Header Ads

क्या वेटलॉस में मदद करता है पानी पीना


क्या वेटलॉस में मदद करता है पानी पीना, आखिर हमें कितना पानी पीना चाहिए हर दिन?

अगर आपका शरीर हाइड्रेट रहता है तो इससे मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है और वजन घटाने में मदद मिलती है. पुरुषों के लिए रोजाना कम से कम 3.5 लीटर और महिलाओं के लिए 2.7 लीटर पानी पीना जरूरी है. खाना खाने से पहले पानी पीने से कैलोरी की मात्रा कम करने में मदद मिलती है. इससे वजन कंट्रोल में रहता है.

हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्म या चयापचय रासायनिक प्रतिक्रियाओं (chemical reactions) की एक श्रृंखला है। इसलिए पानी पीने से हाइड्रेट रहने से कैमिकल रिएक्शन सुचारू रूप से काम करता है। पानी शरीर के चयापचय और ऊर्जा व्यय को उत्तेजित करता है। जिससे यह वजन प्रबंधन या वजन घटाने में मदद मिलती है।


पीने का पानी हमारी डेली रूटीन्ड लाइफ का जरूरी हिस्सा है। जब आप वजन घटाने के बारे में सोचते हैं, 
तो सबसे पहले आपके दिमाग में क्या आता है? ढेर सारी एक्सरसाइज, जिम, न्युट्रिशन और बैलेंस्ड डाइट, गुड-नाइट स्लीप, तनाव में कमी और.? और ज्यादा से ज्यादा वाॅटर इंटेक। हालांकि वाॅटर इंटेक या बाॅडी हाइड्रेशन हो सकता है, आपकी लिस्ट में न हो, लेकिन होना चाहिए। लेकिन जो पानी से जुड़ा एक सवाल भी आता है, दिमाग में, कि आखिर वेट लाॅस के लिए हमें कितना पानी पीना चाहिए?


पीने का पानी हमारे लिए कई वजहों से महत्वपूर्ण होता है। पहला और सबसे जरूरी ‘पीने का पानी’ यानी ड्रिंकिंग वाॅटर बाॅडी टेम्परेचर रेगुलेट करने में हेल्प करता है, हमारे जाॅइंट को लुब्रिकेंटेड रखता है, इंफेक्शन रोकता है, हमारे बाॅडी सेल्स को न्यूट्रिएंट्स पहुंचाता है और हमारे ऑर्गन और बाॅडी की होल-सोल फंक्शनिंग में हेल्प करता है। कहना है, सिएटल बेस्ड, आहार रजिस्टर्ड डाइटीशियन न्यूट्रीशनिस्ट, एंजेल प्लानल्स का।


हालांकि इस बात में कोई दो-राय नहीं है कि जिंदा रहने के लिए पानी बेहद जरूरी है। लेकिन यह भी उतना ही सही है कि यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं या कोशिश कर रहे हैं, तो पीने का पानी भी आपको लक्ष्य तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाता है।




क्या पानी पीने से आपको वजन कम करने में मदद मिल सकती है?

Freepik

जवाब है, हां, मिल सकती है। और इसके फायदे साइंस द्वारा बैक्ड अप हैं।


पानी एक नेचुरल वाॅटर सप्रेसेंट है यानी भूख को दबाने वाला। 2018 में क्लिनिकल न्यूट्रिशन रिसर्च में प्रकाशित एक स्टडी में पाया गया कि जिन लोगों ने भोजन से पहले 300 ml
 पानी पिया, उन्होंनें उन लोगों की तुलना में कम खाना खाया, जिन्होंने खाने से पहले पानी नहीं पिया था।

पानी फैट गलाने में हेल्प करता है। पानी वास्तव में उस प्रोसेस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जो आपकी बाॅडी, बाॅडी-फैट गलाने में यूज करती है। 2016 की एक मिनी स्टडी में यह पाया गया कि वाॅटर इंटेक बढ़ाने और खाना कम हो जाने से, बाॅडी फैट लाॅस में मदद मिलती है।

यह कैलोरी बर्न कर सकता है। 2007 के एक अध्ययन में पाया गया कि जिन लोगों ने 500ml पानी पिया, हाइड्रेशन के 60 मिनट बाद ही 24 परसेंट अधिक आराम करने वाली उर्जा खर्च कर ली। यह लाॅन्ग टर्म वेट लाॅस में हेल्प करता है।
वेट लाॅस के लिए मुझे कितना पानी पीना चाहिए?


