Header Ads

खस से पाएं हेल्दी बाल और सेहतमंद त्वचा

डीआईवाईः खस से पाएं हेल्दी बाल और सेहतमंद त्वचा

त्वचा व बालों को पोषण देने से लेकर डीटॉक्स करने तक में खस फ़ायदेमंद है. बढ़ती उम्र के संकेतों को भी यह कम करता है. खस को अपनी ब्यूटी रूटीन का हिस्सा बनाकर आप अपनी त्वचा व बालों को एक्स्ट्रा केयर प्रदान कर सकती हैं. लेकिन क्या आप जानती हैं, कि खस को किस तरह अपनी ब्यूटी रूटीन का हिस्सा बनाया जा सकता है? नहीं, तो इस स्टोरी को ज़रूर देखें. हमने यहां आपको खस से स्क्रब, हेयर-रिंज़ इत्यादि बनाने का आसान तरीक़ा बताया है.


डीटॉक्स के ‌लिए खस बॉडी स्क्रब

स्टेप 1: धूप में सुखाई गई खस की जड़ का पाउडर तैयार करें. इस पाउडर में मूंग की दाल का पाउडर 1:2 के अनुपात में मिलाएं.

स्टेप 2: ऑयली स्किन के लिए इस मिश्रण में दही मिलाकर चिकना पेस्ट तैयार करें. वहीं यदि आपकी त्वचा ड्राय है, तो आप इसमें दही मिला सकती हैं.

स्टेप 3: हल्के हाथों से पूरे शरीर को स्क्रब करें. कुछ सेकेंड्स बाद त्वचा को साफ़ करें. आपकी त्वचा गहराई से साफ़-सुथरी नज़र आएगी.

Get healthy hair and skin with Vetiver
खस बॉडी मिस्ट, मूड बनाने के लिए

स्टेप 1: एक कप डिस्टिल्ड वॉटर लें.

स्टेप 2: इसमें जैस्मीन एसेंशियल ऑयल की तक़रीबन 20 बूंदें और खस के तेल की 10 बूंदें मिलाएं.

स्टेप 3: अब इस तैयार घोल को कांच के किसी स्प्रे बॉटल में भरें और अच्छी तरह मिलाएं. हर इस्तेमाल से पहले इसे अच्छी तरह शेक कर लें.




खस से तैयार करें ऑल-पर्पज़ बाम

स्टेप 1: 2 टेबलस्पून बीज़्वैक्स को डबल बॉयलर में पिघला लें.

स्टेप 2: 2 टेबलस्पून कोकोनट ऑयल और 1 टेबलस्पून बादाम का तेल बीज़्वैक्स में मिलाएं.

स्टेप 3: अब इसमें खस के तेल और लैवेंडर एसेंशियल ऑयल की 2 से 3 बूंदें मिलाएं.

स्टेप 4: अच्छी तरह मिलाकर एक घोल तैयार करें. इस घोल को आधे घंटे के लिए फ्रीज में रखकर इसकी कन्सिस्टेंसी सेट करें.


खस से पाएं चमकदार बाल

स्टेप 1: एक मीडियम-साइज़ के बाउल में फ़िल्टर्ड पानी भरें. आप चाहें तो मिट्टी के बर्तन में भी पानी ले सकते हैं, ताकि पानी ठंडा रहे.

स्टेप 2: पानी में खस की जड़ों को दो से तीन घंटे के लिए भिगोएं.

स्टेप 3: खस वाले पानी में नींबू की 1 या 2 स्लाइस डालें.

स्टेप 4: घोल को छानकर हर बार शैम्पू के बाद इस्तेमाल करें. यह आप‌के बालों को चमक और मज़बूती देगा.
एलोवेरा जेल को बनाएं जादुई नाइट क्रीम

फ़ेस पैक से लेकर स्क्रब तक में एलोवेरा जेल का इस्तेमाल आपकी त्वचा को ख़ूबसूरत और चमकदार बनाता है. त्वचा को ठंडक पहुंचाने और उसकी कोमलता को बढ़ानेवाला एलोवेरा यदि आपकी नाइट क्रीम की भूमिका में भी आ जाए, तो कैसा रहेगा? बिना ऑयल वाला सौम्य जेल जैसा इसका फ़ॉर्मूला आपकी त्वचा को गहराई से मॉइस्चराइज़ करता है. इसलिए यह एक बेहतरीन नाइट क्रीम बन सकता है. एलोवेरा को मैजिक जेल कहा जाए, तो ग़लत न होगा. एलोवेरा को जितने ज़्यादा तरीक़ों से हो सके, उतने ज़्यादा तरीक़ों से अपनी ब्यूटी रूटीन में शामिल करें. यह हमारी त्वचा को बेदाग़, मुलायम बनाने के अलावा और कई जादुई नतीजे देगा. नाइट क्रीम का इस्तेमाल करने से हमारी त्वचा को ज़रूरी पोषण मिलता है और हमारी त्वचा पर उम्र के संकेत भी कम नज़र आते हैं. इसलिए रात में एलोवेरा को नाइट क्रीम की तरह लगाकर मसाज करें और सुबह पाएं खिली-खिली मुलायम त्वचा. घर पर ही केमिकल फ्री, ऑल-नैचुरल और ताज़ा नाइट क्रीम तैयार करने के लिए नीचे दिए गए तरीक़ों को फ़ॉलो करें.
इस्तेमाल करने का तरीक़ा

सामान्य से ऑयली स्किन के लिए
ताज़ा एलोवेरा जेल में कुछ बूंदें नींबू की मिलाएं. इस मिश्रण को सोने से ठीक पहले अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं. सुबह उठते ही त्वचा को धोएं और पाएं दमकती हुई त्वचा. आप चाहें तो इसे लगाने के आधे घंटे बाद चेहरा धोकर नाइट क्रीम भी लगा सकती हैं.

