Header Ads

ये घटाते हैं पेट का फैट


8 खाद्य : ये घटाते हैं पेट का फैट
https://www.healthsiswealth.com/
आप कितने लोगों को जानते हैं जिन्होंने खराब डाइट और एक्सरसाइज की कमी के कारण अपने पेट को बढ़ते हुए देखा है?


7 संकेत जो बताते हैं, आप पर्याप्त प्रोटीन नहीं खा रहे हैं
5 स्मूदी जो करेंगी कब्ज का अंत
नट्स और बीज : इन्हें क्यों भिगोना चाहिए?


हकीकत यह है कि आज मोटापा पूरी दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य समस्याओं में एक है। कई लोगों के लिए पेट के फैट को कम करना एक मुश्किल लेकिन आपातकालीन काम है, अगर उन्हें स्वस्थ रहना है।

इसे कर पाने से हाइपरटेंशन (हाई ब्लड प्रेशर), मेटाबोलिक सिंड्रोम, हार्ट डिजीज, मेमोरी लॉस, डायबिटीज और कुछ प्रकार के कैंसर जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से बचने में मदद मिलती है।

वजन घटाने की गोलियों जैसे तरीके भी हैं, लेकिन सच यह है कि इनके नेगेटिव साइड इफेक्ट हैं जिन्हें टाला जा सकता है।

यदि आप अपने डाइट में इन चीजों को शामिल करें तो आपके लिए पेट के फैट से छुटकारा पाने का टार्गेट हासिल करना आसान होगा।
1. पेट का फैट घटाने के लिए सेब (Apples)


जब बात पेट का फैट घटाने की आती है तो किसी भी किस्म का सेब उपयोगी होता है। इसमें ढेर सारा फाइबर है इसलिए इन्हें बहुत ज्यादा न भी खाएं तो पेट भरा हुआ महसूस होगा।

इसके अलावा, वे एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर हैं और उनमें पेक्टिन (Pectin) होता है।

यह यौगिक जमे हुए फैट को रिलीज़ करवाता है और आपके शरीर में अवशोषित होने वाले फैट की मात्रा को सीमित करके आपको अपने पेट और पूरे शरीर में फैट घटाने में मदद करता है।


इसे भी आजमायें: नींबू और फ्लैक्स सीड वाटर : क्या यह वजन कम करने में मददगार है?
2. टमाटर (Tomatoes)

टमाटर में विटामिन और खनिज सामग्री प्रचुर मात्रा में हैं। आपके सामान्य स्वास्थ्य के लिए यह बहुत फायदेमंद है। यही कारण है कि टमाटर कैंसर जैसी बीमारियों को रोकने में मददगार होने के लिए जाना जाता हैं।

इसमें मौजूद एसिडिक प्रकृति और लाइकोपिन की मेहरबानी से टमाटर पेट के फैट को कम करने के लिए आदर्श है। इसके अलावा, हम जो फैट खाते हैं उसे ये एनर्जी में बदलने में मददगार हैं। इसलिए यदि आप नियमित रूप से टमाटर खायेंगे तो आपको कम समय में पॉजिटिव नतीजे दिखाई देंगें।

यदि आप पके हुए टमाटर खायेंगे तो आपके शरीर को लाइकोपीन से ज्यादा लाभ मिलेगा।
3. लहसुन (Garlic)

लहसुन एक और सेहतमंद फूड है जो आपको पेट का फैट को कम करने में मदद करेगा। यह इसमें मौजूद एलिसिन की ऊँची मात्रा के कारण है। यह केमिकल खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) को हटाता है।

एलिसिन फैट के संचय को भी रोकता है। आपको पॉजिटिव नतीजे देखने के लिए हर सुबह केवल दो लहसुन की कलियां खाने की ज़रूरत है।

हम जानते हैं, हर कोई लहसुन का स्वाद पसंद नहीं करता है। लेकिन इसे एक छोटा सा बलिदान समझें जो पेट का फैट कम करने में आपकी मदद करेगा।
4. बादाम (Almonds)


