Header Ads

चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे –

चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, पाने के तरीके और फायदे –

Charam Sukh (female orgasm) in hindi सेक्स हर व्यक्ति के जीवन के बुनियादी जरूरतों (basic needs) में से एक है लेकिन ऑर्गेज्म या चरम सुख महिलाओं के लिए बहुत विशेष होता है। इसके पीछे मुख्य कारण उनके जननांगों की अलग संरचना है। महिलाओं की योनि में क्लिटोरिस (clitoris) होती है जिसे छूने पर उन्हें उत्तेजना होती है और यही उन्हें सेक्स के अंतिम चरण ऑर्गेज्म तक पहुंचाने का कार्य करती है। यही कारण है कि पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं के लिए ऑर्गेज्म का महत्व अधिक माना जाता है। इस लेख में आप जानेगे चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या होता है, सेक्स के दौरान चरम सुख में क्या होता है, महिलाओं के लिए चरम सुख (ऑर्गेज्म) पाने के तरीके, अधिक चरम सुख (ऑर्गेज्म) कैसे पाएं और चरम सुख लेने के फायदे क्या हैं।
1. चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या है? – What is an orgasm in Hindi
2. चरम सुख (ऑर्गेज्म) के दौरान क्या होता है? – What happens during an orgasm in Hindi
3. अधिक चरम सुख (ऑर्गेज्म) कैसे पाएं – How to have more orgasms in Hindi
4. चरम सुख (ऑर्गेज्म) न प्राप्त होने के कारण – Causes Not Having Orgasms In Hindi
चरम सुख (ऑर्गेज्म) न प्राप्त होने के कारण डायबिटीज
ऑर्गेज्म (चरम सुख) न ले पाने का कारण तनाव
सेक्स में चरम सुख ना पाने का कारण जबरदस्ती सेक्स करने पर
चरम सुख (ऑर्गेज्म) तक न पहुचने का कारण शर्म आना
उम्र बढ़ने पर सेक्स के दौरान क्लाइमेक्स या चरम आनंद न मिलना
महिलाओं में चरम सुख का अनुभव न कर पाने के कारण यौन रोग होना
महिलाओं को ऑर्गेज्म न मिलने का कारण नींद की समस्या

5. महिलाओं के लिए ऑर्गेज्म (चरम सुख) के फायदे – Benefits Of Orgasm For Women In Hindi
मासिक धर्म नियमित करने में ऑर्गेज्म के फायदे – Orgasm Benefits For Regulate Menstrual Cycle In Hindi
चरम सुख के फायदे बांझपन को दूर करने में – Orgasm Benefits For Infertility In Hindi
तनाव दूर करने में ऑर्गेज्म के फायदे – Charam sukh ke fayde For Stress In Hindi
ऑर्गेज्म के फायदे सर्कुलेशन बेहतर बनाने में – Orgasm Benefits For Better Circulation In Hindi
चरम सुख के फायदे हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में – Charam sukh ke fayde for a heart in Hindi
ऑर्गेज्म के फायदे इम्यूनिटी बढ़ाने में – Benefits of Orgasm For Immunity In Hindi
चरम सुख के फायदे अच्छी नींद के लिए के लिए – Orgasm Benefits For Insomnia In Hindi
चरम सुख (ऑर्गेज्म) क्या है? – What is an orgasm in Hindi

सेक्स करते समय जब यौन उत्तेजना चरम (peak) पर पहुंच जाती है तो उस स्थिति को चरम सुख (orgasm) कहा जाता है। इस दौरान जननांगों के आसपास के मांसपेशियों में तेजी से संकुचन होता है जिसके कारण योनि से तरल पदार्थ का स्राव होता है। ऑर्गेज्म सेक्स का अंतिम चरण है और ऑर्गेज्म प्राप्त होने के बाद ही महिलाओं को सेक्स का पूरा आनंद एवं संतुष्टि (satisfaction) प्राप्त होती है। ऑर्गेज्म महिला और पुरुष दोनों को प्राप्त होता है लेकिन महिलाओं को ऑर्गेज्म की प्राप्ति होने को ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है।
(और पढ़े – ओरल सेक्स के दौरान योनि का पानी पीना सुरक्षित होता है या नहीं…)
चरम सुख (ऑर्गेज्म) के दौरान क्या होता है? – What happens during an orgasm in Hindi


सेक्स या मस्टरबेशन के दौरान जैसे ही महिला को ऑर्गेज्म का अनुभव होना शुरू होता है उसके दिल की धड़कने (heart beats) बढ़ जाती हैं और वह अपने साथी को अधिक तेज पकड़ लेती है।

ऑर्गेज्म का अनुभव होने पर महिलाओं के जननांगों की मांसपेशियों (genital muscles) में तेजी से संकुचन होता है और जब योनि से चिपचिपा तरल पदार्थ बाहर निकल जाता है तब यौन उत्तेजना कम हो जाती है।

यदि महिला लगातार उत्तेजित रहती है और लंबे समय तक उत्तेजित रहती है तो वह कई बार चरम सुख (ऑर्गेज्म) का आनंद प्राप्त कर सकती है।

