सूंघने से पाचन क्रिया दुरुस्त रहती है व एसिडिटी की समस्या भी नहीं होती है ।

गर्मियों में स्वस्थ रहने के लिए करे इन पोस्टिक चीजों का सेवन


तेज गर्मी स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याएं साथ लेकर आती है। तेज गर्मी के कारण बॉडी में पानी की कमी हो जाती है। कभी-कभी बॉडी में पानी की कमी होने के कारण आदमी की मौत भी हो सकती है। इसलिए गर्मियों में अपने खानपान पर ज्यादा ध्यान देना महत्वपूर्ण होता है। इस मौसम में हमेशा ऐसी चीजों का सेवन करना चाहिए जिनमें भरपूर मात्रा में पानी मौजूद हो। आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें खाने से आप गर्मियों के मौसम में भी स्वस्थ रह सकते हैं।

1- नारियल पानी हमारी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है। इसके सेवन से डिहाइड्रेशन, ब्लड प्रेशर, डायबिटीज व फैट की चर्बी जैसी समस्याएं कंट्रोल में रहते हैं । गर्मियों में नारियल पानी का सेवन करने से बॉडी हाइड्रेट रहता है व साथ ही बॉडी का पी एच लेवल भी बैलेंस में रहता है ।

2- नींबू पानी भी हमारे बॉडी को नमी प्रदान करता है । निम्बू पानी में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो वजन को कम करने का कार्य करते हैं । नींबू में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है । जो बॉडी की इम्युनिटी क्षमता को स्ट्रांग बनाता है ।

3- गर्मियों के मौसम में दिन में तीन से चार बार ग्रीन टी का सेवन करें । ग्रीन टी पीने से स्वास्थ्य को बहुत फायदे हो सकते हैं । ग्रीन टी में भरपूर मात्रा में कैटेचिन मौजूद होते हैं जो रोगों से लड़ने वाले एंटीआक्सीडेंट है । यह तत्व तनाव व बेचैनी को कम करने का कार्य करते हैं ।


जानिए क्या है ठंडे दूध पीने के ये 9 बड़े फायदे


आज वर्ल्ड मिल्क डे है। दूध हमारे सेहत के लिए कितना लाभकारी है ये तो शायद सभी को पता होगा। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें दूध बिल्कुल पसंद नहीं है। लेकिन ठंडे दूध के फायदे जानकर शायद ये लोग भी इसे पीना प्रारम्भ कर दें। ठंडा दूध ना केवल स्‍वास्‍थ्‍य से भरा होता है बल्‍कि टेस्‍ट में भी बहुत ज्यादा लाजवाब माना जाता है। ठंडा दूध पीने एसीडिटी, मोटापा, बार-बार भूख लगने जैसी शारीरिक दिक्कतों को दूर करता है। चलिए जानते हैं ठंडे दूध के व फायदों के बारे में

ठंडे दूध के ये हैं फायदे 
-अगर आप बिल्‍कुल ठंडा दूध पीएं तो बॉडी को पहले उसे नॉर्मल तापमान पर लाने के लिए कैलोरी बर्न करनी पड़ेगी व फिर उसे पचाना पड़ेगा । इससे आपका फैट की चर्बी कंट्रोल में रहेगा । 
-हल्‍का गुनगुना दूध पीने से नींद आती है क्‍योंकि, दूध में अमीनो एसिड ट्रिप्टोफान पाया जाता है जो कि दूध गर्म होने तथा स्‍टार्च वाले फूड के साथ पीने से दिमाग में घुस जाता है । लेकिन, ठंडे दूध में प्रोटीन होने की वजह से ऐसा नहीं हो पाता व इसलिए इसको दिन में कभी भी पी सकते हैं । 
-क्‍या आपने कभी ठंडे दूध को एसिडिटी मिटाने के लिए पिया है? धीरे-धीरे ठंडा दूध पीने से पेप्‍टिक अल्‍सर के कारण से पैदा होने वाला दर्द भी दूर हो जाता है ।