बादाम आपके कोलेस्ट्रॉल को कम करके फैट को जलाने में आपकी मदद करते हैं। यह ड्राई फ्रूट फाइबर और ट्रिप्टोफेन से भरपूर है जो आपको ज्यादा जल्दी ज्यादा भरा हुआ महसूस कराते हैं और आपको ज़रूरत से ज्यादा खाने से बचने में मदद करते हैं।

इसके अलावा, बादाम में प्रोटीन की ऊँची मात्रा होती है इसलिए वह लीन मसल मास, भोजन को बेहतर पचाने और स्वस्थ बाउल मूवमेंट में मदद करता है।

बेशक आपको याद रखना चाहिए, यदि बहुत सारे बादाम खायेंगे तो आप अपने डाइट में एक्स्ट्रा कैलोरी जोड़ेंगे। आदर्श रूप से, आपको दिन में ज्यादा से ज्यादा 25 ग्राम बादाम खाना चाहिए।
5. खीरा (Cucumber)

यह फल हमारी त्वचा और आंखों के लिए बहुत उपयोगी है। यह वजन घटाने की गति बढ़ाता है। खीरे फाइबर से समृद्ध हैं और आपको जल्दी भरा हुआ महसूस करायेंगे। इसके अलावा, इनमें पानी की ज्यादा मात्रा के कारण कैलोरी कम होती है।

एक पूरे खीरे में लगभग 45 कैलोरी होती है। इसलिए पेट के फैट को कम करने के मामले में खीरे आदर्श होते हैं।

खीरे में मूत्रवर्धक और डिटॉक्स करने के गुण भी होते हैं। वे पाचन को उत्तेजित करते हैं। इनका आपके बालों और नाखूनों पर अच्छा असर होता है।


इसे भी आजमायें: ब्रेकफास्ट और डिनर पर वज़न घटाने के 5 कारगर तरीके
6. ओट्स (Oats)

जई या ओट्स आपके शरीर के लिए सबसे फायदेमंद अनाजों में गिने जाते हैं। उनमें कम कैलोरी है। ये सेल मेटाबोलिज्म को नियंत्रित करने में आपकी मदद करते हैं।

अगर आपके डॉक्टर ने बताया है कि आपको दिल की समस्याएं शुरू हो रही हैं तो आपको पता होना चाहिए कि ओट्स इन कार्यों में सक्षम हैं:
ये ब्लड कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद करते हैं।
ये सर्कुलेशन को सुधारते हैं।
ये कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम की एक सामान्य स्तर पर मदद करते हैं।

सबसे अच्छी बात यह है कि ओट्स आपको नेचुरल तरीके से वजन कम करने में मदद करते हैं। सुबह नाश्ते के लिए ओट्स को कुछ बेरीज के साथ खाना एक अच्छा ऑप्शन है।
7. हरी बीन्स (Green beans)


इस किस्म की बीन प्रचुर विटामिन, खनिज, एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन और फाइबर देती है।

जब पेट का फैट कम करना है, तो हरी बीन्स आपको एक्स्ट्रा कैलोरी के बगैर पेट भरा हुआ महसूस कराने में मदद करती हैं। लेकिन इसमें प्रोटीन की ऊँची मात्रा के कारण आपका कैलोरी सेवन बढ़ जाता है।
8. पेट का फैट घटाती है शहद (Honey)

बिस्तर पर जाने से पहले एक चम्मच शहद खाने से पेट का फैट घटाने में मदद मिलेगी। हीलिंग के लिए इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री में शहद सबसे पुरानी है।

शहद मीठी होने के बावजूद आपको याद रखना चाहिए कि यह चीनी जैसी नहीं है। क्योंकि चीनी शहद की तरह कोई न्यूट्रीशन वैल्यू नहीं देती है।

यदि एक चम्मच शहद लेना बहुत ज्यादा लगता है तो इसे अपनी कॉफी या चाय में एक स्वीटनर की तरह इस्तेमाल करके देखें।




वज़न घटाने का सबसे असरदार तरीका: अपना मेटाबोलिज्म तेज़ करें

सोडा और अन्य फेनिल ड्रिंक की जगह ठंडा पानी पीना मेटाबोलिज्म को तेज़ करने का बहुत असरदार माध्यम है। इसकी वजह यह है कि ठंडा पानी पीने के बाद शारीरिक तापमान को सामान्य स्तर पर लाने के लिए शरीर ज़्यादा एनर्जी खर्च करेगा।
0शेयर किया गया 

7 संकेत जो बताते हैं, आप पर्याप्त प्रोटीन नहीं खा रहे हैं
5 स्मूदी जो करेंगी कब्ज का अंत
नट्स और बीज : इन्हें क्यों भिगोना चाहिए?

