Header Ads

अलसी उर्फ तीसी के लाभ और साइड इफेक्ट

Healths Is Wealth ·

Flax seeds| अलसी उर्फ तीसी के लाभ और साइड इफेक्ट

Flax seeds| अलसी उर्फ तीसी के लाभ और साइड इफेक्ट

Flax seeds यानी अलसी उर्फ तीसी पुराने वक्त में हमारे खानपान का अहम हिस्सा थी। अब शहरों की ज्यादातर रसोइयों से बाहर हो चुकी है। इसमें यकीनन कई गुण होंगे, जिनकी वजह से हमारे दादा-दादी के जमाने में इसका खूब इस्तेमाल होता था। अब लोग तीसी खाने की बजाए डॉक्टर से दवा खाने में ज्यादा भरोसा रखने लगे हैं। बेहद सस्ता सा आइटम, बहुत असान इस्तेमाल और ढेर सारे फायदे। अलसी को क्यों और कैसे खाना चाहिए। कितना खाना चाहिए और इसके साइड इफेक्ट की मुकम्मल जानकारी आपको इस लेख में मिलेगी।
Flax seeds यानी अलसी उर्फ तीसी के फायदे


1 बॉडी बिल्डिंग में – तीसी में ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है। यह मछलियों में खूब पाया जाता है मगर शाकाहारी बॉडी बिल्डर मछली खाते नहीं इसलिए उनकी जरूरत काफी हद तक तीसी पूरी कर सकती है।
2 वजन कम करने में – खाना खाने से पहले फलैक्स सीड खाने से भूख कम लगती है। इससे उन लोगों को फायदा होगा, जिन्हें भूख ज्यादा लगती है या जो लोग डाइटिंग पर हैं।
3 सामान्य स्वास्थ्य के लिए – सौ ग्राम फ्लैक्स सीड में 27 ग्राम फाइबर होता है। यह हमारी रोज की जरूरत का तकरीबन 108 फीसदी है। हालांकि सौ ग्राम अलसी नहीं खानी चाहिए। दो से तीन चम्मच दिन में काफी है। फाइबर के चलते पेट का मूवमेंट ठीक रहता है। जिन लोगों को कब्ज रहता है उन्हें तीसी खाने से फायदा पहुंचता है। इसके छिलके अपने साथ फैट को लपेट लेते हैं इससे बॉडी का फैट कम करने में मदद मिलती है।
4 यह कॉलेस्ट्रॉल को कम करती है, यह ब्लड शुगर को कम करती है, यह खून के गाढ़ेपन को कम करती है। यह आर्टरीज यानी धमनियों को सख्त होने से बचाती है।


कैसे खाएं, Alsi kaise khaye – जो भी तरीका आपको सूट करे वही सही है। हालांकि इस बात का ध्यान रखें कि इसके बीज आसानी से हजम नहीं होते और वैसे के वैसे ही बाहर निकल जाते हैं। इसलिए इन्हें अगर आप सीधे मुंह से खा रहे हैं तो खूब चबा चबा कर खाएं। नहीं तो सबसे सही तरीका ये है कि आप अलसी को ग्राइंडर में पीस लें उसके बाद इस्तेमाल करें।
इसे आप शेक में भी डाल सकते हैं। इसका स्वाद थोड़ा सा अलग होता है, लेकिन अगर साथ में कुछ और चीज है तो ये उसके स्वाद को दबा नहीं पाती। आप ओट्स के साथ इसे ले सकते हैं, शेक में डाल सकते हैं, सलाद में, ब्रेड मक्खन, ब्रेड जैम के साथ रोटी, पूड़ी, परांठा, सलाद, सूप जहां चाहें इसे मिलाएं। इसके तेल को खाना पकाने में इस्तेमाल कर सकते हैं। अलसी की डोज – दो से तीन चम्मच एक दिन में काफी है।
Flax seeds, अलसी उर्फ तीसी के साइड इफेक्ट


1 वेब एमडी के मुताबिक, जो लोग ब्लड प्रेशर कम करने की दवा ले रहे हैं उनका ब्ल्ड प्रेशर तीसी की वजह से जरूरत से ज्यादा कम हो सकता है।
2 जो लोग लो ब्लड प्रेशर के मरीज हैं उनका ब्लड प्रेशर और लो हो सकता है।

Healths Is Wealth ·

3 कहा जाता है गर्भवती महिलाओं को और स्तनपान करा रही महिलाओं को तीसी नहीं खानी चाहिए।
4 जिन लोगों को ब्लीडिंग से जुड़ी कोई दिक्कत है, अलसी खाने से उनकी प्रॉब्लम और बढ़ सकती है क्योंकि यह खून को पतला कर देती है।
5 जो लोग डाइबिटीज की दवा ले रहे हैं उनका ब्लड शुगर लेवल अलसी के चलते बहुत नीचे गिर सकता है क्योंकि इससे शुगर लेवल कम होता है।
6 Flax seeds, अलसी उर्फ तीसी से पेट भी खराब हो सकता है और जिन लोगों का पेट थोड़ा ज्यादा चालू रहता है उन्हें टॉयलेट के एक दो चक्कर और लगाने पड़ सकते हैं। हमने आपको अलसी के फायदे ( Benefits of Flax seeds in hindi) और अलसी के नुकसान (Side effects of Flax seed in hindi) बता दिये हैं अब फैसला आपको लेना है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.