Header Ads

इस सब्जी में होती हैं दूध जितनी ताकत


इस सब्जी में होती हैं दूध जितनी ताकत, कई बीमारियों से दिलाती हैं छुटकारा

 पत्तागोभी तो आप सब जानते ही होंगे और इसका इस्तेमाल भी क्या होगा। विश्व भर में इसका इस्तेमाल कई तरह के लजीज व्यंजनों में किया जाता है।पत्तागोभी एक बहुत ही फायदेमंद सब्जी है इसलिए इसका यूज करना चाहिए। पत्तागोभी में दूध के जितना कैल्शियम पाया जाता है। इसके सेवन से हमारी कई सारी बीमारियाँ दूर हो जाती हैं क्योकि इसमें आयरन , फाइबर और विटामिन जैसे पोषक तत्व पाए जाते है जो की शरीर को फिट रखते है अक्सर इसका उपयोग सलाद तथा चाइनिज डिश में होता है क्योंकि इसकी सब्जी अधिकतर लोगों को पसंद नहीं होती और लोगो को पत्ता गोभी खाने का मन भी नहीं होता। पत्तागोभी स्वास्थ्य, स्किन और बालों के लिए बेहद उपयोगी है। क्योंकि इसमें मिनरल्स, आयरन तथा सल्फर काफी ज्यादा मात्रा में होते है। जानते हैं पत्तागोभी के फायदों के बारे में..

वजन कम: आज के समय में बढ़ता वजन हर किसी के लिए समस्या बना हुआ है और अगर आप अपना वजन कम करना चाहते है तो पत्ता गोभी को अपनी डाइट में जरूर शामिल करे। रोजाना पत्ता गोभी का सूप और इसकी सब्जी का सेवन बहुत जल्दी आपका वजन कम कर सकते है।


स्किन के लिए लाभकारी: पत्तागोभी में ऑक्‍सीडेंट की मात्रा काफी अधिक पाई जाती है। जो आपकी स्किन के लिए बेहद लाभकारी होती है और आपकी स्किन को कई परेशानियों से भी बचाता है। बढ़ती उम्र के साथ आँखों में मोतियाबिंद की समस्या होने लगती है जिसे पत्ता गोभी से दूर किया जा सकता है। इसमें बीटा कैरेटिन पाया जाता है जो की आँखों के लिए बहुत फायदेमंद है और आँखों को स्वस्थ बनाता है।



हड्डियों को मजबूत: इसमें दूध के बराबर कैल्शियम होता है। जो आपकी हड्डियों को मजबूत करता है। इसलिए जिन लोगों को दूध पीना नहीं पसंद है उनके लिए यो एक अच्छा विकल्प हो सकता है। पेट दर्द के लिए भी पत्तागोभी लाभकारी होती है। पोषक तत्वों से भरपूर पत्तागोभी में अमीनो एसिड अत्यधिक मात्रा में होता है। जो घुटने और जोड़ों की सूजन को कम करने में सहायता करता है।


बालों के लिए फायदेमंद : इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन्स और सिलिकॉन पाए जाते है जो की बालों के लिए बहुत फायदेमंद होते है अगर आप सफ़ेद बाल ,बालों का झड़ना और बालो के टूटने जैसी समस्यायों से परेशान है तो आप रोजाना पत्ता गोभी का सेवन करे जिससे आपको बहुत जल्दी आराम मिलेगा।

नारियल पानी के ये फायदे जान दंग रह जाएंगे आप

नई दिल्ली। आज हम नारियल पानी को लेकर बात करे तो आपको ये बता दें कि नारियल चाहे कच्चा हो या फिर सुखा दोनों ही आपके लिए काफी अच्छे होते हैं एवं साथ ही ये अनेक तरह के फायदे भी देते है। 


दरअसल, सवेरे के वक्त यदि चाय या कॉफी की बजाए नारियल पानी का सेवन किया जाए तो सेहत और स्वास्थ्य दोनों हेतु ही लाभदायक होता है। 


जानिए नारियल पानी के अनगिनत फायदे 
- नारियल पानी के सेवन से वजन पर भी नियंत्रण रहता है। इससे भूख नही लगती है एवं इसके संग ही पेट भी भरा-भरा सा रहता है। 

- सिर दर्द से जुड़ी अधिकतर परेशानियां डिहाइड्रेशन की वजह से ही होती हैं। ऐसे में नारियल पानी शरीर को तुरंत इलेक्ट्रोलाइट्स पहुंचाने का कार्य करता है, जिससे हाइड्रेशन का स्तर सुधर जाता है। 



- नारियल पानी के सेवन से दिमाग की नसे शांत होती है और यादाश्त में भी वृद्धि होती है। इसके संग ही स्टैमिना भी बढ़ता है। 

