Header Ads

ज्यादा नींद लेते हैं उन्हें हार्ट अटैक की संभावना ज्यादा होती है


ज्यादा नींद लेते हैं उन्हें हार्ट अटैक की संभावना ज्यादा होती है। दिल हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है इसलिए इसका स्वस्थ रहना बहुत जरूरी है। हालांकि अभी तक नींद का हृदय से क्या कनेक्शन है इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है, लेकिन इससे कर्डियोवस्कुलर बीमारियों का संबंध रहता है। इसलिए दिल को स्वस्थ रखने के लिए अधिक देर तक न सोयें।
डायबिटीज का खतरा
ज्यादा नींद लेने वालों में मधुमेह की समस्या होने की संभावना ज्यादा होती है। अगर आप स्लीप ड्रंकनेस का शिकार हो जाते हैं तब आपका मन जागते हुए भी सोई हुई अवस्था में रहता है। इसी वजह से अधिक सोना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।
डिप्रेशन की स्थिति
ज्यादा नींद की वजह भी अवसाद होता है और अवसाद की वजह भी ज्यादा नींद होती है। इस बारे में एक बार डॉक्टर से सलाह जरूर करें। अवसाद के कई कारण होते हैं। कई बार अकेलेपन की वजह से लोग अवसाद से घिर जाते हैं और सिर्फ सोना ही पंसद करते हैं।
कमजोर दिमाग
अधिक सोने का सीधा असर आपके मस्तिष्क पर होता है और इससे सोचने-समझने की शक्ति, सीखने की क्षमता व तर्क शक्ति प्रभावित होती है। कई शोधों में यह बात साबित हो चुकी है कि यदि आप हर रात छह घंटे से कम अवधि की नींद लेते हैं तो यह बहुत कम है। इसी तरह यदि आप हर रात आठ घंटे से ज्यादा समय तक सोते हैं तो इसका मतलब है कि आप बहुत ज्यादा नींद ले रहे हैं। ऐसा करने से बचें।
वजन तेजी से बढ़ता है
अधिक नींद के कारण आप ज्यादातर समय सुस्त महसूस रहते हैं तथा आपके शरीर की उर्जा वसा में तब्दील हो जाती है। शोध के अनुसार असक्रियता 21 फीसदी मोटापे को बढ़ाता है और आपका मोटापा अन्य बीमारियों को खुला न्यौता देता है। इसलिए 8 घंटे से अधिक ना सोएं।



धिक सेवन से कई बीमारियों को निमंत्रण मिलता है। डायबिटीज, ब्लड प्रेशर, पेट के रोग होने के साथ ही शक्कर का सेवन पेट की चर्बी भी बढ़ाता है। अगर आप जल्दी से जल्दी पेट की चर्बी से छुटकारा पाना चाहते हैं तो शक्कर का सेवन करना एकदम बंद कर दें। अगर आपके परिवार में भी कोई मीठी चाय या मीठे पकवानों का शौकीन है तो उसे भी शक्कर का सेवन न करने की ही सलाह दें।
ये उपाय भी हैं दमदार
ओमेगा 3 फैटी एसिड शरीर के लिए काफी लाभकारी होता है। मांसाहारी लोग इसे मछली के जरिए ले सकते हैं। मछलियों में यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा जो लोग शाकाहारी हैं वे अखरोट, पत्ता गोभी व फूल गोभी आदि का सेवन कर सकते हैं।
अगर आप सोचते हैं कि हजार पुशअप्स या क्रंचेज मार लेंगे या कोई भी हेवी एक्सरसाइज करेंगे तो आपकी चर्बी कम हो जाए तो आप बिल्कुल गलत हैं। एक्सरसाइज ऐसी करें जिससे शरीर के सभी हिस्सो की मांसपेशियों में गतिविधि हो। बेली फैट कम करने के लिए कोई भी कार्डियोवास्कुलर एक्सरसाइज फायदेमंद होगी। आप चाहें तो योग का भी सहारा ले सकते हैं।
अगर आप बहुत अधिक तनाव में रहते हैं, तो शरीर में कोर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है। विटामिन सी युक्त आहार के सेवन से शरीर में कोर्टिसोल नियंत्रित हो सकता है। इसमें कार्निटाइन नामक तत्व भी पाया जाता है जो शरीर के फैट्स को बर्न करने में सहायक है। संतरे, शिमला-मिर्च, टमाटर, नींबू व अन्य साइट्रस फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में मिलता है।
पेट की चर्बी कम करने के लिए उपयुक्त आहार योजना बनाएं। इसके लिए किसी विशेषज्ञ की सलाह लें। अपने आहार में फाइबर व रेशेयुक्त आहार शामिल करें। तेल व मसाले युक्त भोजन की जगह स्टीम किया हुआ भोजन करें। खाने के सलाद जरूर लें। ध्यान रहे चर्बी कम करने के लिए भोजन नहीं छोड़ें। इससे आप अगले समय में ज्यादा खाना खा लेते हैं जो चर्बी बढ़ाने की मुख्य वजह है।
चर्बी ना एक दिन में बनती है ना एक दिन में जाती है। इसके लिए अपनी जीवनशैली में सुधार करना जरूरी है। संतुलित आहार के साथ नियमित व्यायाम करने से ही आप पेट की चर्बी से निजात पाई जा सकती है। अगर आप पेट की चर्बी कम करने के लिए गंभीर हैं, तो जंक फूड व तेल मसाले वाली चीजों से दूरी में ही भलाई है।




