Header Ads

आई हैल्थ बिगाड़ती आदतें


आई हैल्थ बिगाड़ती आदतें
Healths Is Wealth

हमारी आँखे तब तक निरंतर काम करती रहती है जब तक हम सोए नहीं जाते है। इतना काम करने के बाद भी क्या हम अपनी आँखों को उतना महत्त्व देते है जितना हमें देना चाहिए। आइयें जानते है कुछ ऐसी आदतों को जो हमारी आँखों की हैल्थ को बिगाड़ने का काम करती है। 
Healths Is Wealth

आई लेंस जहाँ आँखों को चश्मे से निजात दिलाती है मगर क्या आप इन्हे रात में सोने से पहले निकाल कर आई सलूशन में डालते है। यदि नहीं तो आप खुद अपनी आँखों को नुकसान पहुंचा रहें है। 
एक्सपायर्ड ऑय लेंस को प्रयोग करना एक ऐसी आदत है जिसकी जानकारी होने के बाद भी हम इसमें सुधार नहीं लाते है। 
आँखों में इन्फेक्शन होने पर बिना डॉक्टर से पूछे किसी भी प्रकार के आई ड्राप का प्रयोग भी इसी क्ष्रेणी में आता है। 
आई टेस्ट न कराना, हम सब की सबसे बुरी आदत है। जिसके कारण समय पर आँखों का इलाज नहीं हो पाता है और आँखों का स्वास्थ्य बिगड़ जाता है। 
ख़राब या एक्सपायर आई मेकअप का प्रयोग भी आँखों को नुकसान पंहुचा सकता है। 
आँखों को बिना रेस्ट दिए दिन रात इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस पर आँखे गड़ाए रहने पर आँखे थक जाती है ऐसे में यदि आप आँखों को आराम नहीं देंगे तो आँखे कमजोर होंगी। 
रात में बिना आई मेकअप उतारे सोना भी आँखों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालती है।

बारिश में आँखों का रखे विशेष ख्याल


Healths Is Wealth


जब भी मानसून का मौसम आता है तो मन खुश हो जाता है, गर्मी से निजात, रिमझिम फुहारों से खुशगवार मौसम, बारिश की छटा ही निराली होती है। लेकिन मानसून के सीजन में आखों की विशेष देखभाल भी जरूरी होती है। तरह तरह के आँखों के संक्रमण इस ही मौसम में पनपते है। बच्चें एवं स्कूल कालेज जाने वाले छात्रों को विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि उनमें ही संक्रमण अधिक फैलता है।

कन्जकटीवाईटिस ( नेत्रशोथ)
आँखों का सफेदी वाला भाग एवं पलक का अन्दरूनी भाग कन्जकटीवा कहलाता है। आंख के इस भाग में जलन, लाली और सूजन होने को कन्जकटीवाईटिस या नेत्रशोथ कहते है । इसके मुख्य कारण है इन्फेक्शन और एलर्जी, इस मौसम में आने वाले वायरल बुखार जो शरीर की प्रतिरोघक क्षमता को कम कर देते है उसकी वजह से भी नेत्रशोथ हो जाता है। इस मौसम में सबसे ज्यादा फैलने वाली आम बीमारी यही है। कन्जकटीवाईटिस का संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है। आँखों को सबसे अधिक कन्जकटीवाईटिस से ही बचाने की जरूरत होती है। 

स्टाई (अंजनयारी या गुहेरी) स्टाई पलको के आसपास लाली लिए हुए आई सूजन को कहते है। इसमें पस (मवाद ) बन जाता है और पस के पूरी तरह साफ होने पर ही ठीक होती है। इसके होने का मुख्य कारण बिना धूले हाथों से आँखों को रगड़ना एंव बेक्टिरिया है। ये बिमारी भी इस मौसम में आम है।

ड्राईनेस ऑफ़ आई (शुष्क आखें)
आखों में ड्राइनेस आना इस मौसम में आम बात है आँखों में जलन चुभन और पानी आना इसके मुख्य लक्ष्ण है। 

स्वीमिंग पूल इन्फेक्शन इस मौसम में स्वीमिंग पूल में तैरने से भी बहुत इंफेक्शन फैलता है 

इनमें से किसी भी तरह की समस्या होने पर तुरन्त नेत्र विशेषज्ञ से समर्पक करे। एवं इलाज शुरू करवाये। नेत्र विशेषज्ञ की सलाहों का अनुपालन करें। स्वयं डाक्टर बनने का प्रयास न करे एवं बिना डाक्टरी सलाह के कोई दवाई या ड्राप का प्रयोग कतई ना करे। ये आपकी आँखों के लिये घातक हो सकता है। 

इस मौसम में आप कुछ बातों का ध्यान रख के नेत्र समस्याओं से बच सकते है।- साफ सफाई का ध्यान रखे। 
- बिना धुले हाथों से आखों को ना छूएं।
- अपना तौलिया रूमाल एवं साबुन आदि किसी के साथ शेयर न करें।
- धुआं धूल प्रदूषण तथा तेज घूप एवं रोशनी से आँखों को बचा कर रखें।
- घर से बाहर निकलने पर अच्छे सनग्लासेज का प्रयोग करे।
- कन्जकटीवाईटिस या नेत्रशोथ के संक्रमण के समय भीड़भाड़ वाली जगह पर ना जाए। 