- बढ़ती हुई आयु के असर को कम करने हेतु भी नारियल पानी का उपयोग किया जाता है। इसमें मौजूद सायटोकिनिन कोशिकाओं एवं ऊतकों पर सकारात्मक प्रभाव डालकर बढ़ती आयु के असर को कम करने में सहयता करता है। 

- नारियल पानी के सेवन से शरीर में पानी की कमी नहीं रहती है। शरीर में पानी की कमी होने पर नारियल का पानी पीना काफी लाभदायक रहता है।

अगर खर्राटे बन रहे है आपके लिए मुसीबत तो आजमाएं ये देशी फंडे, मिलेगी राहत

यह एक आम परेशानी है जो किसी भी उम्र के इंसान को हो सकती है। मगर बढ़ती उम्र के साथ खर्राटे की समस्या दिन ब दिन और बढ़ती ही जाती है। ऐसे में घर के सभी लोग तो खर्राटों की आवाज से परेशान होते ही हैं, लेकिन इसके साथ ही उस व्यक्ति को भी इसका सेहत से जुड़ा नुकसान होता हैं। ऐसे में जरूरी हैं

डेस्क। आपने देखा होगा कि हर घर में कोई ना कोई व्यक्ति तो ऐसा होता ही हैं जिसे तेज खर्राटे आते हैं और वे पूरी रात गूंजते रहते है। यह एक आम परेशानी है जो किसी भी उम्र के इंसान को हो सकती है। मगर बढ़ती उम्र के साथ खर्राटे की समस्या दिन ब दिन और बढ़ती ही जाती है। ऐसे में घर के सभी लोग तो खर्राटों की आवाज से परेशान होते ही हैं, लेकिन इसके साथ ही उस व्यक्ति को भी इसका सेहत से जुड़ा नुकसान होता हैं। ऐसे में जरूरी हैं कि समय रहते खर्राटों की इस समस्या से जल्द निजात पाई जाए। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे उपाय लेकर आए हैं जिनकी मदद से खर्राटों से जल्द निजात पाई जा सकती हैं। तो आइये जानते हैं इन उपायों के बारे में।

लहसुन: लहसुन की 2-4 कलियां लें। फिर इनको सरसों का तेल में डालकर गर्म करें। फिर रोजाना रात को सोने से पहले इस तेल से छाती की मालिश करें।



हल्दी-दूध: सोने से पहले 1 गिलास हल्दी वाला दूध पिएं। नियमित रूप से इसका सेवन करने से आपको खर्राटों से छुटकारा मिलेगा।

इलायची: खर्राटो की समस्या दूर करने के लिए आप इलायची का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इसके लिए सोने से पहले इलायची के कुछ दानों को गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पिएं। इससे आपकी यह परेशानी दूर हो जाएगी।



शहद: शहद पीने से भी खर्राटे की समस्या से राहत मिलती है। रात को सोने से पहले 1 चम्मच शहद पिएं। शहद पीने से गले की नसों को आराम मिलता है। इससे खर्राटे की समस्या दूर होती है।



पुदीना: रात को सोने से पहले पुदीने के तेल की कुछ बूंदें मुंह में डालकर गरारे करें। इससे नाक के छिद्रों की सूजन कम होगी। सांस अच्छी तरह से ले पाएंगे। आप चाहें तो पुदीने के तेल को नाक में भी डाल सकते हैं।



पुरुष जरूर पढ़े ये खबर, केवल 5 दिन रात को सोने से पहले खा ले ये चीज, फिर देखे कमाल


कई सारे लोगों को नहीं पता होता है की लहसुन का सेवन करने से कौन से लाभ प्राप्त होते है। इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे है की रात को सोते वक्त एक लहसुन को शहद के साथ खाने से कौन से फायदे होते है।



डेस्क। लहसुन आप सब जानते ही हैं लहसुन के औषधीय गुणों का प्रयोग करते है। लहसुन में सिर्फ इतने सारे गुण ही नहीं होते बल्कि इन सब के अलावा लहसुन में 12 प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और लहसुन को भून कर खाने से जितने लाभ होते है। लहसुन में सिर्फ इतने सारे गुण ही नहीं होते बल्कि इन सब के अलावा लहसुन में 12 प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और लहसुन को भून कर खाने से जितने लाभ होते है। लहसुन में विटामिन ए, बी-कॉम्प्लेक्स और विटामिन सी की बहुत मात्रा होती है। लहसुन कैल्शियम, तांबे, मैंगनीज, फास्फोरस, पोटेशियम, आयरन और तांबे जैसे खनिजो का भी एक अच्छा स्रोत है। उससे कई अधिक फायदे कच्चा लहसुन खाने से होते है। किन्तु कई सारे लोगों को नहीं पता होता है की लहसुन का सेवन करने से कौन से लाभ प्राप्त होते है। इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे है की रात को सोते वक्त एक लहसुन को शहद के साथ खाने से कौन से फायदे होते है।