-खाना खाने के बाद अगर आपको बार-बार भूख लगती है तो आप ठंडा दूध पी सकते हैं। आप चाहें तो ठंडे दूध में ओट्स मिलाकर भी खा सकते हैं। 
-गर्मी के दिनों में अगर आप दूध की कोल्‍ड कॉफी पीते हैं तो एक दम से तरोताजा हो जाएंगे। 
-ठंडे दूध में एलेक्‍ट्रोलाइट्स होते हैं जो बॉडी को डीहाइड्रेट होने से रोकते हैं। अगर आप दिन में दो ग्लास ठंडा दूध पीते हैं तो आपका बॉडी हमेशा हाइड्रेट बना रहेगा। दूध पीने का सबसे अच्‍छा समय है प्रातः काल माना जाता है।

-दूध में गैस को दबाने के गुण होते हैं जो खाना पचाने के लिए फायदेमंद है। यह फैट, घी या ऑयल को आराम से पचा सकता है। अगर इसमें अदरक मिलाकर पिया जाए तो ज्‍यादा असरदार होता है। 
-जिम में भारी एक्सरसाइज़ करने के बाद अगर कोई एनर्जी से भरी ड्रिंक पीनी है तो आप ठंडा दूध पी सकते हैं। इससे मसल्‍स को रिपेयर होने के लिए प्रोटीन व बॉडी को एनर्जी मिलती है। 
-चेहरे पर ठंडा दूध लगाने से त्‍वचा क्‍लीन व टाइट बनती है। इससे त्‍वचा हाइड्रेट व स्‍मूथ हो जाती है।
बेल का शरबत भी हो सकता है आपके किए हानिकारक



बेल का जूस गर्मियों के मौसम में बहुत लाभकारी होता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन, मैगनीज, मैग्नीशियम, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट व आयरन मौजूद होते हैं। जो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होते हैं। पर क्या आपको पता है कुछ लोगों के लिए बेल का शरबत नुकसानदायक साबित हो सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे लोगों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें भूल कर भी बेल का शरबत नहीं पीना चाहिए।

1- अगर आपको शुगर की समस्या है तो आपके लिए बेल का शरबत हानिकारक हो सकता है। बेल के शरबत में चीनी मिलाई जाती है। जिसके कारण इसे पीने से आपका शुगर लेवल बढ़ सकता है।

2- गर्भावस्था में भी बेल का शरबत नुकसानदायक होता है । बेल का शरबत पीने से दूध पिलाने वाली स्त्रियों के बॉडी में दूध की मात्रा कम हो जाती है । इसके अतिरिक्त गर्भावस्था के दौरान बेल का शरबत पीने से मिसकैरेज होने का खतरा हो सकता है ।

3- अगर आपकी सर्जरी हो चुकी है या होने वाली है तो बेल का शरबत ना पिए । क्योंकि इसे पीने से ब्लड शुगर का लेवल बढ़ जाता है जिससे आपको नुकसान हो सकता है ।


लाभकारी होता है मौसमी का जूस


मौसमी एक खट्टा मीठा फल होता है। ये हर मौसम में सरलता से मिल जाता है। ज्यादातर लोगों को मौसमी का जूस पीना बहुत पसंद होता है। मौसमी का जूस हमारी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारीहोता है। इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी व पोटेशियम मौजूद होते हैं। इसके अतिरिक्त इसमें आयरन व कॉपर की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है। प्रतिदिन मौसमी के जूस का सेवन करने से आपका वजन सरलता से कम हो जाता है।

1- अगर आप नियमित रूप से मौसमी के जूस का सेवन करते हैं तो इससे आपकी पाचन शक्ति मजबूत हो जाती है। मौसमी का जूस पीने से आपके बॉडी में लार का निर्माण अधिक मात्रा में होता है।जिससे आपकी पाचन शक्ति तेज हो जाती हैं।

2- स्किन के लिए मौसमी का जूस बहुत लाभकारी होता है । प्रतिदिन मौसमी का जूस पीने से आपकी स्कीन पर मौजूद दाग धब्बे व पिंपल्स समाप्त हो जाते हैं ।

