Header Ads

उच्च रक्तचाप होने पर ना करें सम्भोग


उच्च रक्तचाप होने पर ना करें सम्भोग



सेक्स करना हेल्थ के लिए तो अच्छा ही है इसके अलावा सेक्स पति-पत्नी के रिश्तों को गहरा करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।


लेकिन क्या आप जानते हैं कि सेक्स के समय स्ट्रेसफुल रहने से आपको फायदे के बजाय नुकसान हो सकता है। सिर्फ तनाव ही नहीं बल्कि ब्ल्डप्रेशर असामान्‍य हो तो ना करें सेक्स अन्यथा आपको कई समस्याएं हो सकती हैं। हाई बीपी में सेक्स करने के बजाय हाईबीपी में नमक का उपयोग कर उसे कम करना चाहिए। ताकि आपका ब्ल्डप्रेशर सामान्य हो सकें। आइए जानें क्यों ना करें असामान्य ब्लडप्रेशर के दौरान सेक्स।


आमतौर पर सेक्स के दौरान हृदयगति और रक्तचाप बढ़ जाता है, ऐसे में यदि आपका ब्ल्डप्रेशर पहले से ही बढ़ा होगा तो आपके लिए ये खतरा बन सकता हैं।

उच्च‍ रक्तचाप के दौरान सेक्स करने से एंजाइना,हार्ट अटैक व पैरालिसिस जैसी गंभीर बीमारियां होने की आशंका बढ़ जाती है। ये तो सभी जानते हैं कि रक्तचाप कभी भी सामान्य नहीं रहता। तनाव के समय में आपका रक्तचाप ऊपर-नीचे होता रहता हैं। जब आप आराम की स्थिति में होते हैं तो आपका रक्तचाप सामान्य रहता है। ऐसे में आपको समय-समय पर अपना ब्लडप्रेशर चेक कराते रहना चाहिए।
उच्च रक्तचाप के दौरान आपकी हर काम में ऊर्जा ज्यादा लगती है। जिसका सीधा असर आपके हृदय पर पड़ता है और हृदय का आकार धीरे-धीरे बढ़ने लगता है।
हार्ट फेल्योर होना, एंजाइना की समस्या, हार्टअटैक इत्यादि की आशंका भी इसी कारण से बढ़ जाती है, ऐसे में आप संभोग करेंगे तो आपको जान का जोखिम भी बढ़ सकता है।


कई लोगों को उच्च रक्तचाप होने से कई यौन समस्याएं भी हो सकती हैं, ऐसे में आपको सेक्स करने से बचना चाहिए और रक्तचाप को सामान्य करना चाहिए।
उच्च रक्तचाप से पीडि़त लोगों को पति-पत्नी के अतिरिक्त अन्य से सेक्स रिलेशन नहीं बनाने चाहिए। ऐसा करने पर उत्तेजना और तनाव से रक्त चाप बहुत बढ़ सकता है और आप कई भयंकर बीमारियों की चपेट में आ सकते हों।
यह तो आप जानते ही हैं कि सेक्स के दौरान बहुत कैलोरी बर्न होती है जिससे शरीर में कैलोरी की जरूरत बढ़ जाती है। कैलोरी की जरूरत को पूरा करने के दौरान आपकी अधिक एनर्जी लगती है ओर आपकी हृदयगति 150 से 180 तक भी आराम से पहुंच जाती है। हालांकि सेक्स के बाद आपकी हृदयगति वापिस सामान्य हो जाती है।
उच्च रक्तचाप से न सिर्फ आप मानसिक तनाव से ग्रस्त होते हैं बल्कि आप सेक्स में अरूचि और घबराहट जैसी समस्याओं से भी घिर जाते हैं जिस कारण क्रोध में आपके आपसी रिश्ते खराब होने का डर रहता है।
उच्च रक्तचाप की दवाईयां लेने वाले मरीजों की भी सेक्स क्षमता कम होने लगती है और ऐसे में उच्च रक्तचाप के दौरान वे सेक्स करते हैं तो उन्हें निराशा हाथ लगने का डर भी रहता है।