ड्राय स्किन के लिए
यदि आपकी त्वचा बहुत ड्राय है, तो आप एलोवेरा जेल में एसेंशियल ऑयल की कुछ बूंदें या कोल्ड प्रेस्ड वर्जिन कोकोनट ऑयल मिलाकर लगाएं. यह मिश्रण आपकी त्वचा के लिए परफ़ेक्ट, पूरी तरह से नैचुरल नाइट क्रीम बन सकता है.

नियमित रूप से फ़ेशियल/क्लीन-अप कराने की 4 वजहें

जब पार्लर वाली आंटी/दीदी कहती है कि हर महीने फ़ेशियल कराया करो. फ़ेशियल न सही, कम से कम क्लीन-अप तो करा ही लिया करो. तो हमें लगता है कि वह अपने पैसे बनाने के लिए ऐसा कह रही है. हो भी सकता है कि कुछ का यही ‌इरादा हो, लेकिन सच्चाई यह है कि आपकी त्वचा को डेली क्लेंज़िंग-टोनिंग-मॉइस्चरा‌इज़िंग के अलावा भी कुछ एक्स्ट्रा चाहिए होता है. आपकी ‌त्वचा को वह एक्स्ट्रा मिलता है क्लीन-अप और फ़ेशियल जैसे ट्रीटमेंट्स से. असल में रोज़मर्रा की गंदगी, मेकअप, पसीना हमारी त्वचा में गहराई से समा जाते हैं. केवल क्लेंज़िंग व स्क्रबिंग से वे उतनी अच्छी तरह से साफ़ नहीं हो पाते. त्वचा के ठीक से साफ़ न होने पर वे आगे चलकर मुहांसों, ब्लैकहेड्स, वाइटहेड्स, ड्रायनेस, ऑयली पैचेज़ इत्यादि का रूप ले लेते हैं.

जल्दी उम्रदराज़ नहीं नज़र आएंगी
बढ़ती उम्र सबसे पहले आपकी रूखी और बेजान त्वचा से नज़र आती है. उम्र के बढ़ने के साथ-साथ कोलेजन का प्रोडक्शन घटता जाता है. कोलेजन आपकी त्वचा के लचीलेपन को बनाए रखती है. इसलिए जब कोलेजन घटता है, तो त्वचा ढीली और बेजान नज़र आने लगती है. फ़ेशियल कराने से आपकी त्वचा को पर्याप्त मॉइस्चर मिलता है. जिससे उसकी कसावट बनी रहती है और आप वक़्त से पहले उम्रदराज़ नहीं नज़र आतीं.


ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स की छुट्टी हो जाएगी
नाक पर काले-काले डॉट्स हों या ठोढ़ी पर सफ़ेद-सफ़ेद दाने, ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स को निकालने के लिए क्लीन-अप या फ़ेशियल से बेहतर विकल्प कुछ नहीं. ऑयल और डेड सेल्स के संयोजन से ब्लैकहेड्स और वाइटहेड्स पनपते हैं. त्वचा को साफ़-सुथरा रखकर आप इस समस्या से उबर सकती हैं. फ़ेशियल या क्लीन-अप कराने से आपकी त्वचा गहराई से साफ़ हो जाती है. फ़ेशियल के दौरान एक्स्ट्रैक्शन टूल की मदद से नाक, माथे और ठोढ़ी पर मौजूद इन ब्लैक और वाइट हेड्स को निकाला जाता है. जिससे आपकी त्वचा चिकनी और चमकदार नज़र आने लगती है.


पिग्मेंटेशन कम होगा और रंगत निखरेगी
यदि आपके गालों के ठीक ऊपर काली झाइयां पड़ गई हैं या फिर डार्क सर्कल्स हैं, तो नियमित रूप से फ़ेशियल कराएं. इस तरह का कालापन, पिग्मेंटशन बढ़ती उम्र के साथ बढ़ते जाते हैं. सूरज की हानिकारक किरणें, प्रदूषण और हार्मोन्स का संतुलन बिगड़ने से भी ये समस्याएं हो सकती हैं. नियमित फ़ेशियल कराने से आपकी रंगत धीरे-धीरे एकसमान नज़र आने लगेगी. दाग़-धब्बे और डार्क सर्कल्स भी कम होने लगेंगे. कुछ ‌ही सेशन्स के बाद आपकी त्वचा निखरी हुई नज़र आएगी.

रोमछिद्र रहेंगे साफ़-सुथरे
रोज़मर्रा की दौड़-धूप में हम अपनी त्वचा का ख़्याल ठीक से नहीं रख पाते. ख़्याल रखने से हमारा मतलब यहां है, कि हम उसे ठीक तरह से साफ़ तक नहीं कर पाते. हवा की नमी, प्रदूषण, गंदगी, पसीना, मेकअप इत्यादि हमारे रोमछिद्रों को प्रभावित करते हैं, उन्हें ब्लॉक करते हैं. इन्हीं कारणों से त्वचा बेजान नज़र आती है और मुहांसों से भर जाती है. रोज़ाना क्लेंज़िंग करने से आपकी त्वचा केवल ऊपरी तौर पर साफ़ होती है, लेकिन बंद रोमछिद्र के अंदर गंदगी इकट्ठा होने लगती है. फ़े‌शियल में स्टीम लेने की प्रक्रिया से आपके रोमछिद्र खुल जाते हैं. साथ ही स्क्रब करने से उनकी गंदगी भी पूरी तरह से निकल जाती है. ‌जब आपके रोमछिद्र साफ़, तो आपकी त्वचा की सेहत भी बनी रहेगी.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.