Header Ads

पेट दर्द को पल भर में दूर करेंगें यें 3 घरेलू नूस्‍खें


पेट दर्द को पल भर में दूर करेंगें यें 3 घरेलू नूस्‍खें


हेल्‍थ डेस्‍क। मौसम के निरंतर बदलाव और दूषित खानपान की वजह से आज कई रोग असयम आमजन पर हावी होने लगे हैं। गर्मी के मौसम में ज्‍यादातर समस्‍याएं पेट से जूडी होती हैं। पेट से जूडी समस्‍याओं में तेज दर्द कभी भी हो सकता हैं। ये दर्द अग्रेंजी दवाईयों से कुछ देर के लिए तो गायब हो जाता हैं मगर पूरी तरह खत्‍म नही हो पाता हैं। बिगडती लाइफस्‍टाइल की वजह से होने वाले आकस्मिक पेट दर्द को कुछ घरेलू नूस्‍खों के द्वारा जड से खत्‍म किया जा सकता हैं। आईये जानते हैं इन उपायें के बारें में-



तुलसी

तुलसी को आयुर्वेद में अमृत का दर्जा प्राप्‍त हैं। अगर आपके पेट में आकस्मिक रूप से तेज दर्द होने लगा हैं तो तुलसी इसमें बेहद फायदेमंद हैं। तुलसी से तैयार किया गया काढा भी पेट से जूडी समस्‍याओं को दूर करता हैं। पेट के दर्द को खत्‍म करने के लिए 1 चम्मच तुलसी के रस का सेवन करें। इसके अलावा अगर आप कब्‍ज या दस्‍त से परेशान हैं तो इसके पत्‍तो का काढा आपके लिए बेहद गुणकारी साबित हो सकता हैं।



त्रिफला

आमतौर पर पेट की समस्‍याएं बाहर के खाने की वजह से और फास्‍ट फूड की अनियमित सेवन से ज्‍यादा होने लगी हैं। आयुर्वेद में त्रिफला को रामबाण औषधी के रूप में जाना जाता हैं। अगर आप पेट की समस्‍याओं को दूर क‍रना चाहते हैं तो 60 ग्राम चीनी में 100 ग्राम त्रिफला का चूर्ण मिक्‍स करें और कम से कम दिन में दो बार सेवन करें।



सौंफ

गर्मी की वजह से कई बार पेट में काफी समस्‍याएं होने लगती हैं, इन समस्‍याओं को दूर करने के लिए सौंफ एक बेहतरीन विकल्‍प हैं। अगर आप अपच और कफ से परेशान हैं तो सौंफ के उबले पानी को ठंडा करके पीना चाहिए। इसके अलावा सौंफ को भूनकर खाने से पेट दर्द खत्‍म होता हैं।


इन फ्री के नुस्‍खों से करें एसिडिटी को दूर


हेल्‍थ डेस्‍क। आमतौर पर पेट होने वाली एसिडिटी का प्रमुख कारण असंयमित खान-पान और अनियमित दिनचर्या को माना गया हैं। अनजाने में कई बार पेट में बनने वाली एसिडिटी को लगातार अवॉइड करके आप कई दूसरी बिमारियों को बढावा दे देते हैं। एसिडिटी से रेजर ब्‍लेड गलने लगते हैं जो काफी खतरनाक साबित हो सकता हैं। इस समस्‍या से छूटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू नुस्‍खों को आजमा सकते हैं। ये नुस्‍खें काफी सस्‍ते होते हैं। कई बार बाजार की मसालेदार चीजों से भी ये समस्‍या पनपने लगती हैं। आइए जानते हैं इससे छूटकारा दिलाने वाले कुछ घरेलू उपाय के बारें में-




एसिडिटी की समस्‍या से छूटकारा पाने के लिए सबसे पहले नीम की छाल का चूर्ण बना लें और रात में भिगो दें। अब सूबह उठकर इस पानी को छानकर पीना चाहिए। इसके अलावा मुलेठी का चूर्ण भी इस समस्‍या में रामबाण दवा की तरह काम करता हैं।




अगर आप एसिडिटी की समस्‍या से ज्‍यादा परेशान हैं तो त्रिफला चूर्ण का सेवन नियमित तौर पर करें। अगर आप दूध के साथ त्रिफला का सेवन करते हैं तो एसिडिटी जड से खत्‍म होने लगती है। इसके अलावा एसिडिटी ठीक करने के लिए मुनक्का को दूध में डालकर उबाल लें और इसे ठंडा करके सेवन करें।




एसिडिटी की समस्‍या से निजात पाने के लिए थोड़ी सी पिसी हुई काली मिर्च को एक गिलास गुनगुने पानी में मिलायें और इसमें आधा नींबू निचोड़ लें। अब अलसुबह इसका नियमित तौर पर सेवन करें। इसके अलावा इस समस्‍या में सौंफ, आंवला व गुलाब के फूलों का चूर्ण भी काफी फायदेंमंद होता हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.