अच्छे सेक्स‍ के लिए सबसे जरुरी बात जिसे आपको जान कर हैरानी होगी

हेल्दी सेक्सुअल लाइफ और अच्छे सेक्स के लिए सकारात्मक सोच जरूरी है। सेक्स लाइफ का भरपूर आनंद लेने के लिए शरीर का फिट रहना जरूरी है। इसलिए प्रतिदिन व्यायाम करना बहुत लाभकारी होता है।
बेहतर सेक्स करने के लिए व्यायाम को जरूरी तो समझा ही जाता है साथ ही सेक्स क्रिया को पूरे शरीर के लिए भी अच्छे व्यायाम के रूप में समझा जाता है। वास्तव में स्वस्थ और फिट व्यक्ति बेहतर सेक्स का जीवन में आनंद उठा सकता है।
व्या‍याम न सिर्फ शरीर में मजबूती लाता है बल्कि नियमित व्यायाम से यौन शक्ति को बढ़ाने में भी मदद मिलती है।
जॉगिंग करने से बेहतर सेक्स में मदद मिलती है। इससे व्यक्ति में चुस्ती-फुर्ती आती है।
प्रतिदिन आधे घंटे तक एरोबिक व्यायाम, स्केटिंग, स्कीइंग सवारी या डांस इत्यादि किया जाना सबसे बेहतर व्यायाम है।
सेक्स में ज्यादा गैप नहीं होना चाहिए इससे सुस्ती आने लगती है।
प्रतिदिन कुछ समय तक पुशअप यानी उठक-बैठक करनी चाहिए।
संभव हो तो कपल्स को एक साथ मिलकर व्यायाम करना चाहिए। इससे न सिर्फ उनमें प्यार बढ़ेगा बल्कि सेक्स लाइफ भी बेहतर होगी।
पुशअप्स लगाने जैसा व्यायाम घर बैठे ही किया जा सकता है।
अच्छे सेक्स के लिए योगा और मेडिटेशन करना भी बहुत लाभकारी होता है।
वेट लिफ्टिंग करने से न सिर्फ मांसपेशी मजबूत होती हैं बल्कि सेक्स के दौरान भी हल्का‍पन महसूस होता है।
पैरों को स्ट्रेच करना चाहिए। पेट संबंधी एक्सरसाइज, जम्पिंग, हिप्सी एक्सरसाइज बॉडी को फिट भी रखती हैं और शरीर को लचीला भी बनाती है।
शरीर को ऊपर की और खींचना, कमर को पीछे झुकाने वाले व्यायाम से बेहतर सेक्स में मदद मिलती है।


इसके अलावा जिम जाकर भी हल्के-फुल्के, व्यायाम बेहतर सेक्स में लाभदायी होते हैं। इन सबमें सबसे अहम सकारात्मक सोच है। गौरतलब है कि सेक्‍स और उम्र का आपस में गहरा ताल्‍लुक है यदि सेक्‍स के दौरान आप तनाव मुक्‍त रहेंगे तभी उम्र भी बढ़ने की संभावना रहती है। यदि आप अच्छा सोंचेंगे तो अच्छा ही महसूस करेंगे


औरतो के संवेदनशील अंग जिन्हें छूने से महिलाये उत्तेजित हो जाती है

औरतो के संवेदनशील अंग जिन्हें छूने से महिलाये उत्तेजित हो जाती है

मैं आपको नारी के शरीर के कुछ ऐसे अंगों के बारे में बताना चाहता हूँ जिन को सहलाने चूमने मसलने से स्त्री को यौनसम्बन्ध बनाने के लिए तैयार किया जा सकता है या यों कहें कि उसे कामोत्तेजित किया जा सकता है।
महिला और पुरुष दोनों के ही शरीर में उत्तेजित करने वाले ऐसे कई अंग होते हैं। ये अंग यौन सम्बन्ध बनाने के लिए उत्तेजित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये अंग अति संवेदनशील होते हैं और इनको छूने मात्र से ही नर या नारी उत्तेजित हो सकते हैं।

इन अंगों को छू कर, सहला कर पुरुष काफ़ी आसानी से अपनी महिला साथी को उत्तेजित कर सकता है। यौन सम्बन्धों में चरम आनन्द की प्राप्ति के लिए इन अंगों के बारे में जानना बहुत जरूरी है।
कान

