Header Ads

नकसीर के घरेलू उपचार का उपाय


Gharelu Nushkhe


नकसीर के घरेलू उपचार का उपाय इन हिंदी | नकसीर फूटने के कारण का घरेलू इलाज: कभी- कभी कुछ व्यक्तियों या लोगों के नाक से अचानक खून बहने लगता है. इस अचानक से खून बहने को नकसीर या नोज ब्लीड्स (नकसीर फूटना) कहते हैं. आमतौर पर नाक से खून बहना या नकसीर कोई गंभीर स्वास्थ्य समस्या नहीं होती है. हां, यह स्वास्थ्य संबंधी किसी गंभीर समस्या का संकेत जरूर हो सकती है. यदि समय रहते नकसीर की समस्या पर ध्यान न दिया जाए तो यह गंभीर रूप धारण कर सकती है. नाक की स्थिति बड़ी नाजुक होती है तथा इसके साथ ही इसमें रक्त का संचार भी अधिक होता है.

 प्याज के रस को नाक में डालने से नकसीर का आना बंद होता है.
नकसीर क्या है

नाक का एक प्रमुख कार्य बाहर की हवा को फिल्टर करना भी है. जब सूखी गर्मियों में या सर्दियों की चुभती हवा नाक में प्रवेश करती है. तो इससे नाक की अंदरूनी पर्त के पास स्थित रक्त वाहिनी फट जाती है. परिणाम स्वरूप नाक से खून बहने लगता है. इसे एपिसटैक्सिस या नकसीर कहते हैं. नकसीर श्वास मार्ग संबंधी किसी बीमारी या सूखेपन के कारण या अन्य कई कारणों से हो सकती है. जैसे अनियंत्रित रक्त दाब, ब्लड कैंसर या नाक में टयूमर आदि
नकसीर आने के कारण | नकसीर फूटना

वे दवाएं जिनके सेवन से रक्त पतला होता है और रक्त को थक्का बनने से रोकती हैं जैसे एस्प्रिन. ऐसे लोगों में जरा से मानसिक आघात से नोज ब्लीडिंग हो सकती है.
सर्दियों में श्वास मार्ग के ऊपरी हिस्से में संक्रमण होने के कारण नोज ब्लीडिंग या नकसीर फूटना होता है.
नाक में कोई नुकीली चीज डालना (अक्सर बच्चों ऐसा करते हैं).
आर्द्रता कम होने के कारण गर्म और सूखे वातावरण में भी नोज ब्लीडिंग काफी होती है.
नाक से तम्बाकू या अन्य नशा की चीजों (कोकीन और दूसरी ड्रग्स) को सूंघना.
नाक में फंसी किसी चीज को तेज झटके से निकालना.
नेजल स्प्रे का बार-बार प्रयोग करना.
किसी दुघर्टना में नाक पर चोट लग जाना.
अनियंत्रित रक्त दाब, ब्लड कैंसर, नाक में टयूमर हो जाना तथा लगातार छींकना
नाक का तेजी या ताकत लगाकर छिरकना
नाक या नाक के आसपास हुई कोई सर्जरी से भी नकसीर फूटने के खतरे बढ़ जाते हैं.
शराब का अत्यधिक सेवन
इबोला वायरस के इन्फेक्शन के कारण भी नाक से रक्‍त निकलने लगता है.
ल्‍यूकेमीया एक प्रकार की रक्‍त सम्‍बंधी बीमारी है जिसमें शरीर की कोशिकाएं प्रभावित हो जाती है जिसके कारण नाक से खून बहने लगता है.
हीमोफीलिया बी नामक बीमारी होने पर भी नकसीर फूटता है.


नकसीर के लक्षण
नाक से खून निकलना.
कभी-कभी कान और मुंह से भी खून निकलने लगता है.
नकसीर का घरेलू इलाज 
नकसीर के घरेलू इलाज में, ठंडे पानी की धार बनाकर सिर पर डालने से नाक से खून बहना बंद हो जाता है.
नियमित रूप से रोज सुबह नासा छिद्रों के माध्यम से पानी को ऊपर सुरका जाए तो नकसीर में आराम मिलेगा.
नकसीर आने पर नाक की बजाय मुंह से सांस लेना चाहिए.
प्याज का रस निकाल लें. तत्पश्चात दोनों नासा छिद्रों में एक-एक बूँद डालें इससे नकसीर का बहना बंद हो जाता है. .
प्याज को काटकर नाक के पास रखने और सूंघेने से नाक से खून आना बंद हो जाता है.
नकसीर के घरेलू उपायों में सुहागे को पानी में घोलकर नथुनों पर लगाएं. नकसीर के इस घरेलू उपाय से नकसीर बंद हो जाती है.
नकसीर के घरेलू उपचार
बेल के पत्ते के रस को निकाललें. इसे बराबर मात्रा में पानी मिलाकर पीने से नकसीर के उपचार में लाभ मिलता है.
नकसीर के घरेलू उपचार में इलायची को सेब के मुरब्बे में डालकर खाने में नकसीर बंद हो जाती है.
नकसीर रोकने के उपाय में बेल के पत्ते बहुत ही उपयोगी हैं. बेल के पत्तों को पानी में डालकर तबतक उबालें कि पानी की मात्रा आधी रह जाए. उसके बाद ठंडा करके छान लें तथा उसमें आवश्यकतानुसार मिश्री या बताशा मिलाकर पीने से नकसीर बंद हो जाता है.
नकसीर के घरेलू उपाय में बर्फ को कपड़े में लपेटकर रोगी की नाक पर रखने से भी नकसीर रूक जाती है.

एक बड़ा चम्मच मुलतानी मिट्टी को आधा लीटर पानी में रात को सोने से पहले भिगोकर रख दें. सुबह उठकर उस पानी को निथारकर पीलें. नकसीर के इस घरेलू इलाज से नाक से खून आने की समस्या से फायदा मिलता है.
नकसीर रोकने के उपाय में दो चम्मच गुलकंद को सुबह-शाम दूध के साथ खाने से नकसीर का पुराने से पुराना मर्ज भी ठीक हो जाता है.


नकसीर ट्रीटमेंट इन हिंदी

नकसीर ट्रीटमेंट एट होम, नकसीर ट्रीटमेंट इन होमियोपैथी, नकसीर का घरेलू उपाय, नकसीर इन प्रेगनेंसी, नकसीर के घरेलू उपचार में निम्नलिखित विधि को अपनाना चाहिए.
दोनों नथुनों को 10 से 15 मिनट तक दबाकर रखें.
नाक पर रुमाल या टिश्यु पेपर रखें.
गर्मियों में चिलचिलाती धूप से निकलकर सीधे एयर कंडीशन वाले कमरे में न जाएं
अपने भोजन में अधिक साइट्रस फलों का सेवन करें. साइट्रस फलों में बायोफ्लैवोनाइड्स की मात्रा काफी अधिक होती है जिसके कारण नाक से रक्त आने की समस्या दूर हो जाती है.
शीशम या पीपल के पत्ते का रस निकालकर उस नाक में डालें जिस नाक से खून आ रहा हो.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.