Header Ads

खाली पेट पानी पीने के फायदे

खाली पेट पानी पीने के फायदे

अगर पानी न हो तो क्या होगा ? हम बचपन से सुनते आए है. “जल ही जीवन हैं”. लेकिन कभी किसी को ख़याल भी नहीं आया कि कभी इंसान “पानी” के लिए भी तरस सकता है। पर आज हकीकत यही है…हमारी सबसे बड़ी ज़रूरत जल है…क्योंकि अगर जल नहीं है तो जीवन नहीं है… आज Water benefits In Hindi पढ़कर हम उम्मीद करते है कि आप भी जल बचाने की दिशा में कोई कदम उठाएंगे.
पानी पीने के फायदे | 

1. भरपूर मात्रा में पानी पीने से, शरीर में मौजूद हानिकारक एवं विषैले तत्व पसीने व मूत्र द्वारा शरीर से बाहर निकल जाते हैं। इसीलिए सुबह खाली पेट पानी हमारी सेहत के लिए जरूरी हैं। 
2. सुबह खाली पेट पानी पीने से बड़ी से बड़ी कब्ज खत्म हो जाती हैं। 
3. सुबह खाली पेट एवं दिनभर पानी पीते रहने से तनाव नहीं होता। 
4. सुबह उठकर ठंडा पानी पीने से वजन भी घटता हैं। 
5. सुबह और पूरे दिनभर पानी पीते रहने से पेशाब की जलन दूर होती हैं। 
6. सुबह उठकर खाली पेट पानी पीने से त्वचा में कोमलता और ताजगी बनी रहती हैं। 

7. पानी पीने से हमारे शरीर का तापमान भी नियंत्रित रहता हैं। 
8. सुबह खाली पेट पानी पीने से त्वचा मे और शरीर मे नमी बनी रहती हैं। जो हमारी मासपेंशियो के लिए अच्छी होती हैं। 
9. सुबह खाली पेट पानी पीने से मांसपेशियो और कोशिकायों का निर्माण होता हैं। 
10. भूख बढाने मे भी पानी का बहुत बडा हाथ हैं। क्योकि सुबह खाली पेट पानी पीने से पेट साफ हो जाता हैं। और भूख भी तेज लगती हैं। 
11. खाली पेट पानी पीने से रेड ब्‍लड सेल्‍स जल्‍दी जल्‍दी बढने लगती हैं। 

12. आपको जानकर हैरानी होगी कि पेटभर पानी से 90% सिरदर्द खत्म हो जाता हैं। 
13. जब भी आप थकान महसूस करें तो अपना चेहरा पानी से धो लें,ऐसा करने से आप तरोताज़ा महसूस करेंगे। 
14. सुबह उठकर खाली पेट पानी पीने से चेहरे का रूखापन दूर हो जाता हैं। 
15. पानी पीने से ऐसिड़िटी भी खत्म होती हैं। क्योकि पानी से पेट साफ हो जाता हैं। 
16. समय पर पानी पीते रहने से हमारे जोड़ो मे भी कम दर्द होता हैं। 
17. पानी पीने से पथरी रोग और अन्य बीमिरियाँ भी दूर होती हैं। 
18. लू से बचने के लिए भी पानी फायदेमंद है। क्योकि बाहर गर्मी मे जाने से पहले 2-3 गिलास पानी पीकर जाना चाहिए। 
19. तांबे के बर्तन में रखे पानी को पीने से लीवर से जुड़ी कोई बीमारी नही होती। 
20. भोजन करने के 30 मिनट पहले 2 गिलास पानी पीने से पाचन शक्ति बढ़ती है। 
21. सोने से पहले 1 गिलास पानी पीने से आप हार्ट अटैक जैसी परेशानी से बच सकते हैं। नहाने के बाद 1 गिलास पानी पीने से कभी लो ब्लड प्रेशर की शिकायत नहीं होती है। 
भाईयो एक बात तो मैं आपको बतानी भूल ही गया। पानी को कभी भी waste मत करों। यही हमारा जीवन हैं। 