काले घेरे / काले घेरों के लिए घरेलू उपचार – आंखों के नीचे डार्क सर्कल को ऐसे हटाएँ

Healths Is Wealth
काले घेरे उन काले दागों को कहते हैं जो लोगों की आँखों के नीचे उभरते हैं। इनके होने का मुख्य कारण तनाव या आँखों का ज़रुरत से ज्यादा कंप्यूटर या टीवी (Computer or TV) के संपर्क में आना है। कई लोगों की आँखों के नीचे काले धब्बे आनुवांशिक कारणों से आते हैं। कई बार अस्वास्थ्यकर भोजन की वजह से भी लोगों को इनका सामना करना पड़ता है। नीचे इनसे बचने के कुछ उपाय दिए जा रहे हैं।

Healths Is Wealth
आँखों के नीचे काले घेरो के कारण आपकी उम्र और सुन्दरता पर असर पड़ता है कई लोगो के सामने काले घेरे सुन्दरता के लिए समस्या में से एक है आँखों के आसपास काले घेरे चेहरे के लिए दाग है। काले घेरे का उपाय –
काले घेरे के कारण (The Reasons for dark circles)

नाक बंद (Nasal congestion)
क्या आप रात के समय खर्राटे लेते है? क्या आप अस्थमा के मरीज है या सबसे आम कारण साँस लेने में समस्या हो रही है । साँस लेने की समस्याओ का इलाज करे।

अनुचित आहार (Improper diet)
आंखों के नीचे काले घेरे ऐसे करें दूर, अनुचित आहार से त्वचा में वसा और कोलेजन में कमी हो जाती है तो उसके लिए वसा और विटामिन युक्त भोजन ले।

अनुवांशिकता (Heredity)
आँखों की पलकों के नीचे की त्वचा पतली है तो रक्त वाहिकाए नही जा सकती जिससे आँखों के नीचे की त्वचा पर काले घेरे पड़ जाते है तनाव और चिंता भी काले घेरे का कारण हो सकता है।

