Header Ads

अपने टूटे हुए बालों को मत फेंकिये


अपने टूटे हुए बालों को मत फेंकिये क्यूँकि इसके 5 फ़ायदे जान दंग रह जाएँगे आप, अभी तक नही जानते होंगे की ये भी उपयोगी हो सकते है


वैसे तो टूटे हुए बालों को सब फैंक देते है लेकिन इन बालों में पाये वाले किरेटिन प्रोटीन के फ़ायदों के बारे में बहुत कम जानते है। इसी प्रोटीन के कारण बाल से कुछ उपाय भी किए जा सकते है। बाल से तात्पर्य लोगों के सिर के बाल से लगाना चाहिए। कहीं पर भी यदि बाल शब्द का जिक्र होता है। वहां पर उसका अर्थ मनुष्य के ही बाल से लगाना चाहिए। बाल काले, भूरे, सफेद व लाल रंग के होते हैं। ध्यान रहे की बाल को भूल से खा लेने पर उल्टी होने लगती है तथा यह शरीर के अन्दर के सभी अंगों को हानि पहुंचाता है। आइए जानते है अपने टूटे हुए बालों के फ़ायदो के बारे में…

टूटे हुए बालों के फ़ायदे :

बाल तोड़ : कंघी करते समय टूटे बालों को इकट्ठा करके एक कटोरी में रख लें और उसमें थोड़ा सा सरसों का तेल डाल देतें है फिर इस तेल को गुनगुना करके बालतोड़ पर लगाकर पट्टी बांध दें। इससे बालतोड़ ठीक हो जाएगा।
नाक से खून बहना : ऊंट के बालों को जलाकर राख बनाकर सूंघने से नकसीर आना (नाक से खून बहना) बंद जाती है।
जले हुए घाव : आग से जले हुए घाव पर बाल लगाने से घाव ठीक हो जाता है।
फोड़े-फुन्सियाँ : बालों को पीसकर सिरका में मिलाकर फोड़े-फुन्सियों में लगाने से आराम मिलता है।
कांच निकलना : इसकी बारीक पिसी हुई चुटकी बच्चों के कांच निकलने के रोग में लाभकारी होती है।
सिंग टूटने पर : यदि किसी कारणवस गाय, भैंस और बकरी आदि के सिंग टूट जाए तो मीठे तेल में सिंदूर मिलाकर टूटे हुए बालों के साथ सिंग पर लपेट देने से जल्द ही घाव भर जाता है और नए सिंग निकल आते है।
बाल झड़ना या बाल ही नही रहना या गंजेपन की समस्या :

बाल झड़ना या बाल ही नही रहना या गंजेपन की समस्या आजकल बढ़ती ही जा रही है और लोग इस पेरशानी से बचने के लिए तरह तरह के केमिकल वाले प्राॅडक्टस का इस्तेमाल करने लगते हैं। जिसकी वजह से बालों की समस्या और अधिक बढ़ती है। बाल ही सुंदरता का प्रतीक हैं। बालों की यह समस्या ज्यादातर महिलाओं को होती है लेकिन पुरूष भी गंजेपन का शिकार हो रहे हैं। लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आयुर्वेद में छिपा है बालों की हर समस्या को दूर करने का सफल उपाय। सबसे पहले गंजेपन के बारे में यह जानना जरूरी है। आखिर कौन से कारण हैं जिस वजह से बाल झड़ना या बाल ही नही रहना, गंजापन होता है। क्योंकि जानकारी ही सही बचाव है।

बालों की समस्या के 10 मुख्य कारण इस प्रकार हैं
1. शरीर में विटामिन की कमी के आ जाने से बाल गिरने लगते हैं।
2. प्रतिदिन कास्मेटिक शैंपू से बाल धोना या साबुन से बाल धोना।
3. बालों को कलर या डाई करना।
4. हैलमेट को ज्यादा समय तक सिर पर रखना।
5. दिमाग में बेवजह की टेशन लेना।
6. बालों को झटके से खीचना या ज्यादा कस कर बालों को बांधना।
7. सिर में सफेद दाग की वजह से भी बाल गिरने लगते हैं।
8. अनुवांशिक कारण और मानसिक तनाव का होना।
9. खुशबूदार तेलों का अधिक इस्तमाल करना।
10. रक्त विकार, दाद, एग्जिमा आदि कारणों से भी बालों की समस्या होती है।

बालों की समस्या से बचाने वाले तेल को बनाने की विधि

कनेर के 60-70 ग्राम पत्ते (लाल या पीली दोनों में से कोई भी या दोनों ही एक साथ ) ले के उन्हें पहले अच्छे से सूखे कपडे से साफ़ कर लें ताकि उनपे जो मिट्टी है वो निकल जाये। अब एक लीटर सरसों का तेल या नारियल का तेल या जेतून का तेल ले के उसमे पत्ते काट काट के डाल दें। अब तेल को गरम करने के लिए रख दें। जब सारे पत्ते जल कर काले पड़ जाएँ तो उन्हें निकाल कर फेंक दें और तेल को ठण्डा कर के छान लें और किसी बोटल में भर के रख लें।

प्रयोग करने का तरीका

रोज़ जहाँ जहाँ पर भी बाल नहीं हैं वहां वहां थोडा सा तेल ले के बस 2 मिनट मालिश करनी है और बस फिर भूल जाएँ अगले दिन तक. ये आप रात को सोते हुए भी लगा सकते हैं और दिन में काम पे जाने से पहले भी।

परिणाम

बस एक महीने में आपको असर दिखना शुरू हो जायेगा। सिर्फ 10 दिन के अन्दर अन्दर बाल झड़ने बंद हो जायेंगे या बहुत ही कम और नए बाल भी एक महीने तक आने शुरू हो जायेंगे।
ये उपाय पूरी तरह से टेस्टेड है। हमने कम से कम भी 10 लोगो पे इसका सफल परीक्षण किया है। एक औरत के 14 साल से बाल झड़ने बंद नहीं हो रहे थे। इस तेल से मात्र 6 दिन में बाल झड़ने बंद हो गये। 65 साल तक के आदमियों के बाल आते देखे हैं। आप भी लाभ उठायें और अगर किसी को फरक पड़े तो जरुर बताये। एक बात और आयुर्वेद में सबके वात, पित्त और कफ अलग-अलग माने है जो की होते भी है या शरीर की प्रकृति अलग-अलग होती है।इसलिए किसके लिए कौन सा उपाय रामबाण बन जाए कह नही सकते है।

कृपया ध्यान दे

पीले पत्ते वही ले जो पेड़ पर पक कर पीले हो जाये, पीले होने के बाद वो थोड़ा लाल भी हो जाते है, वो भी ले सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.