ते हैं कि स्किन केयर और सजना संवरना सिर्फ महिलाओं का काम है वो लोग अपनी सोच बहुत ही जल्द बदल लें। चाहे अच्छा दिखने के लिए कह लो या फिर स्वस्थ रहने के लिए, स्किन केयर दोनों मायनों में बहुत जरूरी है। जिस तरह महिलाएं चाहती हैं कि हर कोई पहली नजर में उन्हें देखते ही आकर्षित हो जाए, ठीक ऐसी सोच पुरुष भी रखते होंगे। इसलिए पुरुषों को भी अपनी स्किन केयर करने की जरूरत है। आज हम आपको ऑयली स्किन के लिए घर में होने वाला फेशियल बता रहे हैं।
कैसे करना है फेशियल
अगर पॉर्लर जाकर किए फेशियल से आपकी स्किन पर रिएक्शन या एक्ने हो जाते हैं तो अब आपको टेंशन लेने की जरूरत है। क्योंकि अब आप ऑयली स्किन के लिए घर में भी फेशियल कर सकते हैं। इसे करने के लिए सबसे पहले अपने चेहरे को क्लींजर या किसी फेसवॉश से अच्छी तरह साफ कर लें और फिर पौंछ लें। अब एक बर्तन में गर्म पानी लें और उसमें हल्दी, दाल चीनी और ग्रीन टी डाल दें। इस सारी सामग्री को पानी में अच्छी तरह घुलने दें। जब ऐसा हो जाए तो एक तौलिए से अपने सिर को ढकें और इस गर्म पानी की भाप को चेहरे पर आने दें। जितनी देर हो सके आप भाप ले सकती हैं। लेकिन अगर आपसे सहन ना हो पाए तो कुछ देर के लिए बर्तन को अलग रख दें। जब पानी ठंडा हो जाए तो चेहरे को तौलिए से अच्छी तरह साफ कर लें। अगर आप सप्ताह में 2 बार भी ऐसा करते हैं तो आपको ऑयली स्किन से काफी हद तक छुटकारा मिलेगा।


