Header Ads

हीट क्रैंप्स



पैरों में ऐंठन की वजह कहीं हीट क्रैंप्स तो नहीं? जानिए क्या है ये और कैसे आपको परेशान करता है

बैठे-बैठे या चलते-फिरते कई बार पैरों में अजीब सी ऐंठन होने लगती है। और बहुत बार ये दर्द असहनीय भी हो सकता है। तो क्या है इसकी वजह, 
देर तक एक ही अवस्था में बैठे-बैठे या फिर चलते-चलते पैरों में अचानक उठने वाली मरोड़ यानी लेग क्रैंप कई बार आपके लिए परेशानी का सबब हो जाती है। कुछ ही मिनटों में मांसपेशियों की जकड़न कई बार बेहद दर्दनाक भी हो जाती है।
ऐसे में अगर आपको बार-बार क्रैंप की समस्या होती है तो यह बहुत अधिक थकान, अधिक वर्कआउट, पानी की कमी, वजन बढ़ने या रक्त संचार में रुकावट जैसी किसी भी समस्या का संकेत हो सकता है। इससे निपटने के लिए ये आसान उपाय जरूर आजमाएं।


गर्म दूध
रोज सोने से पहले एक ग्लास गर्म दूध पीने की आदत डालें। इससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं और कमजोरी दूर होती है जिससे क्रैंप्स आना बंद हो जाती हैं।


गर्म पानी से नहाएं
रोज सोने से पहले गर्म पानी से नहाने से मांसपेशियों का तनाव कम होता है और थकान से आराम मिलता है। इससे पैरों में क्रैंप नहीं उठती।

स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज
सोने के पहले बिस्तर पर लेटकर आधे घंटे तक रोज दोनों पैरों को स्ट्रेच करें। इससे शरीर लचीला बनता है।

स्ट्रेचिंग के लिए सीधे लेट जाएं। पैरों के अंगूठों को पहले ऊपर की ओर खींचने की कोशिश करें और फिर नीचे की ओर स्ट्रेच करें।

रोज खाएं केला
क्रैंप की समस्या से निजात पाने के लिए रोज कम से कम दो-तीन केले खाएं। केले में पोटेशियम होता है जिससे मांसपेशियां मजबूत होती हैं और क्रैंप नहीं होती।

डाइट पर दें ध्यान
क्रैंप से छुटकारे के लिए अपनी डाइट में कैल्शियम, मेग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर डाइट लें। डेयरी उत्पाद जमकर खाएं और रोज दो चम्मच शहद का सेवन करें।





मसल क्रैंप के कारणों को समझिए। 


गर्मियों में जब आप अधिक समय के लिए बाहर रहती हैं या अधिक समय के लिए सूर्य की गर्मी में खड़ी रहती हैं तो आपको हीट क्रैंप्स (Heat Cramps) नाम की स्थिति हो जाती है। उस समय यह आपको हाथों, पैरों और पेट में महसूस हो सकती है। तब शरीर के इन अंगों में बहुत अधिक दर्द होने लगता है।


इस दर्द के साथ साथ आपको चक्कर आना, बेहोश होना, कमजोरी और अत्यधिक पसीने आने जैसे लक्षण भी देखने को मिल सकते हैं। कई बार अधिक एक्सरसाइज करने से भी इस स्थिति का सामना करना पड़ता है। तब उस केस में अधिक पसीना आता है। जिस कारण डिहाइड्रेशन की समस्या हो जाती है।
जानिए हीट क्रैंप्स के कारण

मसल्स हीटक्रैंप्स (Heat cramps) गर्मियों के दौरान ज्यादा हो जाते हैं क्योंकि जब आप गर्मी में एक्सरसाइज करती हैं तो पसीने आते हैं। उस समय पसीने में फ्लूइड के साथ साथ कुछ इलेक्ट्रो लाइट जैसे साल्ट, पोटेशियम, मैग्नेशियम और कैल्शियम होते हैं। इन न्यूट्रिएंट्स के कारण सोडियम के लेवल लगातार गिरना शुरू हो जाता है। जिस कारण हीट क्रैंप्स बढ़ जाते हैं।






कई बार बहुत ज्यादा एक्सरसाइज से भी यह समस्या हो सकती है। 

अन्य कारण इस प्रकार हैं

डिहाइड्रेशन
किसी नई एक्टिविटी का करना
न्यूरो मस्कुलर नियंत्रण में बदलाव आना
इलेक्ट्रोलाइट डिप्लीशन
मसल्स का थक जाना
पूअर कंडीशनिंग



क्या हो सकता है फुट क्रैंप या मसल क्रैंप का उपचार

अगर आपके साथ ऐसा कुछ होता है तो आप निम्न बातों को ध्यान में रखें।
वह एक्टिविटी करना बंद करें और किसी ठंडी जगह पर जा कर बैठ जाएं।
कोई ऐसी स्पोर्ट ड्रिंक पिएं जिसमें इलेक्ट्रो लाइट हो जैसे आप पानी में थोड़ा सा नमक मिला कर खुद भी एक ड्रिंक तैयार कर सकती हैं।
जिस मसल में दर्द हो रहा है उसे ध्यान पूर्वक स्ट्रेच करें और उसकी मसाज करें।
जब तक दर्द न कम हो जाए तब तक दर्द करने वाली मसल को स्ट्रेच करती रहें।
अगर यह हीटक्रैंप्स(Heat cramps) एक घंटे से अधिक समय होने के बाद भी नहीं रुक रहे हैं तो आपको डॉक्टर की मदद ले लेनी चाहिए।
हीट क्रैंप्स से आप किस प्रकार बच सकती हैं?
दिन के सबसे गर्म समय में यानी दोपहर के समय एक्सरसाइज आदि न करें।
एक्सरसाइज करने से पहले शराब या ऐसी ड्रिंक न पिएं जिसमें कैफ़ीन मिला हो। यह ड्रिंक्स डिहाइड्रेशन का रिस्क बढ़ा देती हैं।
अपने आप को एक्सरसाइज करने से पहले अच्छे से हाइड्रेट कर लें।
अगर आप अधिक गर्मी के समय में एक्सरसाइज कर रही हैं तो पहले अधिक इंटेंस वर्कआउट न करें। बल्कि धीरे धीरे और हल्की एक्सरसाइज से शुरू करें। ताकि आपका शरीर इस बदलाव को स्वीकार कर सके।
अगर आप को लग रहा है कि आपकी एक्सरसाइज करने की क्षमता अब कम हो चुकी है तो आप एक्सरसाइज छोड़ दें और किसी ठंडी जगह पर बैठ जाएं।
सन बर्न से बचने के लिए सन स्क्रीन का प्रयोग करें।
एक्सरसाइज करते समय कैप पहने।
हल्के रंग के और खुले कपड़े पहनें।


मांसपेशियों को मजबूती देता है.

अगर आपको गर्मी में अधिक परेशानी होती है और एक्सरसाइज नहीं कर सकतीं तो अपने आप को अधिक परेशान न करें और कुछ दिनों के लिए रेस्ट करें। अगर आप गर्मी के दौरान एक्सरसाइज करने की इच्छुक भी हैं तो आपको सुबह जल्दी उठ कर या सूर्य छिपने के बाद एक्सरसाइज करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.