त्वचा पर झाई पड़ना (Skin pigmentation)
आँखों के नीचे की त्वचा की मृत कोशिकाओ को दूर करने के लिए सामान्य स्क्रब्स का प्रयोग करे आँखों के नीचे त्वचा के रंग को हल्का करने के लिए नींबू लगाये या काले घेरे पर विटामिन ई का तेल भी लगा सकते है। इससे त्वचा पर झाई पड़ना दूर हो जाता है।
काले घेरे के लिए घरेलू उपचार (Home remedies for dark circles)
एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच टमाटर का रस और एक बड़ा चम्मच नींबू का रस ले अब उन्हें अच्छी तरह से मिला ले उसके बाद इसे चेहरे पर लगाये और रुई की मदद से इसे साफ़ करे दिन में दो बार इस प्रयोग को करे।
रात को 7-8 बादाम पानी में भिगो दे और सुबह जल्दी उठकर उसे पीस ले अब उसमे एक बड़ा चम्मच दूध का मिला ले उसके बाद इस पेस्ट को काले घेरे पर लगाये 15 दिन नियमित रूप से इस प्रयोग को करेंगे तो आँखों के नीचे के काले घेरे कम हो जायेंगे।
कुछ पुदीने की पत्तिया ले और उन्हें पीस कर इसका पेस्ट बना ले अब इसमें एक बड़ा चम्मच नींबू का रस मिलाये उसके बाद काले घेरे पर इसे लगाये काले घेरे कम हो जायेंगे।
इस प्रयोग को भी आप 15 दिन नियमित रूप से करे। (Ways to remove dark circles naturally)
एक कटोरी में एक बड़ा चम्मच ककड़ी का रस और एक बड़ा चम्मच नींबू का रस ले इसे अच्छी तरह से मिला ले फिर इस मिश्रण को काले घेरे पर लगा ले 15 मिनिट बाद इसे धो ले 20 दिन इस प्रयोग को नियमित करे।
एक कटोरी में 1 बड़ा चम्मच नींबू के रस में एक चुटकी हल्दी मिलाये और अच्छी तरह से मिला ले और रुई की मदद से काले घेरे पर लगा ले।
एक कटोरी में एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच नीबू के रस को अच्छी तरह से मिला ले अब इसे आंखों के नीचे के काले घेरे पर लगा ले।
आलू और खीरे के स्लाइस काटे और इसे अपनी आँखों पर रख ले आपको काले घेरे से राहत मिलेगी।
बादाम का तेल,गेंहू के बीज का तेल और विटामिन ई के तेल को मिक्स करके भी काले घेरे पर लगा सकते है।
रात में कम से कम 8 घंटे की नींद ले उचित आहार मुख्य रूप से विटामिन ई युक्त भोजन ले आपको काले घेरे से छुटकारा मिलेगा।
काले घेरो को मिटाने के लिए खीरे का प्रयोग (Cucumber for raccoon eyes)
खीरा एक बेहतरीन फल है और त्वचा पर भी यह काफी उपकारी सिद्ध होता है। यह भी साबित हो चुका है कि खीरे की मदद से आँखों के नीचे के काले घेरों को दूर किया जा सकता है। इसमें हलके रूप से एस्ट्रिंजेंट (astringent) के भी गुण होते हैं जिससे कि सांवली त्वचा में काफी निखार आता है। एक ऐसा खीरा लें जिसकी चौड़ाई ज्यादा हो। अब इन टुकड़ों को आधे घंटे तक फ्रिज (fridge) में रखें तथा इसके बाद इन्हें काले घेरों पर धीरे धीरे मलें। वैकल्पिक तौर पर आप खीरे को पीसकर इसका गूदा निकाल सकते हैं तथा इसमें एक चम्मच शहद मिला सकते हैं। अब इस गूदे को अपनी आँखों के नीचे लगाएं तथा 15 मिनट तक रखें। इसे ठंडे पानी से हटा लें। अगर आप इस विधि का रोजाना प्रयोग करें तो काले घेरों को दूर कर सकते हैं।
बादाम के तेल से काले घेरे दूर करें (Get rid of dark circles with almond oil)
थोड़े से बादाम को पानी में भिगोयें तथा इन्हें पीसकर इनका तेल निकालें। आप बाज़ार से भी बिना खुशबू का बादाम का तेल खरीद सकते हैं। यह आपकी आँखों के नीचे के काले घेरों को ठीक करने की बेहतरीन युक्ति है। आप रात को सोने जाने से पहले इस तेल का प्रयोग अपनी आँखों के नीचे कर सकते हैं। इससे त्वचा को तेल सोखने का पर्याप्त समय मिल जाएगा। सुबह उठने के बाद त्वचा को ठन्डे पानी से धो लें। अगर आप रोज़ाना टीवी या कंप्यूटर के सामने काफी देर बैठते हैं, तो इस पद्दति का प्रयोग रोजाना करने का प्रयास करें। आपको जल्दी ही काफी बदलाव नज़र आएगा।
कच्चे आलू से काले घेरे हटाएं (Remove dark circles with raw potato)
कच्चे आलू में प्राकृतिक ब्लीचिंग एजेंट (natural bleach agent) होते हैं, जो आँखों के नीचे के काले घेरों को हल्का करते हैं। आँखों के नीचे से पूरी तरह काले धब्बों को हटाने के लिये कच्चे आलू के रस का प्रयोग इनपर रोजाना करें। कच्चे आलू का एक टुकडा काटें तथा इसे अपनी आँखों के नीचे लगाएं। वैकल्पिक तौर पर आप कच्चे आलू का गूदा भी बना सकते हैं और इसे बराबर मात्रा में काले घेरों पर लगा सकते हैं। इस रस को काले घेरों और पलकों पर भी अच्छे से लगाएं।
काले घेरे हटाने के लिए टमाटर का प्रयोग (Tomato for dark discoloration under eyes)
टमाटर में भी प्राकृतिक रूप से ब्लीचिंग करने के गुण होते हैं, जिससे कि आपके काले घेरे हलके होते हैं। आप एक चम्मच टमाटर और एक चम्मच नींबू के रस का मिश्रण तैयार कर सकते हैं। इन्हें अच्छे से मिलाएं तथा त्वचा के उन भागों पर लगाएं जहां आपको काले घेरे दिख रहे हों। इस मिश्रण को 10 मिनट तक रखें तथा ठन्डे पानी से धो लें। अगर आप नींबू के रस का प्रयोग नहीं करना चाहते तो सिर्फ टमाटर का रस भी आपके लिए सही रहेगा। आप टमाटर के रस में पुदीने के पत्ते, नमक और नींबू का रस मिलाकर इसका सेवन भी कर सकते हैं। अगर आप रोजाना इस रस को पीने और मिश्रण को लगाने की प्रक्रिया को अंजाम देते हैं तो आँखों के नीचे से काले धब्बे हटाना कोई समस्या की बात ही नहीं होगी।
Healths Is Wealth
काले घेरों के लिए टी बैग्स का प्रयोग (Tea bags to lighten skin around eyes)
चाय की पत्तियों में एंटी ऑक्सीडेंटस (antioxidants) होते हैं जो शरीर के ऑक्सीडेंटस को दूर करने में आपकी सहायता करते हैं। शरीर में बढ़ते हुए ऑक्सीडेंटस भी आँखों के काले घेरों की काफी बड़ी वजह साबित होते हैं। 2 प्रयोग किये हुए टी बैग्स लें तथा इन्हें फ्रिज (fridge) में रखें। अब पीठ के बल लेटकर इन टी बैग्स को दोनों आँखों पर एक एक करके लगाएं। 10 से 15 मिनट के लिए इसे छोड़ दें और फिर टी बैग्स हटा लें। अब अपना चेहरा धो लें और आँखों के नीचे एक नयी ताजगी का अहसास करें। अच्छे परिणामों के लिए इस विधि का प्रयोग हफ्ते में दो बार करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.