Header Ads

महिलाओं में पाई जाने वाली यौन समस्याएं


महिलाओं में पाई जाने वाली यौन समस्याएं

महिलाओं में सेक्सुअल डिस्फंक्शन कई कारणों से हो सकते हैं जैसे मनोवैज्ञानिक स्थिति, स्त्रीरोग या अन्य स्वास्थ्य समस्याएं और कुछ दवाओं का लंबे समय तक उपयोग करना।
Healths Is Wealth 


Healths Is Wealth 

महिलाओं में सेक्सुअल डिस्फंक्शन कई तरह से हो सकते हैं जैसे यौन इच्छा, उत्तेजना, संभोग और ऑर्गाज्म आदि से जुड़ी समस्याएं सेक्सुअल डिस्फंक्शन का हिस्सा है। सेक्सुअल डिस्फंक्शन महिलाओं और पुरुषों दोनों में आम हैं। महिलाओं में होने वाले सेक्सुअल डिस्फंक्शन के लिए कई कारण जिम्मेदार होते हैं जैसे व्यक्ति की मनोवैज्ञानिक स्थिति, स्त्रीरोग या अन्य स्वास्थ्य समस्याएं, कुछ दवाओं का लंबे समय तक उपयोग या सामाजिक विश्वास आदि। अगर आप इस तरह की समस्या का सामना कर रही है तो जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से संपर्क करें। तो आइए महिलाओं को होने वाले कुछ प्रमुख सेक्सुअल डिस्फंक्शन के बारे में जानते हैं।

वजाइना में सूखापन: वजाइना में सूखापन हार्मोनल बदलाव के कारण हो सकता है जो कि स्तनपान या मेनोपोज के दौरान होते हैं। अध्ययन बताते हैं कि मेनोपोज के बाद 50 प्रतिशत महिलाओं में वजाइनल ड्राईनैस की समस्या होती है।

आपको क्या करना चाहिए: इस समस्या से निपटने के लिये यौन सम्बंध बनाते वक्त लुब्रिकेंट का उपयोग करें। साथ ही आप वजाइनल मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। आप दोनों चीज का इस्तेमाल एक साथ मिलाकर भी कर सकती हैं। बेहतर तौर पर आप सेक्सुअल एक्टीविटी के दौरान लुब्रिकेंट का उपयोग करें और बाकी समय मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर इसके बाद भी आपको समस्या में कोई बदलाव ना दिखें तो अपने गाइकोनोलॉजिस्ट से बात करें।
Healths Is Wealth 
यौन इच्छा में कमी:
मेनोपोज के समय के दौरान हार्मोन्स में कमी आने के कारण महिलाओं में यौन इच्छा भी कम होने लगती है। हालांकि सेक्स इच्छा में कमी केवल अधिक उम्र की महिलाओं में ही नहीं होती। एक अध्ययन के अनुसार 30 से 50 उम्र की महिलाओं में भी सेक्स करने की इच्छा में कमी की समस्या देखी गयी है। इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे मधुमेह और निम्न रक्तचाप जैसी चिकित्सा समस्याएं, मनोवैज्ञानिक समस्या जैसे अवसाद या रिश्ते में खुश ना होना। कुछ दवाइयों के कारण भी आपकी सेक्स करने की इच्छा कम हो सकती है।

आपको क्या करना चाहिए: लिबिडो(यौन इच्छा में कमी) को बूस्ट करने के लिये कई तरह के उपाय उपलब्ध हैं। इसके लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क करके समाधान निकाल सकती हैं। अगर इस समस्या का कारण मनौवैज्ञानिक या भावनात्मक होगा तो वह आपको थेरेपिस्ट से मिलने की सलाह देगा।

यौन सम्बंध के दौरान दर्द होना: करीब 30 प्रतिशत महिलाएं यौन सम्बंध के दौरान दर्द महसूस करती है। इस दर्द का कारण वजाइना में सूखापन हो सकता है या फिर यह किसी स्वास्थ्य समस्या का संकेत हो सकता है जैसे ओवेरियन सिस्ट या एंडोमेट्रियोसिस।

आपको क्या करना चाहिए: अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर से मिलें ताकि वह समस्या के सही कारण का पता लगा सके। आपका डॉक्टर इसके लिये पेल्विक फ्लोर थेरेपी, मेडिकेशन या सर्जरी कराने की सलाह दे सकता है जिससे दर्द के कारण को खत्म किया जा सके।

ऑर्गेज्म तक पहुंचने में परेशानी: मेनोपोज से पहले 5 प्रतिशत महिलाओं को ऑर्गेज्म से जुड़ी समस्याएं होती हैं। हार्मोनल बदलावों के अलावा ऑर्गेज्म की समस्या चिंता, अपर्याप्त संभोग, कुछ दवाओं और पुरानी बीमारियों के कारण हो सकती है।

आपको क्या करना चाहिए: बाकी सेक्सुअल डिस्फंक्शन की तरह ही आपको इस समस्या के दौरान भी डॉक्टर से मिलना जरुरी है ताकि वह समस्या का पता लगा सके और आपको उसके उपचार के लिये आपको सही तरीका बताए।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.