3- अगर आपको शुगर की समस्या है तो प्रतिदिन मौसमी के जूस में थोड़ा सा आंवले का रस व शहद मिलाकर पिए । इससे आपको शुगर की समस्या से आराम मिलेगा ।

4- कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए प्रतिदिन मौसमी के जूस का सेवन करें । पोटेशियम की भरपूर मात्रा होने के कारण ये पेट की गड़बड़ी व कब्ज जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायक होता है ।

शरीर में पानी की कमी को दूर करता है कच्चा नारियल

नारियल में भरपूर मात्रा में विटामिन, खनिज, अमीनो एसिड, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जो बॉडी को स्वास्थ्य वर्धक रखने में सहायक होते हैं। प्रतिदिन रात में सोने से पहले नारियल का एक टुकड़ा खाने से स्वास्थ्य को बहुत सारे फायदे हो सकते हैं। नारियल बॉडी की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ-साथ दिमाग को भी तेज करता है।

1- गर्मियों के मौसम में नारियल का सेवन करने से बॉडी में पानी की कमी दूर हो जाती है व बॉडी हाइड्रेट रहता है।

2- नारियल में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो कब्ज की समस्या को दूर करने में मदद करता है। रात में सोने से पहले नारियल का एक टुकड़ा खाकर सोए । ऐसा करने से आपको कब्ज की समस्या से आराम मिलेगा ।

3- अक्सर गर्मियों के मौसम में लोगों को नकसीर फूटने की समस्या रहती है । ऐसे लोगों के लिए नए नारियल एक रामबाण दवा के रूप में कार्य करता है । प्रतिदिन नारियल के एक टुकड़े को मिश्री के साथ खाने से नकसीर फूटने की समस्या नहीं होती है ।

4- अगर आप प्रतिदिन रात में सोने से पहले नारियल के एक टुकड़े का सेवन करते हैं तो इससे आपका हार्ट हेल्थी रहता है ।

5- नारियल में भरपूर मात्रा में एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते हैं । जिसके कारण प्रतिदिन इसका सेवन करने से किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं होती है । नारियल का सेवन करने से याददाश्त तेज हो जाती है ।
सेहत के लिए बेहद लाभकारी हो सकता है कच्चा नारियल


नारियल में भरपूर मात्रा में विटामिन, खनिज, अमीनो एसिड, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जो बॉडी को स्वास्थ्य वर्धक रखने में सहायक होते हैं। प्रतिदिन रात में सोने से पहले नारियल का एक टुकड़ा खाने से स्वास्थ्य को बहुत सारे फायदे हो सकते हैं। नारियल बॉडी की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ-साथ दिमाग को भी तेज करता है।

1- गर्मियों के मौसम में नारियल का सेवन करने से बॉडी में पानी की कमी दूर हो जाती है व बॉडी हाइड्रेट रहता है।

2- नारियल में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो कब्ज की समस्या को दूर करने में मदद करता है। रात में सोने से पहले नारियल का एक टुकड़ा खाकर सोए । ऐसा करने से आपको कब्ज की समस्या से आराम मिलेगा ।

3- अक्सर गर्मियों के मौसम में लोगों को नकसीर फूटने की समस्या रहती है । ऐसे लोगों के लिए नए नारियल एक रामबाण दवा के रूप में कार्य करता है । प्रतिदिन नारियल के एक टुकड़े को मिश्री के साथ खाने से नकसीर फूटने की समस्या नहीं होती है ।

4- अगर आप प्रतिदिन रात में सोने से पहले नारियल के एक टुकड़े का सेवन करते हैं तो इससे आपका हार्ट हेल्थी रहता है ।

5- नारियल में भरपूर मात्रा में एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते हैं । जिसके कारण प्रतिदिन इसका सेवन करने से किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं होती है । नारियल का सेवन करने से याददाश्त तेज हो जाती है ।


