Header Ads

तापमान में कमी आने पर होने लगती है जोड़ो और कूल्हों में दर्द की समस्या, जानें इसकी वजह और उपचार


तापमान में कमी आने पर होने लगती है जोड़ो और कूल्हों में दर्द की समस्या, जानें इसकी वजह और उपचार

तापमान में कमी आने पर होने लगती है जोड़ो और कूल्हों में दर्द की समस्या, जानें इसकी वजह और उपचार


बरसात के दिनों में या तापमान कम हो जाने पर अक्सर ही जोड़ों और कूल्हों में दर्द की समस्या जन्म लेती है। उम्र बढ़ने पर यह समस्या और ज्यादा सताती है। कुछ लोगों को तो जोड़ों के दर्द से अंदाजा होता है कि बारिश आने वाली है या तापमान कम होने वाला है। आपको क्या लगता है? आपके शरीर को पहले ही मौसम में होने वाले बदलाव के बारे में पता चल जाता है? या आपको लगता है कि ये सिर्फ आपके दिमाग की उपज है?


अगर आपको ऐसा लगता भी है तो आपको गलत लगता है। इसके पीछे क्या वजहें हैं, मैं आपको बताती हूँ और साथ ही हम इस दर्द से बचने के उपायों के बारे में भी बात करते हैं।

Arthritis Foundation के अनुसार मौसम का बदलना आपके जोड़ों को प्रभावित करता है, खासतौर पर उन लोगों में जिन्हें अर्थराइटिस होता है


बोस्टन की Tufts University के रिसर्चर्स के अनुसार जब भी तापमान में 10 डिग्री की गिरावट आती है, तब आर्थराइटिस का दर्द बढ़ता है



इसके साथ ही बैरोमेट्रिक प्रेशर के बढ़ने पर भी जोड़ों पर यही असर होता है।


बैरोमेट्रिक प्रेशर की वजह से जोड़ ऑफ ट्रैक हो जाते हैं

एक अन्य अध्ययन में यह भी सामने आया है कि एटमॉस्फेरिक प्रेशर में बदलाव के कारण कूल्हों के जोड़ अपनी जगह से 1/3 इंच तक ऑफ ट्रैक हो जाते हैं।


लगभग 400 BC के दौरान ही Hippocrates ने कुछ बीमारियों और मौसम में बदलाव के बीच संबंध ढूंढ लिया था

अब आपने जोड़ों और कुल्हों में दर्द की वजह तो जान ली, लेकिन आप सोच रहे होंगे कि इससे बचने के लिए क्या किया जाए? तो आइये इससे बचने के कुछ उपायों पर भी बात कर ली जाए।


किशमिश को 'जिन' में भिगोकर करें सेवन
लोगों को लगता है कि जिन सिर्फ पीने के ही काम आती है। लेकिन यह आर्थराइटिस से भी राहत देती हैं। इसके लिए जिन में किशमिश को तब तक भिगोकर रखें, जब तक द्रव्य उड़ ना जाए। फिर ठंड के दौरान रोज इसे खाए, आर्थराइटिस से राहत मिलेगी।
प्याज की चाय भी है एक विकल्प

प्याज को छीलकर इसकी स्लाइस काट लें। इन स्लाइस को 20 मिनट तक डेढ़ कप पानी में उबालें। पानी को बहा दें और इसमें अदरक, निम्बू और शहद भी मिला लें। इसके सेवन से जोड़ों के दर्द में राहत मिलती है।


अदरक की चाय भी है फायदेमंद

अदरक की चाय भी आर्थराइटिस के दर्द से राहत देती हैं। अदरक की चाय बनाने के लिए इसके टुकड़े कर एक बर्तन में डालें और इस पर उबलता हुआ पानी डालें। इसे 15 मिनट तक यूँ ही रहने दें और फिर इसे पी जाए।


अदरक की चाय के सेवन से होने वाले अन्य लाभों के बारे में जानने के लिए ये लेख पढ़े।


चले नंगे पैर


जोड़ों के दर्द से बचने के लिए गुठनों के जोड़ पर दबाव कम करना होता है। जब आप नंगे पैर चलते हैं तो आप जूतों के वजह से आपकी चाल पर लगने वाले अत्यधित वजन और तनाव को खत्म करते हैं, जिससे आपको आराम का अनुभव होता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.