Header Ads

हैरान कर देंगे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से जुड़े ये 5 मिथक

इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के बारे में फैलाई गई हैं ये 5 गलत बातें, जानें सचअगली गेलरी
हैरान कर देंगे इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से जुड़े ये 5 मिथक


इरेक्टाइल डिस्फंक्शन एक ऐसी समस्या है जिसमें पुरुष इंटरकोर्स के दौरान इरेक्शन को मेनटेन नहीं कर पाता। सेक्शुअल लाइफ के अलावा इसका सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है। लेकिन इससे जुड़े कुछ मिथक हैं जिन्हें लोग सच मानते हैं और इसी वजह से इसका इलाज कराने से भी डरते हैं। लेकिन इन मिथकों का सच कुछ और ही है। आइए जानते हैं इरेक्टाइल डिस्फंक्शन से जुड़े कुछ मिथक और उनके सच....
​इरेक्टाइल डिस्फंक्शन हुआ तो सेक्स लाइफ खत्म

यह एक मिथक है। अगर किसी पुरुष को इरेक्शन की समस्या है तो वह इंटरकोर्स से कुछ टाइम पहले डॉक्टरी सलाह पर कुछ मेडिसिन ले सकता है, जिससे सेक्स लाइफ में किसी भी तरह की परेशानी नहीं आएगी।

मेल प्राइवेट पार्ट में दिक्कत

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। कुछ लोग यही गलती कर देते हैं, जबकि इरेक्शन इस ओर भी इशारा करता है कि पीनिस के अलावा शरीर के अन्य हिस्सों में भी कोई परेशानी हो सकती है। इसलिए समय रहते डॉक्टर से संपर्क जरूरी है।

​सिगरेट पीने से पीनिस पर प्रभाव नहीं पड़ता

यह कोरा मिथक है। आपकी गलत आदतें जैसे कि सिगरेट पीना...इनसे मेल प्राइवेट पार्ट पर बुरा असर पड़ता है। दरअसल सिगरेट पीने से मेल प्राइवेट पार्ट की ब्लड वेसल्स नष्ट हो जाती हैं, जिससे वहां ब्लड फ्लो नहीं हो पाता और इसी वजह से इरेक्शन नहीं होता।
​टाइट अंडरवेअर पहनने से इरेक्शन की समस्या?


टाइट अंडरवेअर से किसी तरह की इरेक्शन संबंधी परेशानी नहीं होती, लेकिन हां इससे फर्टिलिटी पर जरूर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

​सिर्फ बुढ़ापे में होता है इरेक्टाइल डिस्फंक्शन
ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। माना कि बढ़ती उम्र के साथ इरेक्शन की समस्या आने लगती है, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी न करें कि इसे आप उम्र का तकाजा मानकर स्वीकार कर लें। ऐसा इसलिए क्योंकि उम्र ज्यादा होने के बाद भी ज्यादातर पुरुष अपनी सेक्स लाइफ इंजॉय करते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.