यह वो सवाल है, कि जहां चीजें थोड़ी मुश्किल हो जाती है, तो चलिए एक बेसलाइन से शुरू करते हैं। सिस्टम के ठीक तरह से काम करने के लिए प्रतिदिन करीब 64 औंस पानी पीना थंब रूल होना चाहिए। नेशनल एकेडमी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, महिलाओं को डेली, करीब 27 लीटर पानी पीना चाहिए।


लेकिन वेट लाॅज के परपज से पिया गया हर किसी का वाॅटर इंटेक अलग-अलग हो सकता है। उदाहरण के लिए अगर आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं या रेगुलर जिम में एक घंटा बिता रही हैं, तो ऑमेटिकली आपका ‘वाॅटर इंटेक’ जो एक्सरसाइज नहीं करते, उनसे अधिक होगा।

यही रूल ब्रेस्टफीड कराने वाली महिलाओं के लिए भी लागू होता है। लिहाजा आपको कितना पानी पीना चाहिए, इसका कोई फिक्स रूल नहीं है। लेकिन नियमित रूप से कम से कम भी हो तो भी 64 औंस पानी तो पिया ही जाना चाहिए। यानी हर रोज 8 कप पानी डेली।

जिन खाद्य पदार्थों में 70 से 89 प्रतिशत पानी होता है, उनमें केला, अंगूर, संतरा, नाशपाती और अनानास जैसे फल शामिल हैं। सब्जियों में गाजर, पकी हुई ब्राॅकली और एवोकाडो और डेयरी प्रोडक्ट जैसे दही, पनीर और रिकोटा चीज आदि शामिल हैं। जितना हो सके इन वाॅटर कंटेंट से लोडेड खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करें। इनसे आपको अपने वेट लाॅस गोल्स हिट करने में हेल्प तो डेफिनेटली मिलेगी।
क्या ज्यादा पानी पीने से वजन बढ़ सकता है?


बहुत ज्यादा पानी पीने से आपका वेट बढ़ सकता है, यह सही है। इस वेट को आप वाॅटर वेट के रूप में जानते हैं। वाॅटर वेट गेन में नमक का भी मेजर रोल होता है। नमक का ज्यादा इंटेक वाॅटर रिंटेंशन का कारण हो सकता है। कहना है प्लानल्स का।


अगर आप एक्सेस वाॅटर वेट को कम करना चाहते हैं, तो यहां कुछ उपाय हम बता रहे हैं।

हाइड्रेटेड रहें- डिहाइड्रेटेड रहने से हो सकता है, बाॅडी फिर पानी की ओर ज्यादा भागे! इसीलिए अगर आपको वाॅटर वेट से छुटकारा चाहिए, तो वाॅटर इंटेक कम करने की बजाए, हाइड्रेटेड रहें।

गेट मूविंग- शारीरिक रूप से सक्रिय रहें। काम करते रहने से या एक्टिव रहने से पसीना आता है और ‘जैसे ही हमारी हार्ट बीट बढ़ती है, तो पूरे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को रेगुलेट होने में मदद मिलती है, और आपके पैरों और पंजों में फ्लुइड बिल्ड अप कम होगा या नहीं होगा। एक बात और, आपको वर्कआउट के समय खोए हुए, तरल पदार्थों को फिर से भरना भी तो है!

लो कार्ब डाइट- जब आप बहुत ज्यादा कार्ब खाने में लेते हैं, लेकिन आपका शरीर उन सभी का उपयोग नहीं करता या कर पाता, तो वे ग्लाइकोजन में परिवर्तित हो जाते हैं यानी बदल जाते हैं और पानी के साथ आपकी मसल्स में डिपाॅजिट हो जाते हैं।



बहुत अधिक पानी पीने से हाइपोनेट्रेमिया नामक स्थिति भी हो सकती है। जो तब होती है, जब शरीर में सोडियम का स्तर सामान्य से कम होता या हो जाता है। यह स्थिति लाइफ थ्रेटनिंग हो सकती है, क्योंकि फ्लुइड बैलेंस, ब्लड प्रेशर कंट्रोल और नर्व और मसल रेगुलेशन को बनाए रखने के लिए सोडियम की आवश्यकता होती है।


नेशनल किडनी फाउंडेशन के अनुसार,‘जब आपके ब्लड में सोडियम का स्तर बहुत कम होता है, तो अतिरिक्त पानी अपनी कोशिकाओं यानी सेल्स में चला जाता है और उन्हें फुला देता है’।

यदि आप इस बात से चिंतित हैं कि आप पर्याप्त यानी मतलब भर का पानी नहीं पी रहे हैं, या बहुत ज्यादा पी रही हैं, तो आपको किसी रजिस्टर्ड डाइटीशियन से सलाह लेनी चाहिए, जो आपको आपकी हेल्थ के अनुसार, साहसी गाइडेंस दे सके, जिससे आपको वेट लाॅस के साथ ही प्राॅपर बाॅडी हाइड्रेशन भी मिल सके।

हम उम्मीद करते हैं कि ये जानकारी आपके काम आएगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.