Header Ads

वजन कम करने के लिए सीढ़ियाँ चढ़े

वजन कम करने के लिए सीढ़ियाँ चढ़े
 Weight loss like Liye nuskhe Hindi


अगर आपके पास पैदल चलने का समय है तो सीढि़या चढ़ने का समय भी निकाले। यहाँ 6 कारण दिए जा रहे कि सीढ़ियाँ चढ़ना क्यों लाभदायक है। Read Weight loss ke liye nuskhe hindi
Climb Stairs to Reduce Weight in Hindi
Weight loss ke liye nuskhe hindi
सीढ़ियाँ चढ़ने पर केलोरी की खपत पैदल चढ़ने से ज्यादा होती है, क्योंकि आप ग्रैविटी के खिलाफ काम करते है।
सीढ़ियाँ चढने से नीचे की कमर तथा जाँघो पर दबाव पड़ता है इसलिए अगर आप वजन कम करना चाहते है तो औरतो को अपने शरीर का फैट कम करने के लिए सीढि़यो का प्रयोग करना चाहिए।
सीढ़ियाँ चढ़ने से शरीर के ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है नीचले शरीर से हार्ट तक ब्लड को पहुचाने में मदद करता है।
सीढ़ियाँ चढ़ने से केलोरी खर्च होती है ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहता है। पाचन प्रक्रिया में सुधार होता है तथा कब्ज की समस्या नहीं होती है।
30 कदम सीढ़ियाँ चढ़ने से 10 केलोरी कम होती है। सम्पूर्ण स्वास्थ्य ठीक रहता है।अपने लक्ष्य को पाने के लिए जल्दी न करे, एक-एक कदम उठाए। यह आपकी सेहत के लिये बहुत लाभदायक सिद्ध होगा, सारे स्टेप एक साथ करने से आपको थकान होगी तथा चोट भी लग सकती है।
सीढ़ियों पर चढ़ना एक बेहतरीन कसरत है जिससे आपको कई सेहत से संबंधित समस्याओं से भी दूर रखता है।


वेट लोस के लिए कैसे चढे सीढियाँ Weight loss Karne Ke gharelu upay Hindi



सीढि़यां चढ़ने से आपका हार्ट और फेफड़ें, दोनों स्‍वस्‍थ और सुरक्षित रहते है। इससे ज्‍यादा से ज्‍यादा ऑक्‍सीजन की मात्रा शरीर में पहुचने से दिल की धड़कन सही रहती है। ऑक्‍सीजन सही मात्रा में पहुंचने से बॉडी में ब्‍लड़ सर्कुलेशन अच्छा होता है और आपको अच्‍छा महसूस करोगे। अगर आप स्वास्थ्य लाभ के लिए सीढ़ियाँ चढ़ने की योजना बना रहे है तो यह कदम उठाए। Read Weight loss karne ke gharelu upay hindi

Climb Stairs for Weight Loss in Hindi
Weight loss karne ke gharelu upay hindi
अपनी फिटनेस के स्तर की जाँचने के लिए शुरूआत में केवल दो बार सीढ़ियाँ चढ़े, अगर आप इस अभ्यास से निश्चित हो जाएं तभी इसे करते रहे।
शुरूआत धीरे-धीरे करे और एक-एक स्टेप आगे बढ़ाते जांए। जल्दी खत्म करने के चक्कर में दो सीढ़ियाँ एक साथ न चढ़े।
सीढ़ियाँ चढ़ते समय साँस लेते रहे, दो सीढ़ियाँ (स्टेप) चढ़ने पर एक बार साँस ले।
सीढ़ियाँ चढ़ते समय अपने पाँवो का ख्याल रखे।
सीढ़ियाँ चढ़ते समय आप कोई सहारा ले सकते है। अगर सीढ़ियाँ चढ़ते समय आपको बेचेनी व साँस लेने में परेशानी महसूस हो तो आप तुरन्त रूक जाएं एवं किसी की सहायता ले।
अगर आप 70 वर्ष से अधिक उम्र के है और आपको घुटनो तथा कुल्हो में दर्द की समस्या हैं एवं थोड़ी सी सीढ़ियाँ चढ़ने से ही आपको थकान महसूस हो तो सीढ़ियाँ न चढ़े यह अधिक उम्र के व्यक्तियों के लिए ठीक नही है। 
अगर आप गर्भवती है तो बिना डॉक्टर की सलाह के ये नहीं करे।
अगर आप हृदय रोगी है एवं हृदय की सर्जरी करवाई हो।
अगर आपको स्वास्थ्य संबंधित कोई समस्या है
अगर आपको श्वास संबंधित समस्या हो।
अगर डॉक्टर ने आपको ऐसा करने से मना किया हो।
अगर आपके घुटनों की सर्जरी हुई है तथा घुटनों का प्रत्यारोपण किया है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.