खाली पेट पानी पीने से मिलते है कई फायदे

खाली पेट पानी पीने के फायदे : पानी पीना बहुत जरूरी है। इससे शरीर को विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं और बीमारियां भी दूर रहती हैं। दिन की शुरूवात सुबह एक गिलास पानी से की जाए तो सारा दिन अच्छा बीतता है। इस बात का ख्याल रखें कि सुबह पानी पीने के एक घंटे बाद कुछ न खाएं और सारा दिन 8-10 गिलास पानी का सेवन जरूर करें। 
1. पेट साफ 
सुबह खाली पेट 1 गिलास पानी पीने से पेट साफ हो जाता है। इससे शरीर पोषक तत्व आसानी से ग्रहण तक लेता है और पाचन प्रक्रिया भी बेहतर रहती है। 

2. त्वचा बनाएं चमकदार
त्वचा को चमकदार बनाने रखने के लिए भी पानी पीना बहुत जरूरी है। इससे खून साफ होता है और त्वचा से जुड़ी परेशानियां भी दूर हो जाती है। 

3. मोटापा करें कम
सुबह के समय खाली पेट पानी पीने से शरीर का मैटाबॉलिज्म बढ़ता है। जिससे अतिरिक्त चर्बी पिघलने लगती है और मोटापा कम होने लगता है। 
4. भूख बढ़ाएं
पानी का सेवन करने से पेट साफ रहता है, पाचन प्रक्रिया से बेहतर होने से भूख बढ़ने लगती है। 

5. बीमारियां दूर 
खाली पेट पानी के सेवन करने से डायरिया,किडनी से जुड़ी परेशानियां,गठिया,सिर दर्द,पेट की गैस आदि बीमारियां दूर रहती हैं। 


खड़े होकर पानी पीएंगे तो घुटने हो जाएंगे खराब


खड़े होकर पानी के नुकसान : कहते है कि हमारे शरीर का लगभग 70 प्रतिशत हिस्सा बानी से बना होता है। इसलिए शरीर में कभी भी पानी की कमी नहीं होनी चाहिए। दिन में आप जितना पानी पीएं , शरीर को बीमारियों से लड़ने की शक्ति भी उतनी ही मिलेगी। इसलिए जरूरी है कि दिन में कम से कम 8-9 गिलास पानी का सेवन जरूर करें लेकिन कई बार ऐसा होता है कि हम पानी गलत तरीके से पी लेते है जिससे शरीर को कई तरह का नुकसान पहुंचा है। अगर आप भी खड़े होकर पानी पीते है तो इससे शरीर को होने वाली नुकसान जान लें। 




गुर्दे की बीमारी
गुर्दे का काम होता है पूरे शरीर में पानी का प्रवाह करना। यदि आप खड़े होकर पानी पीते है तो पानी पूरे शरीर में नहीं पहुंच पाता और गुर्दे में जमा हो जाता है। इस वजह से मूत्राशय और रक्त में गंदगी जमा होने लगती है। 


पेट की बीमारी
खड़े होकर पानी पीने से खाद्य नलिका से गुजरते हुए तेजी से नीचे चला जाता है। इस वजह से पेट की अंदरूनी दीवार और आसपास के अंगों को नुकसान पहुंचता है। पाचन शक्ति बिगड़ जाती है। 



गठिए की समस्या


जब हम खड़े होकर पानी पीते हैं तो वह जोड़ों में मौजूद तरल पदार्थ के संतुलन को खराब कर देता है। जिसकी वजह से जोड़ों में दर्द की समस्या रहने लगती है।पानी हमेशा आराम से बैठकर पीएं। इससे ही फायदा मिलेगा। 

डिहाइड्रेशन से बचने के लिए कब और कितनी मात्रा में पीएं पानी?
Edited By Punjab Kesari,
Updated: 17 Apr, 2018 03:27 PM