बात जब वज़न घटाने के बेहतरीन विकल्पों की आती है तो हर किसी की राय अलग-अलग होती है। कुछ लोगों को लगता है, खाना न खाना या कठोर डाइट प्लान पर रहना ही सर्वश्रेष्ठ होता है। कुछ अन्य लोग अपने न्यूट्रिशनिस्ट के बताए आहार का सेवन करते हैं। इस पोस्ट में, हम आपको इन विकल्पों के अलावा आपके मेटाबोलिज्म को तेज़ कर देने वाले एक दिलचस्प और आसान विकल्प के बारे में बताएँगे।

यह बहुत ही अच्छा विकल्प है। क्योंकि कोई भी जोखिम उठाये बगैर या अपने शरीर को भूखे मारे बिना ही यह उसे अपने ऊपर काबू रखना सिखा देता है। है न रोचक? क्या आप इसे आज़माना चाहेंगे? अगर आपका जवाब हाँ है तो अपने मेटाबोलिज्म को तेज़ कर देने वाले इन विकल्पों को आज़माकर कम प्रयास में ही जबरदस्त तंदरुस्ती पा सकते हैं।
मेटाबोलिज्म क्या है?

इससे पहले कि हम आपको बताएं कि आप अपने मेटाबोलिज्म को कैसे तेज़ कर सकते हैं, यह जानना ज़रूरी है कि वह आखिर होता क्या है। हमारे शरीर की सक्रिय अवस्था में उसके अंदर होने वाली सभी रासायनिक क्रिया-प्रतिक्रियाओं को ही इकट्ठे तौर पर मेटाबोलिज्म कहा जाता है।

इन प्रतिक्रिओं की गति ही यह निर्धारित करती है कि आप कितनी कैलोरी जलाएंगे। मेटाबोलिज्म के तेज़ होने पर ज़्यादा ऊर्जा खर्च होती है। इसलिए आपके शरीर में वसा कम जमा होगी व आपका वज़न ज़्यादा तेज़ी से घटेगा।
पर्याप्त प्रोटीन का सेवन करें

अपने मेटाबोलिज्म को चुस्त बनाने का सबसे आसान तरीका है, अपने शरीर को ऐसा पोषक आहार देना, जिसे तोड़ने में उसे मेहनत करनी पड़े। ऐसे में, थर्मल इफ़ेक्ट वाले खाद्य पदार्थ सबसे अच्छे विकल्प होते हैं, जैसे कि प्रोटीन।

प्रोटीन में वसा की न्यूनतम मात्रा होती है। शरीर में सोखे जाने के लिए ये खाद्य अपने पाचन के लिए शरीर से कड़ी मेहनत की मांग करते हैं। इसीलिए आपको ज़्यादा समय तक भूख नहीं लगती और आपका शरीर ज्यदा मेहनत करता है।

अच्छी क्वालिटी वाले प्रोटीन का सेवन कर आप ऐसा कर सकते हैं। अगर संभव हो तो प्रीज़र्वेटिव-मुक्त कम चरबी वाले मांस-मछली और ऑर्गेनिक दानों का सेवन करें। यह साबित किया जा चुका है कि 30% ज़्यादा प्रोटीन का सेवन कर आप अपने भोजन में 441 कैलोरीज कम कर सकते हैं।

इसे भी आज़माएँ: 8 खाद्य पदार्थ जो 30 दिन में लीवर को देंगे नया जीवन, घटाएंगे वज़न
ठंडा पानी पियें

