Header Ads

'कॉफी' से जुड़ी ये बातें जानकर घूम जाएगा आपका दिमाग


'कॉफी' से जुड़ी ये बातें जानकर घूम जाएगा आपका दिमाग
ये हैं दुनिया की 10 सबसे अजीबोगरीब 'कॉफी'।



अगर हम आपको बताएं कि दुनिया के किसी कोने में अंडे के पीले हिस्से को मिलाकर भी कॉफी बनाई जाती है तो आप भरोसा कर पाएंगे? शायद नहीं। मगर यह सच है। ऐसे ही एक जगह ऐसी भी है जहां पर बंदर के मुंह से निकले हुए कॉफी बीन्स का इस्तेमाल किया जाता है। 

यकीनन आपको यह बातें सुनने में थोड़ी अजीब लग रही होगी लेकिन हकीकत तो यही है। दुनियाभर में कॉफी के ऐसे ही अनोखे फ्लेवर बड़े चाव से खाए जाते हैं। तभी तो हम आपके लिए लेकर आए हैं कॉफी से जुड़े फ्लेवर्स की जानकारी। 

कारण कि कॉफी तो आपको भी पसंद होगी। इसके चाहने वालों में आप और आपके दोस्त भी शुमार होंगे। ऐसे में अलग-अलग फ्लेवर्स से जुड़ी बातें तो हर किसी को पता होना ही चाहिए। न जाने कब, किसे, कहां इन्हें टेस्ट करने का मौका मिल जाए। 

अब देर मत कीजिए। तुरंत पढ़िए यह स्टोरी।

एग योल्क से बनी कॉफी


कॉफी का यह फ्लेवर वियतनाम की राजधानी हनोई में परोसा जाता है। इसे बनाने के लिए एग योल्क को गाढ़े दूध के साथ मिलाया जाता है। कहते हैं इसका स्वाद कॉफी फ्लेवर के कस्टर्ड की तरह लगता है। 

बंदर के मुंह के निकले बीन्स की कॉफी 


कहने का अर्थ ये है कि जब बंदर, कॉफी बीन्स को चबाने लगते हैं तो उनके मुंह से बीन्स को छीनकर बाहर निकाल दिया जाता है। बाद में उन्हीं बीन्स की कॉफी बड़े ही मजे से पी जाती है। यह विशेष प्रकार की कॉफी ताइवान की खास चीजों में से एक है। यहां के किसानों का मानना है कि इस कॉफी में वेनिला का स्वाद आता है।


समुद्री नमक से बनी कॉफी



85 सी बेकरी कैफे ताइवान के सबसे प्रसिद्ध कैफे में से एक है। इसी जगह पर हुआ था समुद्री नमक से बनाई जाने वाली कॉफी का आविष्कार। यहां पर समुद्री नमक को काफी पसंद किया जाता है। इसके चलते इस कैफे ने कॉफी का यह अनोखा फ्लेवर बना डाला। 

जैकू पक्षी के पूप से बनी कॉफी 



ये कॉफी शायद हमारी लिस्ट की सबसे अजीब कॉफी है, क्योंकि इसके बीन्स एक पक्षी के पूप से बनते हैं। जैकू बहुत ही चतुर पक्षी है। वे केवल सबसे स्वादिष्ट बीन्स का ही सेवन करता है। इसी वजह से उसके पूप से बनाई जाने वाली कॉफी दुनिया की सबसे टेस्टी कॉफी में गिनी जाती है।

टॉनिक मिलाकर बनाई गई कॉफी



टॉनिक और कॉफी सुनने में बड़ा ही बेतूका लग रहा होगा, लेकिन कॉफी का ये फ्लेवर दुनिया के कई हिस्सों में काफी मशहूर है। इसे बनाने के लिए एक्प्रेसो, टॉनिक, बर्फ और पानी का इस्तेमाल किया जाता है। इस यूनिक कॉफी के अाविष्कार का श्रेय स्वीडिश को जाता है।


घी या तेल मिलाकर बनाई गई कॉफी



दुनिया के कई हिस्सों में घी या तेल मिली कॉफी पीने का चलन है। लोगों का मानना है कि इस तरह बनाई गई कॉफी नाश्ते के समय पीने से वजन कम होता है। साथ ही दिमाग तेज होता है।

मसालेदार टैको फ्लेवर से बनी कॉफी


अगर आपको कॉफी और मसालेदार भोजन करना दोनों ही चीजें पसंद हैं तो फिर ये फ्लेवर आप ही के लिए है। टैको फ्लेवर के ये बीन्स आपको मैक्सिकन सीजनिंग के साथ-साथ वहां के मिर्च-मसालों का भी स्वाद देंगे।

चीज़ मिलाकर बनाई गई कॉफी



चीज़ डालकर कॉफी पीना स्वीडिश परंपरा है। यहां पर कॉफी में डालने के लिए लीपुजूस्टो नाम के एक खास चीज़ का प्रयोग किया जाता है जो फिनलैंड और उत्तरी स्वीडन में पाया जाता है।


वेनिला कोक मिलाकर बनाई गई कॉफी



विन्सेंट वेगा नाम की इस कॉफी को बनाने के लिए कोका-कोला, एस्प्रेसो शॉट, वेनिला सिरप और बर्फ का प्रयोग किया जाता है। यह कॉफी दुनिया के कई हिस्सों में बड़े चाव से पी जाती है।


एस्प्रेसो और बीयर को मिलाकर बनाई गई कॉफी


एस्प्रेसो और बीयर का ये काबिनेशन टेक्सास की पसंदीदा ड्रिंक्स में से एक है। आमतौर पर इसे बनाने के लिए एस्प्रेसो के दो शॉट और बियर के दो पिन का प्रयोग किया जाता है।

हां, जी अब हमें बताइये कि आप इनमें से कितने फ्लेवर टेस्ट करने वाले हैं? हमें इंतजार रहेगा। यह स्टोरी दोस्तों के साथ तो आप शेयर करेंगे ही।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.