Header Ads

कंडोम के इस्तेमाल से बर्बाद हो सकती है आपकी सेक्स लाइफ


कंडोम के इस्तेमाल से बर्बाद हो सकती है आपकी सेक्स लाइफ

स्वास्थ्य -: ज्यादातर लोग सेक्स के समय कंडोम का इस्तेमाल करते है, लेकिन कंडोम से होने वाले दुष्प्रभाव से अनजान रहते है | कंडोम का अधिक इस्तेमाल न केवल आपको यौन संक्रमित बनाता है बल्कि आपकी सेक्स लाइफ को भी प्रभावित करता है |

आइये जाने :-
अक्सर देखा गया है कि सप्ताह में तीन या चार बार कंडोम का प्रयोग करने से योनी की भीतरी सतह और झिल्ली की संवेदनशीलता समाप्त हो जाती है|जिसके कारण स्त्रियों में चिकनाई युक्त द्रव्यों का स्खलन कम या समाप्त हो जाता है और योनि में सूखापन आ जाता है और इसी वजह से कंडोम का अधिक इस्तेमाल करने वाली औरतों कि योनि स्पर्श से ही या फिर बिना कंडोम सेक्स करने से असहनीय दर्द, जलन, खुजली आदि होना आम बात है |

कंडोम के इस्तेमाल के नुकसान-
कंडोम का अधिक इस्तेमाल करने वाली महिलओं कि योनि ग्रीवा में कट लग जाना, छिल जाना, सूजन आ जाना, उसके अलावा दर्दनाक घाव भी पाए जाते हैं | योनि में सूजन के दौरान सेक्स करने से आंतरिक हिस्सा जख्मी हो जाता है और रक्तस्त्राव भी होने लगता है जिसे स्त्रियाँ असमय मासिक चक्र भी मान लेती है जिससे उनके जननांगो और गर्भाशय के संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है| जिस कारण योनि ग्रीवा और गर्भाशय में कैंसर का खतरा बना रहता है |संक्रमण का कारण-
लेटेक्स के बने कंडोम आपको गर्भधारण से तो बचाते है मगर आपकी सेक्स लाइफ को बर्बाद कर सकते हैं और इसके प्रयोग से योनि में खुजली, सूखापन आदि देखा गया है | कंडोम के प्रयोग से स्त्री और पुरुषों कर जननांगो पर दाने, छाले आदि गंभीर रूप से हो जाते है |
जननांगो को प्रक्रति ने खुद ही अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली प्रदान की है | अगर सप्ताह में 3-4 बार कंडोम का प्रयोग करने से योनि कि प्रतिरक्षा प्रणाली को नुकसान पंहुचता है और योनि की अम्लीय प्रणाली में उथल-पुथल पैदा हो जाती है |

कैसे करें बचाव-
1.सप्ताह में कंडोम का इस्तेमाल तीन बार से अधिक न करें,
2. कंडोम के बजाय गर्भ निरोधक गोलियों का अधिक इस्तेमाल करें

खुल गया राज इसलिए लड़कियों को पसंद नहीं है कंडोम
हर शक्स अपनी लाइफ में सेक्स का आनंद उठाना चाहते है. चाहे वो किसी भी उम्र का इंसान हो. सब अपनी लाईफ में इस पल को सबसे ख़ास बनाने के लिए कई तरह के प्रयास करते हैं. लड़कियों को देख कर लड़कों का उनपर मोहित हो जाना स्वाभाविक है. हर लड़का लड़की के स्पर्श को महसूस करने के लिए उतावला रहता है.



ज़्यादातर लोग सेफ सेक्स के लिए कंडोम का इस्तेमाल करते है. सभी जानते हैं कि कंडोम बेहद जरूरी है. इससे एचआईवी का संक्रमण रोका जा सकता है. लेकिन ज़्यादातर महिलाओं को इसका इस्तेमाल अच्छा नहीं लगता और इसके कई कारण भी है. आइये उन कारणों पर नज़र डाल लेते है..


चरम सुख प्राप्त न होना: 

महिलाओं को सेक्स का पूरा आनंद नहीं आता है. वो शरीर के स्पर्श को अच्छे से महसूस नहीं कार पाती हैं. ऐसा लड़कियों का कहना होता ही कि वो सुख प्राप्त नहीं होता कंडोम के साथ. असली मजा तो तब ही आता है जब शरीर का आपस में स्पर्श होता है.


सुगंध:

कई लड़कियों को कंडोम की सुगंध नहीं पसंद होती है इसलिए वो अपने पार्टनर से नराज हो जाती है. उनको बिना कंडोम के ज्यादा सुख प्राप्त होता है.


एलर्जी का डर:
दरअसल कई लड़कियों में कंडोम का इस्तेमाल करने से उनको एलर्जी का खतरा हो जाता है. उनके प्राइवेट पार्ट में अजीब तरह का दर्द और खुजली होने लगती है. जिसके कारण वो इस चीज से चिड्ती हैं.

फटने का दर:

कई बार कोंडोम फटने का खतरा भी हो जाता है. कई कम्पनी के कंडोम ऐसे होते है जो इस्तेमाल के समय फट जाते हैं, जिसके कारण इन्फेक्शन का डर रहता है. इसलिए लड़कियां बिना कंडोम के सेक्स करना बेहतर और सुरक्षित समझती हैं.



कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.