अनानास एक बहुत ही स्वादिष्ट व खट्टा मीठा होता है फल


अनानास एक बहुत ही स्वादिष्ट व खट्टा मीठा फल होता है। यह हमारी स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभकारी होता है। अनानास में भरपूर मात्रा में विटामिन ए, कैल्शियम, पोटेशियम, विटामिन सी, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स, फास्फोरस, व थाइमिन मौजूद होते हैं। इसमें कैलोरी की मात्रा ना के बराबर होती है जिससे इसके सेवन से वजन सरलता से कम हो जाता है।

1- अनानास में भरपूर मात्रा में विटामिन ए व बीटा कैरोटीन मौजूद होते हैं। प्रतिदिन अनानास का सेवन करने से आंखों की रोशनी लंबे समय तक बरकरार रहती है।

2- अनानास में विटामिन सी की भरपूर मात्रा मौजूद होती है, जो बॉडी को विभिन्न प्रकार के वायरस से बचाती है। प्रतिदिन अनानास का सेवन करने से बॉडी की इम्युनिटी क्षमता स्ट्रांग हो जाती है ।

3- अनानास में भरपूर मात्रा में ब्रोमेलिन, पोटेशियम व कॉपर मौजूद होते हैं । जो बॉडी में रक्त के बहाव को सही तरीके से कार्य करने में मदद करते हैं । अनानास के सेवन से बॉडी में रेड ब्लड सेल्स व ऑक्सीजन तेज हो जाते है ।

4- अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो आपके लिए अनानास का सेवन लाभकारी हो सकता है । इसमें कैलोरी व फैट की मात्रा ना के बराबर होती है जिससे वजन सरलता से कम हो जाता है ।

हाई सोडियम फूड्स का न करे अधिक सेवन


एक स्वस्थ बॉडी के लिए सभी प्रकार के पोषक तत्वों का होना महत्वपूर्ण होता है। कैल्शियम, आयरन, पोटेशियम, विटामिन डी, खनिज पदार्थों के साथ-साथ सोडियम भी हमारे बॉडी के लिए बहुत आवश्यक होता है। सोडियम हमारे बॉडी में ब्लड प्रेशर को रेगुलेट रखता है। इसके अतिरिक्त सोडियम मसल्स को सही तरीके से कार्य करने में भी मदद करता है। जिस तरह से बॉडी में सोडियम की कमी होने से स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। उसी तरह से सोडियम की अधिकता के कारण भी स्वास्थ्य को बहुत नुकसान हो सकते हैं। अगर बॉडी में सोडियम की मात्रा ज्यादा हो जाए तो बुखार, चक्कर आना, डिहाइड्रेशन, उल्टी डायरिया आदि समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए महत्वपूर्ण है कि अधिक सोडियम वाले फूड्स का सेवन कम मात्रा में किया जाए ।

1- पैकेज्ड फूड व सब्जियों में सोडियम की मात्रा काफी होती है । अधिक मात्रा में पैकेज्ड फूड व सब्जियों का सेवन करने से आपके बॉडी में सोडियम की मात्रा ज्यादा हो सकती है ।

2- सी फूड हमारे दिल के लिए बहुत लाभकारी होता है । सी फूड में भरपूर मात्रा में विटामिन डी मौजूद होता है पर इसमें सोडियम की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है । अधिक मात्रा में सोडियम का सेवन करने से बॉडी को नुकसान हो सकता है ।

3- पनीर में भी सोडियम की भरपूर मात्रा मौजूद होती है । इस से बनी चीजें जैसे पिज़्ज़ा बर्गर आदि का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से स्वास्थ्य को बहुत नुकसान हो सकता है ।
एक प्लेट पोहा खाने का क्या है लाभ


स्वाद से भरपूर पोहे को नाश्ते में खाने से शायद ही कोई मना करे। स्वाद के साथ ही यह स्वास्थ्य के लिए भी भी बहुत लाभकारी है। इसका सेवन आपको फिट रखने के साथ ही वजन कम करने में भी मददगार होता है। इसमें कार्बोहाईड्रेट पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है व इसमें बॉडी के लिए महत्वपूर्ण विटामिन भी होते हैं। प्रातः काल के समय लोग इसे इसलिए भी खाना पसंद करते हैं कि यह सरलता से पच जाता है। आगे पढ़िए पोहे का सेवन आपके बॉडी के लिए किस प्रकार लाभकारी रहता है।