महिलाओं को उत्ते‍जित करने वाले अंगों में कान का विशेष महत्व है। दरअसल कानों के हर हिस्से में और हर ओर चेतना वाली नसें होती हैं.. जो नारी में सेक्स के प्रति उत्तेजना जागृत करती हैं।
अपनी उंगलियों से अपनी महिला संगिनी के कानों को हल्के से सहलाइए या खींचिये, कान के नीचे की लटकन को चूसिये, कान के पीछे के हिस्से को चूमकर भी आप उनको उत्तेजित कर सकते हैं। कान में फूंक मारने से भी नारी उत्तेजित होती है।
होंठ

होंठ किसी भी महिला के लिए एक बहुत ही बड़ा उत्तेजना जगाने के केन्द्र होते हैं। नारी के लब उत्तेजना पैदा करने वाली रगों से सराबोर होते हैं। पुरुष धीरे-धीरे अपनी साथी महिला के लबों को चूम कर आसानी से उत्तेजित कर सकता है।
दरअसल होंठ सेक्स सम्बन्ध बनाने से पहले की क्रीड़ा के लिए सबसे महत्वपूर्ण अंग हैं। चुम्बन के भिन्न भिन्न तरीकों को आज़मा कर पुरुष अपनी महिला मित्र को रिझा सकते हैं।
गर्दन

गर्दन और गले को चूमना, सहलाना, सौम्य तरीके से काटना और हल्के से थपथपाना उसको सिसकारने पर मज़बूर कर देगा। गला भी महिला को उत्तेजित करने वाला प्रमुख अंग है। पुरुष गर्दन में उंगली से प्यार से सहला कर अपनी महिला दोस्त को आसानी से उत्तेजित कर सकते हैं।
कन्धे

काफ़ी सारी महिलाओं को कन्धों पर चूमना, आलिंगन करना ही काफी हद तक उत्तेजित कर देता है। गर्दन, गले की भान्ति ही कन्धे में काफ़ी संवेदनशील रगें होती हैं जो उत्तेजना को बढ़ाती हैं।
आप प्रेम भरे अन्दाज़ से अपनी साथी के कंधे को चूमकर उसे यौन सम्बन्ध बनाने के लिए तैयार कीजिये।
सिर

सिर भी उत्तेजना को बढ़ाने वाला एक अंग है, सिर पर तेल मालिश करने से महिला उत्तेजित होती है। कई शोधों में भी यह बात सामने आई है कि सिर पर मालिश करने से मानसिक तनाव दूर होता है.. दिमाग में रक्त का संचार अच्छे से होता है और दिमाग को आराम मिलता है, इससे दिमाग़ में सेरोटोनिन और डोपामाइन हारमोन्ज़ का स्राव होता है। ये उत्तेजना बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी है।ब।
घुटने के नीचे

घुटने के नीचे के पैरों के पिछले हिस्से भी स्त्रियों के अति संवदेनशील अंग हैं। इन अंगों पर तेल मालिश करने, चूमने और उंगलियाँ फ़िराने से ही उत्तेजना होती है। तो महिला साथी को उत्तेजित करने के लिए शरीर के अन्य हिस्सों की तरह घुटने के पीछे के भी ध्यान केंद्रित कीजिए।
उंगलियाँ

महिलाओं की उंगलियाँ भी बहुत उत्तेजक होती हैं, लेकिन अकसर लोगों को ध्यान इस तरफ नहीं जाता। उंगलियों के पोरों को हल्के से सहलाते हुए दबाने से नारी में तेजी से उत्तेजना का संचार होता है। उंगलियों को सहलाते हुए उन्हें होंठों से चूम सकते हैं, इससे दोनों प्यार गहरा तो होगा ही.. साथ ही आपकी साथी यौन सम्बन्धों के लिए उत्तेजित भी होगी।
पैरों के तलवे