दांतो के दर्द से निजात: लहसुन का सेवन रोजाना रात को करते हैं तो आप दांतो के दर्द से निजात पा सकते हैं क्योकि लहसुन में कुछ ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो आपके दांत में मौजूद कीटाणुओं को खत्म कर देते हैं। लहसुन में एंटी-बैक्टीरिअल गुण पाए जाए हैं।




कैंसर की रोकथाम: लहसुन की कली और शहद में ऐसे कई सारे गुण होते है जो कैंसर से बचाते है, लहसुन और शहद विशेष रूप से व्यक्ति के पेट में होने वाले कैंसर के खतरों को कम करने का कार्य करता है।

ठंड से बचाता है: यदि आपको ठंड लग गयी है तो ठंड से बचने के लिए आपको सोने से पहले दो लहसुन की कली और एक चम्मच शहद का सेवन अवश्य कीजिये। लहसुन और शहद ठंड के लिए एक दवा के रूप में कार्य करता है।

पेट में होने वाली गैस की समस्या: लहसुन की कली और शहद छोटी मात्रा लेने से पेट में होने वाली गैस की समस्या से राहत मिलता है।



कोलेस्ट्रॉल की समस्या: लहसुन की कली और शहद का रस खून में कोलेस्ट्रॉल के ऑक्सीकरण को कम करता है और साथ ही हृदय रोगों की समस्या को भी कम करता है।

फंगल संक्रमणों के इलाज: लहसुन की कली और शहद पैर या कान में होने वाले संक्रमण जैसे की फंगल संक्रमणों के इलाज में लाभदायक होता है और खुजली को समाप्त करने के लिए जहा पर खुजली की समस्या हो उस स्थान पर लहसुन का रस लगाएं।




पुरुषों के मेल हार्मोन : लहसुन में ऐलीसिन नाम का पदार्थ होता है जो पुरुषों के मेल हार्मोन यानी सेक्‍स हार्मोन के स्‍तर को ठीक रखता है। इससे पुरुषों में इरेक्‍टाइल डिस्‍फंक्‍शन दूर होता है। वहीं लहसुन में सेलेनियम और भारी मात्रा में विटामिन पाए जाते हैं जिससे स्‍पर्म क्‍वालिटी बढ़ती है।


अगर पाना चाहते हैं लोहे जैसे मजबूत दांत तो खाने में इस्तेमाल करें ये चीजें

डेस्क। आजकल दांतों के साथ कई समस्याए देखने को मिलती हैं जिसमें मसूड़े में दर्द, मसूड़ों से खून आना, कैविटी, दांत दर्द, दांतों का पीलापन आदि शामिल है। इन वजहों से दांतों के कमजोर होने और टूटने का डर बना रहता हैं। इन समस्याओं के लगातार बने रहने से आपके दांत कमजोर हो सकते हैं। ऐसे में दांतों को मजबूती देने के लिए आपको अपने दांतों की साफ-सफाई पर ध्यान देना होगा। और आपको जरूरत होती हैं दांतों को मजबूत बनाने की। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे आहार लेकर आए हैं जो दांतों को मजबूत बनाने में कारगर साबित होते हैं। तो आइये जानते हैं उन आहार के बारे में...

पालक: दांतों को मजबूत और हेल्दी बनाने के लिए पालक की सब्जी या जूस पिएं।इसमें विटामिन और खनिज से भरपूर होता है। इसमें आयरन, विटामिन ए, विटामिन सी और फोलिक एसिड भी होता है। ये विटामिन और खनिज दांतों की सेहत में सुधार करते हैं। 


अंडा: अंडे में कैल्शियम और फॉस्फोरस होता है और ये दोनों तत्व दांतों की मजबूती में सबसे अहम भूमिका निभाते हैं। इसमें विटामिन डी भी होता है, जो कैल्शियम को एब्जॉर्ब करने में शरीर की मदद करता है।

एवोकाडो: एवोकाडो दंतों को हेल्दी रखने के लिए एक बेहतर आहार है। एवोकाडो प्रोबायोटिक्स फाइबर से भरपूत होता है, जो स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने में सहायता करता है।
लहसुन: लहसुन भी शरीर और दांतों के लिए अच्छा माना गया है। लहसुन एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है। इसमें एलिसिन नामक तत्व होते हैं, जो एंटीफंगल, एंटीवायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है। यह खराब बैक्टीरिया को नियंत्रित करता है, जो कैविटी और मसूड़े के रोग की समस्याओं का कारण बनते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.