आयरन से भरपूर 
नियमित रूप से एक प्लेट पोहा खाने वाले आदमी में आयरन की कमी नहीं होती व वह एनीमिया रोग से दूर रहता है। इसे खाने से बॉडी में हीमोग्लोबिन व इम्यूनिटी क्षमता बढ़ती है । आयरन से बॉडी की कोशिकाओं को ऑक्सीजन मिलती है ।

मधुमेह रोगियों के लिए 
डायबिटीज रोगियों के लिए पोहे का सेवन बहुत ज्यादा पुायदेमंद होता है । डायबिटीज वाले आदमी के पोहा खाने से भूख कम लगती है व बीपी का लेवल सही रहता है । आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि एक प्लेट पोहा में 244 किलो कैलोरी पाई जाती है ।

पोषक तत्वों से भरपूर 
अक्सर घरों में पोहे को कई प्रकार की सब्जी मिलाकर तैयार किया जाता है । पोहे में सब्जियों के सेवन से बॉडी को विटामिन, खनिज व फाइबर पर्याप्त मात्रा में मिलती है ।

कार्बोहाइड्रेट की प्रचुर मात्रा 
पोहे में कार्बोहाइड्रेट भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है । कार्बोहाइड्रेट से बॉडी को ऊर्जा मिलती है व आपकी बॉडी की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है । आप रोजाना नाश्ते में पोहा खा सकते हैं ।

पेट के रोगी को आराम 
अगर आपके पेट में कोई समस्या रहती है तो पोहे का सेवन आपके लिए अच्छा रहेगा । यह सुपाच्य होता है, साथ ही इसमें कम मात्रा में ग्लूटोना पाया जाता है । पेट के रोगियों को चिकित्सक भी पोहा खाने की सलाह देते हैं ।

ब्रेकफास्ट में खाने से फायदा 
एक शोध से भी यह साफ हो चुका है कि नाश्ते में रोजाना पोहा खाना बहुत लाभकारी रहता है । इसे खाने से आप दिनभर तरोताजा रहते हैं व यह आपकी पाचन क्रिया को अच्छा रखता है । अगर नाश्ते में आप सोयाबीन, सूखे मेवे व अंडा मिलाकर खाते हैं तो आपको विटामिन के साथ ही प्रोटीन भी मिलेगा ।
जानिए क्या है दिल की बिमारी को रोकने के अनोखे उपाय


भागदौड़ भरी इस ज़िंदगी में आज कल के लोग अपने खाने पीने पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है वह जब चाहे कुछ भी खा लेते है। वहीं बॉडी का सबसे गम्भीर भाग होता है दिल, जिसका हमें सबसे ज्यादा ख्याल रखना पड़ता है। आपने सुना ही होगा कि जब हम किसी बात से परेशान होते है या फिर किसी बात को लेकर हमे बहुत दुःख होता है तो ऐसे में हमारे करीबी या हमारा सबसे अच्छा दोस्त हमे कहता है कि 'दिल पर मत ले यार'बस इसी से आप समझ सकते है कि दिल हमारे बॉडी का कितना गम्भीर भाग होता है।

वहीं जब कोई आदमी भावनात्मक तनाव महसूस करता है आदमी का दिल सबसे पहले प्रभावित होता है जो कि हार्ट अटैक का कारण बनता है। ऐसे में लोग इस बिमारी से पीछा छुड़ाने के लिए कई तरह के नुस्खे आजमाते है लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे है दिल की बिमारी को दूर करने व उसे स्वस्थ रखने के लिए कुछ घरेलु व सरल उपाय । सबसे पहले तो आप नकारात्मक भावनाओं को पॉजिटिव विचारों में बदल दें । ऐसा करने से आप खुद को खुश महसूस करेंगे जो आपके व आपके स्वस्थ लिए बेहद ही अच्छा है ।