महिलाओं के पैरों के तलवे बहुत ही संवेदनशील होते हैं, उन पर हाथ फ़िराने, गुदगुदी करने से स्त्रियाँ बहुत जल्दीं उत्तेजित होती हैं। स्त्रियों के पैरों को अपने पैरों से सहलाकर आप उनमें गुदगुदी कर सकते हैं, आपका यह कार्य उनको बहुत भायेगा।
इस गुदगुदी से आपका और आपकी साथी का तनाव भी दूर होगा और यह तरीका आप दोनों को खुश रखेगा।
कुहनी

कुहनी के अन्दर की तरफ चूमने से महिलाओं में हल्की उत्तेजना का संचार होता है। कुहनी के अन्दर के तरफ की त्वचा बहुत कोमल और संवेदनशील होती है। इस जगह हल्के से सहलाते हुए आप इनको चूम सकते हैं, इससे आनन्द की अनुभूति होती है और इससे स्त्री में उत्तेजना बढ़ती है।
हथेलियाँ

यह बात सभी जानते हैं कि हम अपने हाथों से बहुत कुछ कर सकते हैं। आपको शायद यह पता हो कि महिलाओं की हथेलियाँ भी बहुत संवेदनशील होती हैं और उनको हथेलियों को सहला कर आसानी से उत्तेजित किया जा सकता है।
आप अपनी साथी की हथेलियों में अपनी उंगलियों से चुहलबाजी कीजिये, हथेलियों में गुदगुदी कीजिये और हथेलियों को चूमिए।

ये कुछ तरीके आप दोनों को परम सुख दिलवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

आशा करता हूँ कि मेरे बताए तरीकों को आप इस्तेमाल




करके खुद को और अपने साथी को संतुष्ट कर सकेंगे.. धन्यवाद।



सेक्स में संतुष्टि पाने के कुछ अचूक तरीके औरत मर्द दोनों के लिए




क्या आप जानते हैं कि औरत में काम वासना पुरुषों की अपेक्षा आठ गुना ज्यादा होती है। पुरुष तो बहुत जल्दी गरम या उत्तेजित हो जाता है.. लेकिन स्त्री गरम होने में भी समय लेती है और ठंडा होने में भी बिलकुल स्त्री (प्रेस) की तरह होती है। जबकि अस्सी प्रतिशत पुरुष जल्दबाजी में झड़ कर सो जाते हैं और औरत कामाग्नि में जलती तड़पती रह जाती है।

ऐसे में ज्यादातर औरतें हस्तमैथुन का सहारा लेती हैं या फिर उनका पैर फिसल जाता है और वो अपने लिए कोई सेक्स पार्टनर ढूँढ लेती हैं।
तो दोस्तों कैसे औरत की मस्त चुदाई करके उसे ठीक से संतुष्ट किया जाए..?

प्रमुख बात ये है कि आपको और आपके पार्टनर को सेक्स के बारे जानकारियां होनी चाहिए कि सेक्स सफलता पूर्वक कैसे करें।

सेक्स के विभिन्न आसनों का उपयोग कैसे करें और आपके पार्टनर को किस आसान में ज्यादा मज़ा आता और कौन सा ज्यादा रोचक लगता है।

सेक्स करने से पहले एक बार पार्टनर से बात जरूर करें कि हम आज ऐसे-ऐसे चुदाई करेंगे। ज्यादातर लोग ऐसे होते हे- जो बिना बताए और बिना बोले ही दे दनादन लगे रहते हैं.. ना तो उन्हें ये पता रहता है कि पार्टनर को मज़ा आ रहा है या नहीं.. बस वे अपनी धुन में लगे रहते हैं।

1-कभी भी रात का खाना खाने के एकदम बाद सेक्स न करें.. इसमें कम से कम दो घंटे का अन्तराल अवश्य रखें

2-सेक्स के लिए वातावरण खुशनुमा, बिस्तर साफ़-सुथरा और मदमस्त खुशबू वाला होना चाहिए.. साथ ही आपका शरीर भी साफ़-सुथरा होना चाहिए

