Header Ads

गर्भावस्था में पैरों में दर्द और ऐंठन की समस्या

गर्भावस्था में पैरों में दर्द और ऐंठन की समस्या



गर्भावस्था में पैरों में दर्द और ऐंठन की समस्या
गर्भावस्था जहां किसी महिला के लिए बहुत सुखद अनुभव होता है। वहीं इस दौरान गर्भवती महिला को बहुत सी परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। क्योंकि शरीर में बहुत तेजी से हार्मोनल बदलाव होते है, इसके कारण आपको उल्टी आना, मन मचलना, बहुत जल्दी थक जाना, गंध से एलर्जी होना, शरीर के अंगो में दर्द का अनुभव होना, पैरों में दर्द और ऐंठन व् अन्य परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

ज्यादातर इस परेशानी का अनुभव महिलाओ को प्रेगनेंसी के आखिरी दिनों में होता है क्योंकि शरीर का वजन अधिक हो जाता है। इसके अलावा और भी कई कारण हो सकते है जिसके कारण यह परेशानी होती है। लेकिन इस समस्या के समाधान के लिए आप उपाय भी कर सकते है। तो आइये विस्तार से जानते है की पैरों में दर्द और ऐंठन के क्या कारण हो सकते है और इससे बचने के लिए आप क्या कर सकते है।
गर्भावस्था के दौरान पैरों में दर्द और ऐंठन होने के कारण:-

https://healthtoday7.blogspot.in/
१. शरीर का वजन अधिक होने के कारण।
२. जैसे जैसे गर्भाशय का आकार बढ़ता है वैसे वैसे रक्त स्थानांतरित करने वाली नसों पर दबाव पड़ने के कारण।
३. भोजन में कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा की कमी होने के कारण।
४. धमनियों के पतले होने के कारण।
५. प्रोजेस्ट्रोन हॉर्मोन की मात्रा अधिक होने के कारण।
गर्भावस्था में पैरों में दर्द और ऐंठन की समस्या से राहत पाने के उपाय:-
कैल्शियम युक्त आहार का सेवन करें:-

कैल्शियम शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाने में आपकी मदद करता है। और प्रेगनेंसी के दौरान पैरों में दर्द व् ऐंठन होने का एक कारण आपके भोजन में कैल्शियम की कमी भी हो सकता है। इसीलिए इससे बचने के लिए आपको अपने भोजन में कैल्शियम की मात्रा को बढ़ाना चाहिए।
हॉट पैड का इस्तेमाल करें:-

पैरों में होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए आप हॉट पैड का इस्तेमाल भी कर सकते है। इससे आपकी नसों को आराम मिलता है। और ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर होने में मदद मिलती है।
मसाज करें:-

सरसों के तेल या अन्य किसी भी तेल को हल्का गुनगुना करके अच्छे से अपने पैरों की मसाज करें। इससे रक्त संचार बेहतर होगा और आपको पैरों में होने वाली ऐंठन की समस्या से राहत पाने में मदद मिलेगी।
पानी का भरपूर सेवन करें:-
पानी की कमी होने पर भी आपको इस परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। और गर्भवती महिला के शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए क्योंकि इसके साथ और भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसीलिए इससे बचने के लिए गर्भावस्था में पानी का भरपूर सेवन करना चाहिए।
पोटैशियम और मैग्नीशियम का भरपूर सेवन करें:-

शरीर में खनिज लवणों की कमी होने पर प्रेगनेंसी के दौरान महिला को इस समस्या के कारण परेशान होना पड़ सकता है। इसीलिए महिला को अपने आहार का ख़ास ध्यान रखना चाहिए और थोड़े थोड़े समय बाद कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए। नट्स, बीन्स, साबुत अनाज वाली ब्रेड, फल, आदि का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।
व्यायाम करें:-

व्यायाम करने से भी आपको प्रेगनेंसी के समय होने वाली पैरों में दर्द व् ऐंठन की समस्या से राहत मिल सकती है। लेकिन व्यायाम करते समय इस बात का ध्यान रखें की अपने शरीर पर ज्यादा जोर न डालें, हल्का फुल्का व्यायाम करें इससे भी आपके शरीर में https://healthtoday7.blogspot.in/ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर होने में मदद मिलती है।
गर्म पानी का इस्तेमाल करें:-

रात को सोने से पहले हलके गरम पानी में अपने पैरों को रखें और उसके बाद अपने पैरों को तोलिये में लपेट कर रखें। इससे भी आपके पैरों को आराम महसूस होगा और आपको इस समस्या से निजात पाने में मदद मिलेगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.