वहीं दिल की बीमारी से बचने के लिए नियमित योगासन एवं प्राणायाम प्रतिदिन करें जितना आप प्रकर्ति से जुड़े रहेंगे आपकी स्वास्थ्य के लिए उतना ही अच्छा होगा । इसके अतिरिक्त चिंता, क्रोध, मानसिक तनाव, डर को खुद से दूर करने का संघर्ष करें । ये हमारे ऐसे शत्रु है जो हमे कभी खुश नहीं रहने देते है । दिल की बीमारी से बचने के लिए अपने बॉडी का फैट की चर्बी व वजन न बढ़ने दे इसलिए आप खाने पीने की चीजों को लेकर थोड़ा संजीदा रहे ।


जानिए किस तरीके से पानी पीने से हो सकता है किडनी को नुकसान


यह बात तो सभी जानते हैं कि पानी हमारी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है। भरपूर मात्रा में पानी का सेवन करने से बॉडी में मौजूद विषैले तत्व सरलता से बाहर निकल जाते हैं। जिससे बॉडी बीमारियों से मुक्त रहता है। इसके अतिरिक्त ब्यूटी के लिए भी पानी का सेवन बहुत लाभकारी होता है। अधिक मात्रा में पानी का सेवन करने से ऑइली स्किन, पिंपल्स, दाग धब्बे आदि समस्याएं दूर हो जाती है। डॉक्टरस 1 दिन में 8 से 10 गिलास पानी पीने की सलाह देते हैं। पर कुछ लोग इससे भी ज्यादा पानी का सेवन करते हैं। जिससे उनकी स्वास्थ्य को नुकसान हो सकता है।

1- किडनी पानी को छानने का कार्य करती है। अगर आप बैठ कर पानी पीते हैं तो किडनी अपना कार्य सही तरीके से करती है । अगर आप खड़े होकर या आवश्यकता से ज्यादा पानी का सेवन करते हैं तो किडनी से पानी बिना छाने ही बह जाता है । जिससे पोषक तत्व अधिक मात्रा में बॉडी से बाहर निकल जाते हैं । लगातार इस तरह से पानी का सेवन करने से किडनी व दिल से जुड़ी बीमारियां हो सकती हैं ।

2- जो लोग खड़े होकर पानी पीते हैं उन्हें हमेशा पेट से जुड़ी कोई ना कोई समस्या बनी रहती है । खड़े होकर पानी पीने से पानी खाद्य नलिका में जाकर निचले पेटकी दीवार पर गिरता है जिससे पेट के आसपास के गम्भीर अंगों को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचता है । इसलिए हमेशा बैठ कर पानी पिए ।

3- खड़े होकर पानी पीने से जोड़ों के दर्द या गठिया की समस्या भी हो सकती है । खड़े होकर पानी पीने से जोड़ों में मौजूद तरल पदार्थ का बैलेंस बिगड़ जाता है जिससे घुटनों की ग्रीस पर बुरा प्रभाव पड़ता है ।
पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने के लिए पिए मटके का पानी


गर्मियों के मौसम में ठंडा ठंडा पानी पीना बहुत अच्छा लगता है। आज के समय में सभी घरों में फ्रिज होता है। जिसके कारण लोगों ने मटके का पानी पीना बंद कर दिया है। पर क्या आपको पता है मटके का पानी पीने से हमारी स्वास्थ्य को बहुत सारे फायदा हो सकते हैं। मिट्टी में कुछ ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो बॉडी में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने का कार्यकरते हैं व बॉडी को स्वस्थ रखते हैं। आज हम आपको मटके का पानी पीने के कुछ फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

1- मटके के पानी का सेवन करने से मिट्टी पानी में मौजूद विषैले तत्वों को सोख लेती है व पानी में महत्वपूर्ण पोषक तत्वों को मिलाने में सहायता करती है । मटके का पानी पीने से बॉडी हमेशा स्वस्थ रहता है ।

2- अगर आप मटके के पानी का सेवन करते हैं तो इससे बॉडी में टेस्टोरोन का लेवल बढ़ जाता है । व प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है । जिसके कारण पाचन तंत्र हमेशा स्वस्थ रहता है ।