3-सबसे पहले अपने पार्टनर को चूमें.. सहलाएं.. फिर धीरे-धीरे कपड़े उतार कर ‘फोरप्ले’ में कम से कम बीस मिनट का समय लगाएं..। महिला साथी के स्तनों का मर्दन करें.. चूचुकों को चूसें.. हाथ से दबाएँ.. मुँह से हल्का सा काटें.. होंठों को चूमें.. उसके कान की लौ (लटकन) को होंठों के बीच दबाएँ.. प्यूबिक एरिया को सहलाएं.. चूत को सहलाएं और फिर उसमें ऊँगली डाल दें। मतलब ज़रा भी जल्दबाजी न करके फोरप्ले में पूरा टाइम दें और साथ-साथ आपके दोनों हाथ.. होंठ चलते रहें साथ ही पैरों से उसके पैर और जांघें सहलाएं।
4-औरत के कुछ खास अंग होते हैं जिन्हें सहलाने से वो कामातुर हो जाती है उसकी योनि बहुत गीली हो जाती है। वो अंग हैं.. उसके होंठ.. कान की लौ.. चूचुक.. pubic एरिया.. भगनासा आदि.. इन संवेदनशील अंगों को आप जितना प्यार देंगे.. औरत उतना कामातुर हो जाएगी।

5-अब बात करते हैं भगनासा की.. बहुत से लोग इसके बारे में जानते ही नहीं हैं। यह योनि के दोनों होंठ के ऊपर जुडी हुई एक गांठ जैसी होती है। इसके विषय में कहा जाता है.. कि यह स्त्री का अविकसित लिंग होता है। तो भगनासा को हाथ से मर्दन करो.. जीभ से चाटो.. होंठों से धीरे-धीरे काटो.. चूसो.. फिर देखो कैसे आपका सेक्स पार्टनर सेक्स के लिए पागल और आपका दीवाना हो जाएगा।

6-अब बात करते हैं चूत को चाटने की.. बहुत से लोग ऐसा करने से कतराते हैं.. लेकिन अगर आपके सेक्स पार्टनर को कोई योनि रोग नहीं है.. तो आपको इसका मज़ा जरूर लेना चाहिए। यकीन मानिए आपको बहुत आनन्द मिलेगा और आप से ज्यादा आपके सेक्स पार्टनर को मजा आएगा।

7-तो दोस्तो.. इतना सब करने में आपको 20 से 30 मिनट लग जायेंगे.. अब आप अपना खड़ा लिंग या लंड योनि में डाल सकते हैं। पहले धीरे-धीरे धक्के लगायें.. फिर जोर से शुरू हो जायें.. आपका सेक्स पार्टनर की योनि आपको इतनी गीली मिलेगी कि आपको किसी क्रीम या आयल की जरूरत नहीं पड़ेगी। फिर भी यदि आपके सेक्स पार्टनर की उम्र ज्यादा है.. तो आप क्रीम या अपनी थूक का इस्तेमाल कर सकते हैं… लेकिन आयल का इस्तेमाल न करें.. तो अच्छा है क्यूंकि इससे आपका जल्दी Discharge होने का डर रहता है। कभी भी अपने लिंग की sucking उसके मुँह में देकर ना करवाएं… शौक के लिए एक या दो मिनट ऐसा कर सकते हैं.. लेकिन इससे ज्यादा देर नहीं.. क्यूंकि इससे आप जल्दी झड़ सकते हैं।

8-जब भी आपको लगे आपका Discharge होने वाला है.. अपना लिंग बाहर निकल लें और थोड़ी देर उसके स्तनों का मर्दन.. घर्षण.. चूत की चटाई.. चूचुकों की चटाई करें और फिर लिंग को योनि में डाल कर फिर शुरू हो जायें। यकीन मानें आपका Discharge का टाइम बहुत बढ़ जाएगा और दोनों को बहुत मज़ा आएगा

9-माल निकालने के बाद दूसरी तरफ मुँह करके ना सो जायें.. वरना आपका सेक्स पार्टनर आपसे नफरत करने लगेगा। फारिग होने के बाद उसके स्तनों पर सर रख के उसके अंगों को धीरे-धीरे सहलाएं.. उसकी तारीफ करें.. या फिर उसका सर अपने सीने पर रख कर बालों में उँगलियाँ फेरें। उसके स्तन.. चूत को सहलाएं और ऐसे ही सो जायें या फिर एक बार और सेक्स का आनन्द लें।