आप अपनी प्यास कैसे बुझाते हैं? बदकिस्मती से, ज़्यादातर लोग कोल्ड ड्रिंक और केमिकल युक्त दूसरे मीठे पेय पीते हैं। अगर आप भी उन्हीं लोगों में से एक हैं तो आपको यह समझ लेना चाहिए कि वज़न कम करने की अपनी कोशिशों पर पानी फेरकर आप अपने मेटाबोलिज्म को धीमा कर रहे हैं।

रसायन या चीनी वाले सभी प्रकार के ड्रिंक में शरीर को प्रभावित करने वाली कैलोरी की बड़ी मात्रा होती है। अपने मेटाबोलिज्म को तेज़ बनाने के लिए आपको अपने सामान्य पेय पदार्थों की जगह एक गिलास ठंडा पानी पीना चाहिए।

इससे आपका मेटाबोलिज्म एकदम से तेज़ हो जाएगा क्योंकि आपके शरीर को अपने तापमान को पुनः स्थिर करने के लिए ज़्यादा ऊर्जा की ज़रूरत होगी। लेकिन यह असर स्थायी नहीं होता। एक बार आपका शरीर अपना तापमान वापस प्राप्त कर ले तो आपका मेटाबोलिज्म भी सामान्य हो जाता है।

इसीलिए यह ज़रूरी है कि आप सारा दिन ठंडा पानी पीते रहें। सर्दी-गर्मी की चिंता न करें। आपका शरीर जल्द ही इसका आदी हो जाएगा व आप सर्दी या किसी और बीमारी की चपेट में नहीं आएंगे।


इसे भी आज़माएँ: अदरक और हल्दी वाली स्वादिष्ट चाय पीकर अपना वज़न घटाएं
हाई-इंटेंसिटी एक्सरसाइज़ करें
यह बात आपको पहले से ही पता है कि स्वस्थ रहने के लिए आपको रोज़ाना कसरत करनी चाहिए। लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सभी शारीरिक व्यायाम आपके मेटाबोलिज्म को तेज़ नहीं बनाते। ऐसे में, आपके लिए सर्वश्रेष्ठ कसरत हाई-इंटेंसिटी इंटरवल्स वाली एक्सरसाइज़ ही होती है।

ये एक्सरसाइज आपके शरीर के फैट को जलाने की क्षमता को तेज़ करके कसरत के बाद भी आपके मेटाबोलिज्म को चुस्त बनाए रखती हैं। लेकिन अपनी अस्वस्थ शारीरिक अवस्था की वजह से कुछ लोगों के लिए यह कसरत मुश्किल हो सकती है।

तो आप अपने आपको एक चुनौती देकर क्यों नहीं देखते? अगर आप इसे रोज़ाना नहीं कर सकते तो हफ्ते में कम से कम दो बार तो करें। बाकी दिन हल्की-फुल्की कसरतों से अपना काम चला सकते हैं। इससे भी बेहतर विकल्प है, हर रोज़ 30 मिनट की अपनी कसरत में 5 मिनट की हाई-इंटेंसिटी एक्सरसाइज़ को शामिल कर लेना। जल्द ही आप यह महसूस करेंगे, आपका स्टैमिना धीरे-धीरे बढ़ रहा है।
हमेशा बैठे रहने से बचें

दिन में आप कितने घंटे बैठे रहते हैं? सच तो यह है कि ज़्यादातर लोग कई घंटों तक बैठे रहते हैं। बैठना भले ही बहुत आरामदायक क्यों न हो, लेकिन आपकी सेहत को निरंतर गतिविधि की ज़रूरत होती है।
अगर आपको बहुत सारा काम होता है तो कम से कम कुछ घंटों तक खड़े रहकर उसे करने की कोशिश करें। शुरू में यह थोड़ा अजीब भले ही लगे, लेकिन बात जब आपके मेटाबोलिज्म को तेज़ करने की हो तो यह कोई बुरा ख्याल भी नहीं है। एक और विकल्प है हर आधे घंटे बाद खड़े होकर 2-5 मिनट के लिए थोड़ी स्ट्रेचिंग करना।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.