3- मटके के पानी में क्षारीय गुण मौजूद होते हैं । जो बॉडी के पी एच लेवल को कंट्रोल में रखते हैं । मटके का पानी पीने से एसिडिटी व पेट दर्द की समस्या से छुटकारा मिलता है ।

4- गर्भावस्था में मटके का पानी पीने से बॉडी को बहुत सारे फायदा हो सकते हैं । फ्रिज का पानी पीने से गले की कोशिकाओं का टेंपरेचर आकस्मित गिर जाता है, जिससे ग्रंथियों में सूजन आ जाती है । मटके का पानी पीने से गले को किसी तरह का साइड इफेक्ट नहीं होता है ।
पानी की कमी से हो सकती है ये बीमारी


स्किन प्रॉब्लम्स: पानी की कमी के कारण स्कीन से टॉक्सिन निकलने की क्रिया बाधित होती है, जिससे स्कीन संबंधी समस्याएं, जैसे- डर्माटाइटिस, सोरायसिस आदि हो सकती हैं।

थकान: पानी बॉडी में मौजूद ऊर्जा का प्रमुख स्रोत है। इसकी कमी का सीधा प्रभाव शारीरिक ऊर्जा पर पड़ता है, जिससे हमारी कार्यक्षमता प्रभावित होती है।

हाइ ब्लड प्रेशर: खून में लगभग 92% भाग पानी होता है व जब कोई आदमी डिहाइड्रेशन का शिकार होता है, तब पानी की कमी से खून गाढ़ा होने लगता है, जो रक्तसंचार को प्रभावित करता है, नतीजतन हाइ ब्लड प्रेशर की समस्या प्रारम्भ हो जाती है ।

अस्थमा व एलर्जी: सांस संबंधी समस्याओं का एक अहम् कारण डिहाइड्रेशन की समस्या है । जब बॉडी में पानी की कमी होने लगती है, तब बॉडी में हिस्टामाइन का स्तर बढ़ने लगता है, जिसका परिणाम अस्थमा और एलर्जी के रूप में दिखाई देता है । इसलिए एक्सपर्ट्स अस्थमा के मरीज़ों को पर्याप्त पानी पीने की सलाह देते हैं ।

कब्ज़: बॉडी में पानी की कमी का प्रभाव हमारी पाचनक्रिया पर भी पड़ता है, जिससे बड़ी आंत से निकलनेवाले वेस्ट की गति पहले के मुक़ाबले काफ़ी धीमी हो जाती है व कुछ गंभीर मामलों में रुक भी जाती है ।

इस तरह करें बचाव 
रोज़ाना 8-10 ग्लास पानी पीएं । घर से बाहर निकलते व़क्त पानी की बॉटल साथ ले जाएं । प्यास लगने पर कोल्ड ड्रिंक्स की बजाय फ्रूट जूस, नारियल पानी, नींबू पानी, जलजीरा, छाछ आदि पीएं ।


ज्यादा पानी पीने से बॉडी में हो सकती है परेशानी


गर्मी हो या सर्दी पानी पीने के फायदों के बारे में तो आपने खूब सुना होगा। घर-परिवार में बड़ों से आपने यही सुना होगा कि पानी का ज्यादा से ज्यादा सेवन बॉडी को लाभदेता है इसलिए खूब पानी पिएं। गर्मियों के सीजन में पानी की आवश्यकता बढ़ जाती है। लेकिन आपको यह बात पता होनी चाहिए कि आवश्यकता से ज्यादा पानी पीने से भी आपको कठिनाई हो सकती है। जी हां, हाल ही में आए एक शोध के नतीजों से यह बात सामने आई है। शोध से पता चला है कि आवश्यकता से ज्यादा पानी पीने से आपके दिमाग में सूजन आ सकती है।

शोध से साफ हुआ है कि बॉडी में पानी की मात्रा ज्यादा होने पर सोडियम का लेवल तेजी से कम होने लगता है। इससे दिमाग में सूजन आ सकती है । सूजन बढ़ने पर हाइपोट्रिमिया का खतरा बढ़ जाता है, यह एक खतरनाक स्थिति होती है । ऐसे में आवश्यकता से ज्यादा पानी आपको नुकसान दे सकता है । आगे पढ़िए ज्यादा पानी पीने से होने वाले नुकसान के बारे में ।