10-कभी-कभी पूरी रात एक-दूसरे की बाँहों में बिलकुल नग्न होकर सोने का भी अलग ही मज़ा है.. हमेशा नहीं.. तो कभी-कभी ऐसा जरूर करें।

11-कभी भी सेक्स के एकदम बाद अपने लिंग को पानी से ना धोएं इससे आपके लिंग की नसें कमजोर हो सकती हैं।

12-सेक्स के फ़ौरन बाद कभी पानी ना पिएं.. बल्कि दूध.. मेवा.. मिठाई का सेवन करें।

इन सब नियमों का पालन करके आप अपने सेक्स पार्टनर को पूरी तरह खुश और संतुष्ट करके अपना गुलाम बना सकते हैं।
अच्छी चुदाई के फायदे

चुदाई करने की इच्छा सभी को होती है..

बिना चुदे चूत में खाज आती है और बिना चोदे लंड बेकार हो जाता है।

आज हम चुदाई के फ़ायदे जानने की कोशिश करेंगे।
चुदाई के फ़ायदे को हम निम्न भागों में बाँट लेते हैं।


3)सामाजिक फ़ायदा
-

*नियमित रूप से चुदवाने से मासिक धर्म ठीक वक्त पर आता है।

*अगर मर्द चुदाई के समय अच्छे-अच्छे आसान इस्तेमाल करें तो समझिए, पूरे जिस्म का व्यायाम हो गया।

* लंड मोटा ओर लंबा हो तो चूत के अन्दर जा कर पूरी चूत की अच्छी तरीके से सफाई कर देता है।

* रोज चुदवाने से डॉक्टर से आप दूर रह सकते हैं.. आपका स्वास्थ भी मस्त रहेगा..।
2)Medical Benefits:-

* चुदाई से बॉडी की एक्स्ट्रा कैलोरी कम होती है, इससे आपका शरीर फिट रहता है।

* अच्छी चुदाई से मानसिक तनाव दूर होता है।

* चुदाई जोरदार हो तो उससे साथी के साथ लगाव ज्यादा होता है।

* डॉक्टर कहते हैं कि चुदाई से Hormone Estrogen Produce होता है.. जो कि बालों और त्वचा के लिए फायदेमंद है।

* चुदाई के बाद नींद काफी अच्छी आती है, सुबह आप बिल्कुल ताजादम उठेंगे..।
3)सामाजिक फ़ायदा-

* अच्छी तरह चुदाई के बाद कुछ समय तक मर्द की इच्छा सेक्स के प्रति नहीं रहती.. अत: अच्छी चुदाई के बाद बलात्कार जैसे घिनौने कुकर्म से छुटकारा मिल सकता है।

* चुदाई के समय कुछ खाया-पिया नहीं जाता.. लंबे फोरप्ले के बाद जोरदार चुदाई.. मतलब चुदाई करते रहो.. इससे देश का खाद्यान बचाते रहो।

* अच्छी तरह चुदाई करने वाले नवयुवक गांडू (गे) नहीं होते.. आदर्श समाज के लिए ये जरूरी है।

*भारत मैं अधिकतर चुदाई अंधरे में और घर में ही होती है.. जिससे बिजली और पेट्रोल की बचत होती है और बिजली और पेट्रोल की बचत ही इसका उत्पादन है।

* अधिकतर लोग चुदाई करते समय मोबइल फोन को ऑफ कर देते हैं.. इससे सेलफोन से होने वाले दुष्प्रभावों से कुछ समय के लिए मुक्ति मिल जाती है।

* चुदाई के समय अच्छे-अच्छे वादे किए जाते हैं.. जिसे लोग निभाने की भी कोशिश करते हैं।
तो दोस्तों आप एक बार ये सभी बातों को अपनी सेक्स लाइफ में अमल करके देखिये। फिर देखिये आप पहले से कितना फर्क महसूस करोगे।

अगर आप इन सभी अच्छी आदतों को अपनाते हो.. तो आपको सेक्स का भरपूर मज़ा मिलेगा और आपको काम-क्रीड़ा में सन्तुष्टि जरूर मिलेगी।

आशा है ये पोस्ट आपको जरूर पसंद आई होगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.