Header Ads

'गर्भनिरोधक गोलियों' के होते हैं यह साइड इफेक्ट्स

'गर्भनिरोधक गोलियों' के होते हैं यह साइड इफेक्ट्स

'गर्भनिरोधक गोलियों' के होते हैं यह साइड इफेक्ट्स
    'विश्व स्वास्थ्य संगठन' की रिपोर्ट के अनुसार विश्व में 10 करोड़ से भी ज्यादा महिलाएं 'गर्भनिरोधक गोलियों' का इस्तेमाल करती हैं। विभिन्न अध्यनों के बाद इनके अनेक साइड इफेक्ट्स देखने को मिले हैं। अलग-अलग अध्ययनों के हिसाब से इनके बारे में अलग-अलग धारणाएं हैं।
    आइये जानते हैं इनके बारे में। 
    'अवसाद' का खतरा बढ़ता है
    डेनमार्क में हुए एक अध्ययन के अनुसार गर्भ निरोधक गोलियों के इस्तेमाल से महिलाओं में 'अवसाद' के होने का खतरा बढ़ता है।

    अध्ययन में शामिल किया गया था 10 लाख महिलाओं को
    'डेनमार्क' में हुए इस अध्ययन में लगभग 10 लाख महिलाओं के मेडिकल रिकॉर्ड्स को शामिल किया गया था। जिनकी उम्र 15 से 40 साल थी। गर्भ निरोधक गोलियों के सेवन से पहले, इन महिलाओं में डिप्रेशन के कोई लक्षण मौजूद नहीं थे।
    महिलाओं को होना पड़ा था हॉस्पिटल में भर्ती
    इस अध्ययन के अनुसार जो महिलाऐं 'गर्भ निरोधक गोलियों' का इस्तेमाल करती हैं, उन्हें या तो अवसाद की गोलियां लेनी पड़ी, या फिर हालत ज्यादा बिगड़ जाने की वजह से हॉस्पिटल में भर्ती होना पड़ा।
    प्रोफेसर 'फिल हैनाफोर्ड' की है अलग धारणा
    'गर्भ निरोधक गोलियों' के मामले में यूनिवर्सिटी ऑफ़ एबरडीन में प्राइमरी केयर के प्रोफेसर 'फ़िल हैनाफ़ोर्ड' की अलग धारणा है। उन्होनें गर्भ निरोधक गोलियों के सेवन को अधिक हानिकारक नहीं बताया।
    गर्भ निरोधक का इस्तेमाल न करने वाली महिलाएं भी होती हैं अवसाद से पीड़ित
    प्रोफेसर फिल के अनुसार प्रत्येक 100 महिलाओं में से 1.7 महिलाएं 'अवसाद' से पीड़ित होतीं हैं, और गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन नहीं करती हैं। वहीं दूसरी तरफ, 'गर्भ निरोधक गोलियों' का इस्तेमाल करने वाली प्रत्येक 100 महिलाओं में से 2.2 महिलाएं 'अवसाद' से पीड़ित हो जाती है।'
    रक्त का थक्का जमने का भी होता है खतरा
    अवसाद के अलावा 'गर्भ निरोधक गोलियों' का सेवन करने से रक्त का थक्का जमने का खतरा दोगुना बढ़ जाता है।
    गार्जियन वेबसाइट ने जारी की अपनी शॉर्ट फिल्म
    गार्जियन वेबसाइट ने अपनी एक शॉर्ट फिल्म जारी की है, जो ऐसी महिलाओं के बारे में है, जो 'हार्मोनल' या 'गर्भ निरोधक गोलियों' का इस्तेमाल कर रहीं थीं, और उनकी रक्त का थक्का जमने से मौत हो गई। इस वीडियो के अनुसार अगर महिलाएं 'गर्भनिरोधक गोलियों' से होने वाली मौत की दर को समझ जाएं, तो वे कभी 'गर्भ निरोधक गोलियों' का सेवन नही करेंगी।
    खतरनाक हो सकता है इन साइड इफेक्ट्स को हलके में लेना
    गर्भ निरोधक गोलियों से होने वाले साइड इफेक्ट्स को हलके में नहीं लेना चाहिए। और कोशिश करनी चाहिए कि इनका सेवन कम से कम किया जाए।

    कोई टिप्पणी नहीं

    Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.