Header Ads

सेहत से भरपूर अमरूद

सेहत से भरपूर अमरूद





उच्च रक्तचाप को रखे नियंत्रित-
अमरूद फाइबर और हाइपोग्लिसेमिक का अच्छा स्त्रोत है, जो रक्तचाप और कोलेस्ट्राॅल के स्तर को कम करने में फायदेमंद है। अध्ययनों से साबित हो चुका है कि शरीर में पोटैशियम की दैनिक जरूरत के 20 प्रतिशत भाग की आपूर्ति एक मध्यम आकार के अमरूद से हो जाती है। इसमें मौजूद पोटैशियम उच्च रक्तचाप को ठीक करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अध्ययनों से साबित हो चूका है कि दो महीने तक रोजाना अमरूद खाने वाले व्यक्ति का कोलेस्ट्राॅल 10 प्रतिशत तक कम हो जाता है।

कैंसर की आशंका कम करे
लाइकोपीन नामक एंटीआॅक्सीडेंट और कैरोटीन से भरपूर अमरूद स्तन, फेफड़ों और मुंह के कैंसर से लड़ने में मदद करता है। पुरुशों में प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को कम करने में प्रभावशाली है। लाइकोपीन विटामिन और मिनरल्स के साथ मिल कर कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं को बढ़ने से रोकता है और गांठ की आशंका को कम करता है। पेट की समस्याओं के लिए कारगर
अमरूद में मौजूद पेक्टिन पाचन को बढ़ावा देने और भूख में सुधार करने में मदद करता है। फाइबर पाचन की समस्याओं को रोकने में सहायक है। अमरूद पेट दर्द और पेेट के कीड़ों के इलाज 
के लिए उपयोगी है। विशेषज्ञ पेट दर्द में आराम के लिए शहद और दूध के साथ अमरूद पल्प मिला कर खाने की सलाह देते हैं।
मधुमेह के खतरे को कम करने में सहायक
फाइबर से धनी अमरूद शरीर में मीठे की खपत को धीमा करता है। नियमित सेवन टाइप 2 मधुमेह के जोखिम को कम करने में मदद करता है।
सावधानी भी जरूरी
हालांकि अमरूद पोषक तत्वों की खान है, लेकिन एक स्वस्थ व्यक्ति को दिन में दो अमरूद से ज्यादा खाने से बचना चाहिए। पचने में दिक्कत होने के कारण अगर हो सके तो इसके बीज निकाल कर खाएं। इससे पेट दर्द की आशंका नहीं रहती।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.