कहते है कि हमारे शरीर का 70 प्रतिशत हिस्सा पानी से बना होता है, पानी जहां शरीर को डिहाइड्रेशन की समस्या से बचाएं रखता है, वहीं शरीर के कुछ अंगों को ऑक्सीजन पहुंचाने में पानी ही हमारी मदद करता है। इसलिए सर्दी हो या गर्मी, पानी को पर्याप्त मात्रा में पीना बहुत जरूरी है, तभी हमारा शरीर सुचारु रुप से काम कर सकता है। वैसे तो दिन में 8-9 गिलास पानी का सेवन हर व्यक्ति को करना चाहिए, लेकिन गर्मियों में पानी की अधिक मात्रा लेना बहुत जरूरी है क्योंकि शरीर का तापमान नियंत्रित करने के लिए हमारा बहुत सारा पसीना निकल जाता है, जिससे शरीर में पानी की कमी भी हो सकती है और अन्य कई प्रॉबल्म होने का खतरा भी बढ़ जाता है। परन्तु हम सभी को पहले इतना जरूर पता होना चाहिए कि गर्मियों में कब और कौन-सा पानी पीना चाहिए, ताकि बाद में किसी तरह की कोई दिक्कत न हो। 


कब व कैसा पानी पीएं?
सुबह-सुबह खाली पेट 1 गिलास पानी पीना बहुत जरूरी है इससे कई तरह की बीमारियां दूर रहती है। वहीं अक्सर हम लोग खाने से पहले ही खूब सारा पानी पी लेते है, जो बिल्कुल सही नहीं है। दरअसल, खाना खाने के लगभग आंधे घंटे बाद पानी का सेवन करना चाहिए। वहीं कुछ लोग तपती धूप से आकर तुंरत पानी का सेवन कर लेता है, जिससे लू लग सकती है। ऐसे में रूककर पानी पीएं। पहले अपने शरीर को ठंडा करें। फिर ठंडे पानी के बजाए सादे पानी का सेवन करें। अगर हार्ट बर्न या कब्ज रहती है तो नींबू पानी का सेवन करें। 


रोज कितनी मात्रा में पीएं पानी? 
शारीरिक रूप से बेहद सक्रिय रहने या फिर कसरत करने वालों को डेढ़ लीटर से थोड़ा ज्यादा पानी पीना चाहिए लेकिन गर्मियों में शरीर से काफी पसीना निकल जाता है। ऐसे में ढ़ाई से तीन लीटर पानी पीएं। 


डिहाइड्रेशन होने पर क्या करें?
1. डिहाइड्रेशन की समस्या होने पर तुरंत पानी में थोडा सा नमक और शक्कर मिलाकर घोल बनाएं और पीएं। 



2. कच्चे दूध की लस्सी बनाकर पीने से भी डिहाइड्रेशन में मदद मिलती है। आप चाहें तो छाछ में नमक डालकर भी पी सकते है। 



3. डिहाइडेशन होने पर नारियल का पानी सेवन करें। इससे शरीर में पानी की कमी पूरी होगी। 


इस बात का भी रखें ध्यान? 
1. पानी पीते वक्त इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि एक बार में ज्यादा पानी न पीएं। ऐसा करने से रक्त में सोडियम का स्तर अचानक से कुछ देर के लिए गिर जाता है, जिससे थकान, नाक बहना, उल्टी या मितली जैसी समस्याएं सामने आ सकती हैं। 


2. बहुत से लोग प्यास लगने पर ही पानी पीते हैं। प्यास लगे न लगे दिन में आठ गिलास पानी पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या से आसानी से बचा जा सकता है।


3. पानी के बजाए लोग सॉफ्ट ड्रिंक, बीयर, कॉफी, सोडा अन्य आदि तरल पदार्थ पीने लगते है। भले ही यह सब तरल पदार्थों में शामिल हो लेकिन इन्हें पीने के बावजूद भी डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है।


कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.