की कमी, दवाओं के साइड इफेक्ट्स और लापरवाही बरतना आदि।
इसके साथ ही घटिया साबुन और शैंपू के प्रयोग से भी बाल टूटते हैं। हालांकि प्रतिदिन लगभग 100 बाल झडऩा आम बात है लेकिन यदि इससे अधिक बाल झड़ते हैं तो ये खतरे की घंटी की ओर इशारा करता है। आज हम आपको टूटते बालों को बचाने और बालों को मजबूत बनाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे बता रहे हैं।
दही और नींबू
दही और नींबू का मिश्रण बालों के लिए बहुत लाभकारी होता है। इस मिश्रण को बनाने के लिए दही में नींबू का रस मिलाकर तैयार कर लें। इस पेस्ट को नहाने से पहले अपने बालों में लगाएं और 30 मिनट बाद बालों को धो लीजिए। ये मिश्रण बालों को टूटने से बचाने के साथ ही बालों की ग्रोथ भी बढ़ाता है।
मेंहदी है फायदेमंद
बालों को मजबूत बनाने के लिए उन्हें भरपूर पोषण की जरूरत होती है। मेंहदी में भरपूर पोषण होता है जो बालों के लिए फायदेमंद है, इसलिए बालों में मेहंदी लगानी चाहिए। ऐसे में आप कभी कभी बालों में मेहंदी भी लगा सकते हैं। अगर आप मेंहदी को अंडा और दही मिलाएंगे तो ये पेस्ट और भी ज्यादा फायदा करेगा।
दही
गिरते बालों को रोकने के लिए दही बहुत कारगर घरेलू नुस्खा है। दही से बालों को पोषण मिलता है। इसके लिए बालों को धोने से कम से कम 30 मिनट पहले बालों में दही लगाना चाहिए। जब बाल पूरी तरह सूख जाएं तो पानी से धो लीलिए।
तनाव से रहें दूर
गिरते बालों को झडऩे से रोकने के लिए आपका लाइफस्टाइल भी जिम्मे आपको अपने आहार-योजना पर ध्यान रखना चाहिए। खाने-पीने की कमी से भी आपके बाल गिर सकते हैं। तनाव से दूर रहिए, धूम्रपान, एल्कोहल आदि का सेवन ना कीजिए। अगर इन नुस्खों के प्रयोग के बाद भी बालों का गिरना बंद न हो तो चिकित्सक से संपर्क कीजिए।


घेरे से निपटने के लिए घर में बनने वाली अंडर आई क्रीम के बारे में बता रहे हैं।
दो सॉस पैन, दो ग्लास, चम्मच, थर्मोमीटर, हैंडहेल्ड मिक्सर, कोकोनट तेल, प्रिमरोज, विटामिन ई, लैंवेंडर ऑयल आदि लें। घर में आखों के नीचे के काले घेरे मिटाने के लिए एक मध्यम आकार के सॉसपैन को लें और उसमें कोकोनट तेल, प्रिमरोड, विटामिन ई को थोड़ें से पानी के साथ गर्म करें। सारे तेल के आपस में अच्छी तरह मिल जाने के बाद आप उसमेंलैंवेंडर ऑयल को मिलाय़ें। ये मिक्सर ठंडा होने तक तरल ही रहेगा। अगर आपको इसे ज्यादा जल्दी चाहिए तो आप इसे फ्रिज में रख लों। जब ये मिक्सर गाढ़ा हो जाए को एक जार में भर कर रख लें।
चाय की पत्ती को रातभर दूध में भिगोकर रखें। अब चाय की पत्ती को दूध में अच्छे से मिक्स करके डार्क सर्कल्स पर लगाएँ। कुछ ही दिन में आपको फर्क महसूस होगा।आंखों के काले घेरों को हमेशा के लिए हटाने के लिए खीरे के पतले पतले स्लाइस काटकर आंखों पर लगभग 10 तक मिनट रखें। ऐसा करने से दिन भर की थकान दूर हो जाती हैऔर कुछ ही दिन में डार्क सर्कल्स हमेशा के लिए गायब हो जायेंगें।बादाम का तेल कई प्राकृतिक गुणों से भरपूर होता है जो आंखों के आसपास की त्वचा को फायदा पहुंचाता है। बादाम के तेल के नियमित उपयोग से त्वचा का रंग हल्का पड़ जाता है, इसीलिए इसे आंखों के आसपास लगाने से डार्क सर्कल दूर हो जाते है। रात में इसे आंखों के नीचे थोड़ा सा लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। मसाज करने के बाद ऐसा ही छोड़ दें।सुबह उठने के बाद मुंह धो लें।



कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.