Header Ads

पहली बार सेक्स करने के बेस्ट सेक्स पोजिशन


पहली बार सेक्स करने के बेस्ट सेक्स पोजिशन
पहली बार या फर्स्ट टाइम सेक्स विशेष या स्पेशल होनी चाहिए क्यूंकि अंततः आप अपने सपनो के पार्टनर के साथ नए जीवन का अनुभव करने के लिए तैयार हो चुके है | चाहे यह आपकी सुहागरात हो या नहीं हो, फर्स्ट टाइम सेक्स का अनुभव ज़िन्दगी भर आपको सुखमय आनंद की अनुभूति दे सकता है| अगर आपको डर इस बात का है आपका अनाड़ीपन या अनुभव की कमी इस अनमोल या अमूल्य मिलन को ख़राब ना कर दे तो हम आपके लिए ले कर आये ऐसे कुछ ख़ास सेक्स पोजीशन जिसमे आप और आपके पार्टनर इस पहली बार के सेक्स के अनुभव को हमेशा याद रख पायेंगे |


1) मिशनरी सेक्स पोजीशन
जब आप पहली बार सेक्स करते है तो बेहतर होगा की आप आराम से और धीरे धीरे कामुक माहौल बना कर पेनीट्रेट वाले अवस्था में पहुचे और अधिक से अधिक समय फोरप्ले में बिताये| जब आप और आपकी पार्टनर हो गए हो, अपनी पार्टनर को पीठ के बल पर लिटाये और उनके पैर को ऊपर की तरफ उठाए और तत्पश्चात अपनी पार्टनर को पेनीट्रेट करे और जूनून को आगे बढने दे| एक ताल के साथ आप आगे पीछे हो कर झटके दे और याद रखे कि अगर आपको इसे यादगार बनाना है तो कोई भी जल्दबाजी ना दिखाए और अपने हांथो से अपने पार्टनर के शरीर के अन्य हिस्सों , जैसे बूब्स, क्लिटोरिस को धीरे धीरे अच्छे से सहला कर अपने पार्टनर को अधिक से अधिक उतेजित करके उन्हें ओर्गास्म दिलाने की कोशिश करे |यह पोजीशन उन पुरुषो के लिए है जो कंट्रोल अपने हाँथ में रखना चाहते है और सेक्स पेस को अपने अनुसार सेट करना चाहते है | इस पोजीशन में डीप प्रवेश की संभावना होती है और इस पोजीशन की सबसे अच्छी बात है यह कि इसमें पुरुष और महिला के शरीर आपस में बात कर सकते है

2) गर्ल ऑन टॉप सेक्स पोजीशन
पुरुषो को सबसे ज्यादा पसंद आने वाले सेक्स पोजीशन में एक है और इस पोजीशन का नाम आते ही पुरुष उतेजित हो जाते है | इस पोजीशन में महिला पार्टनर अपने पुरुष पार्टनर के ऊपर होती है और जिसके कारण लिंग योनी के अन्दर पूरी तरह से समा जाता है और दोनों के लिए असीम आनंद का अनुभव होता है | पुरुष इस पोजीशन में महिला पार्टनर के शरीर( स्तन और क्लिटोरिस ) को उतेजित करके उन्हें ओर्गास्म दिलवा सकते है|

3) 69 सेक्स पोजीशन
इस पोजीशन में पुरुष और महिला दोनों अपने मुह और जीभ का इस्तेमाल करते है और इसमें penetrative सेक्स की जगह ओरल सेक्स होता है | इस पोजीशन में दोनों पार्टनर्स अपने अपने मुह से दुसरे पार्टनर के सेक्स ऑर्गन को उतेजित करते है | इस पोजीशन में पुरुष अपने जीभ और ऊँगली से वेजाइना और क्लिटोरिस के साथ खेलते है जबकि महिला अपने मुह और जीभ से पुरुष के लिंग को उतेजित करती है | इस पोजीशन में दोनों पार्टनर्स को ओर्गास्म प्राप्ति की संभावना बराबर होती है तभी इसे सबसे बेहतर सेक्स पोजीशन माना जाता है

4) सॉफ्ट रॉक सेक्स पोजीशन
सॉफ्ट रॉक सेक्स पोजीशन नार्मल मिशनरी सेक्स पोजीशन में कष्टदायक बदलाव है | जब आप अपने पार्टनर के ऊपर हो तो अपनी कोहनी पर आराम करने की जगह 2 से 4 इंच आगे की ओर स्लाइड करे और अपने हथेली को अपने पार्टनर्स के कंधे पर रखे और अपने शरीर को अपनी पार्टनर के शरीर पर फ्लैट गिरा दे और यह निश्चित करे कि आप दोनों के रीढ़ की हड्डी एक दम सीधी हो | जब आपके पैर आपकी पार्टनर के पैरो को टच कर रहे हो, अपनी पार्टनर को बोले की अपने पेल्विस से 2 इंच का धक्का दे और आराम से अपने पार्टनर के अंदर प्रवेश करे और मिशनरी सेक्स पोजीशन की तरह अंदर बाहर धक्के मारने की जगह ऊपर नीचे का धक्का लगाये |

5) टोर्रिड ट्रायंगल सेक्स पोजीशन
पहली नज़र में सामान्य मिशनरी सेक्स पोजीशन ही लगता है मगर इसमें गुप्त महानगरीय बदलाव है| इस सेक्स पोजीशन में आप अपने दोनों हांथो और पैरो पर ऊपर उठ कर रहे और अपनी पार्टनर को बोले कि अपनी पेल्विस को उठा कर अपनी योनि के अंदर आपके पेनिस को ले| इस पोजीशन में आपको शांत एक जगह पर रहना है और आपकी पार्टनर आपके लिंग को अपनी योनि के अंदर बाहर करके माहौल कर गर्म कर रही है |

6) ड्रैगन सेक्स पोजीशन
अपनी पार्टनर को उनके हांथो को उनके सर के ऊपर उठाकर लेटने को कहे और उनके प्यूबिक बोन (जघन हड्डी) के नीचे एक या दो तकिया रख कर उनके पैर फैला दे और अपने शरीर को अपनी पार्टनर के शरीर के उपर फैला दे और अपने जननांग को उनके जननांग में प्रवेश करवाए| इस पोजीशन में पीछे से जोर जोर से धक्का मारने की जगह घूमता हुआ सर्किल में धक्का दे|

7) डॉगी सेक्स पोजीशन

जिन पुरुषो को पोर्न देखने की आदत है, उन्हें डॉगी पोजीशन बहुत भाता है और इसमें पुरुष महिला पार्टनर के पीछे से प्रवेश करता है | इस पोजीशन का फायदा यह है कि इसमें सम्भोग के साथ साथ पुरुष महिला के शरीर के अन्य हिस्सों ( नितम्ब , निप्पल, क्लिटोरिस , बाल आदि ) के साथ खेल कर उन्हें अधिक उतेजना प्रदान कर सकते है

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.