पाचन प्रक्रिया पर प्रभावित होती है 
आवश्यकता से ज्यादा पानी पीने से आपके बॉडी की पाचन प्रक्रिया प्रभावित हो सकती है । दरअसल एक मात्रा से ज्यादा पानी पीने से भोजन को पचाने में मदद करने वाला पाचन रस कार्य करना बंद कर देता है । इस कारण खाना देर से पचने लगता है व आपको पेट से संबंधित रोग होने की संभावना बढ़ जाती है ।

दिमाग पर असर 
ज्यादा पानी पीने से हाइपोनेट्रेमिया की समस्या हो सकती है । इससे बॉडी में सोडियम की मात्रा कम हो जाती है । इसका सीधा प्रभाव दिमाग पर प्रभाव पड़ता है । दिमाग में सूजन आने से सोचने-समझने की शक्ति कम हो जाती है व सिर दर्द की शिकायत बढ़ जाती है ।

हार्टअटैक का खतरा 
कई बार ज्यादा पानी पीने से दिल के रोगियों में हार्टअटैक का खतरा बढ़ जाता है । जिन मरीजों की बाइ-पास सर्जरी हुई होती है, कुछ मामलों में ऐसे मरीजों को चिकित्सक कम पानी पीने की सलाह देते हैं ।

किडनी की समस्‍या 
ज्यादा पानी पीने से किडनी पर दबाव बढ़ जाता है । ऐसे में आपको किडनी की समस्‍या भी हो सकती है । ज्यादा पानी पीने से आपकी किडनी को क्षमता से ज्यादा कार्य करना पड़ता है ।

कम नींद आती है 
ज्यादा पानी पीने पर आप रात में सही से नींद नहीं ले पाते । ज्यादा पानी पीने पर आप बार-बार पेशाब जाते हैं । डायबिटीज रोगियों को भी रात में कम पानी पीने की सलाह दी जाती है । क्योंकि ज्यादा पानी पीने से ऐसी रोगियों को रात में ज्यादा पेशाब आता है ।

कितना पानी जरूरी 
स्वस्थ बॉडी में पानी की संतुलित मात्रा का रहना महत्वपूर्ण है । यदि आपकी सामान्य दिनचर्या है तो आपको एक दिन में करीब 8 गिलास (4 से 5 लीटर) पानी पीना चाहिए । अगर आप ज्यादा मेहनत वाला कार्य करते हैं तो उसके अनुरूप बॉडी में पानी का इनटेक बढ़ जाता है ।




तरबूज हमारी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभकारी होता है। खास करके गर्मियों के मौसम में इसका सेवन करने से बॉडी में पानी की कमी नहीं होती हैं। पानी की अधिक मात्रा होने के कारण इसे खाने से बॉडी में एनर्जी बनी रहती है। पर क्या आपको पता है अगर आप अधिक मात्रा में तरबूज का सेवन करते हैं तो इससे आपकी स्वास्थ्य को बहुत सारे नुकसान हो सकते हैं।आज हम आपको अधिक मात्रा में तरबूज खाने के कुछ नुक़्सानो के बारे में बताने जा रहे हैं।

1- तरबूज में भरपूर मात्रा में पानी के साथ-साथ डाइटरी फाइबर भी मौजूद होते हैं। अगर आप अधिक मात्रा में तरबूज का सेवन करते हैं तोआपको पेट से जुड़ी समस्याएं जैसे- एसिडिटी, पेट फूलना व डायरिया जैसी कठिनाई हो सकती है ।

2- तरबूज में पानी की अधिक मात्रा होने के कारण इसका सेवन करने से आपके बॉडी में पानी का लेवल ज्यादा हो जाता है । जिससे बॉडी में ब्लड वॉल्यूम बढ़ जाता है । जिसकी वजह से आपके पैरों में सूजन व थकान जैसी समस्याएं हो सकती हैं ।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.