ऑर्गेज्म आने पर जब महिलाएं स्खलित (ejaculate) होती हैं तो एक साफ तरल पदार्थ जननांगों की ग्रंथियों के पास से निकलता है इन ग्रंथियों को स्कीन ग्रंथि (Skene’s glands) कहते हैं। इस दौरान यौन उत्तेजना चरम पर होती है।


अधिक चरम सुख (ऑर्गेज्म) कैसे पाएं – How to have more orgasms in Hindi


एक स्टडी में पाया गया है कि लगभग 11 से 41 प्रतिशत महिलाओं को ही सेक्स और मस्टरबेशन के दौरान ऑर्गेज्म या चरम सुख की प्राप्ति होती है। सभी महिलाओं को सेक्स के दौरान चरम सुख नहीं मिल पाता है। आइये जानते हैं किन तरीकों से मिल सकता है चरम सुख का आनंद।

अधिक से अधिक और सेक्स के दौरान कई बार चरम सुख या ऑर्गेज्म की प्राप्ति के लिए महिलाओं को अपने पार्टनर के साथ अधिक देर तक फोरप्ले करना चाहिए। ऑर्गेज्म प्राप्त करने का यह बहुत आसान तरीका है और इससे आपको सेक्स के बाद सुख (pleasure) मिलेगा।

सेक्स या मस्टरबेशन (masturbation) के दौरान चरम सुख प्राप्त करने के लिए महिलाओं को अपने आहार पर विशेष ध्यान देना चाहिए। ऑर्गेज्म की प्राप्ति में खानपान को विशेष महत्व होता है इसलिए महिलाओं को यौन उत्तेजना बढ़ाने (sexual excitement) वाले खाद्य पदार्थ (diet) खाना चाहिए।

चरम सुख प्राप्त करने में महिलाओं की योनि के क्लिटोरिस (clitoris) की भूमिका होती है इसलिए उन्हें अपने पार्टनर से कहना चाहिए कि वह अलग-अलग तरह से क्लिटोरिस को छूएं।

सेक्स के दौरान उत्तेजना चरम पर होने पर महिलाओं के स्तन फूल जाते हैं और इस दौरान यदि उन्हें ऑर्गेज्म तेजी से महसूस होता है।

इसलिए सेक्स के दौरान महिलाओं को अपने पार्टनर से कहना चाहिए कि उनका ब्रेस्ट (breast) देर तक छूते रहें।
ऑर्गेज्म का सुख प्राप्त करने के लिए महिलाओं को सेक्स के दौरान अपने साथी से अपने शरीर के उन अंगों को छूने के लिए कहना चाहिए जिन्हें छूने पर उन्हें अधिक उत्तेजना (stimulation) होती है।

कामोत्तेजक कपड़े (sexy dress) पहनकर और अच्छा मूड बनाकर भी ऑर्गेज्म का आनंद लिया जा सकता है। आप चाहें तो अपने साथी से सेक्स के दौरान कामोत्तेजक बातें भी कर सकती हैं और अलग-अलग पोजिशन में सेक्स करने के लिए कह सकती हैं।
चरम सुख (ऑर्गेज्म) न प्राप्त होने के कारण – Causes Not Having Orgasms In Hindi



महिलाओं को ऑर्गेज्म की प्राप्ति न होने का कोई एक कारण नहीं है। आमतौर पर यह माना जाता है कि ऑर्गेज्म का आनंद न मिल पाने के पीछे शारीरिक, मानसिक और मनोवैज्ञानिक कारक (psychological factor) जिम्मेदार होते हैं। आइये जानते हैं कि किन कारणों से कुछ महिलाओं को नहीं होती है ऑर्गेज्म की प्राप्ति।


चरम सुख (ऑर्गेज्म) न प्राप्त होने के कारण डायबिटीज

यदि किसी महिला को मधुमेह (diabetes) है और वह इसकी दवा खा रही हो तो उसे सेक्स के दौरान चरम सुख मिलने की संभावना कम होती है। इसके अलावा यदि वह डिप्रेशन की दवा (antidepressant) ले रही हो तब भी यह संभावना कम हो जाती है।


ऑर्गेज्म (चरम सुख) न ले पाने का कारण तनाव

यदि कोई महिला अपने जीवन में बहुत लंबे समय तक तनाव का सामना की हो तो उसे सेक्स के दौरान चरम सुख मिलने की संभावना घट जाती है। इसके अलावा यदि किसी महिला को मानसिक रोग (mental problem) हो तो उसे भी चरम सुख की प्राप्ति नहीं होती है।


सेक्स में चरम सुख ना पाने का कारण जबरदस्ती सेक्स करने पर

यदि किसी महिला का सेक्स करने का मन (mood) न हो लेकिन वह अपने पति को मना नहीं कर पा रही हो तो इस स्थिति में पति के साथ जबरदस्ती (forcefully) सेक्स करने पर उसे ऑर्गेज्म की प्राप्ति नहीं होगी।

चरम सुख (ऑर्गेज्म) तक न पहुचने का कारण शर्म आना

ऑर्गेज्म या चरम सुख प्राप्त न करने का एक कारण यह भी है कि यदि किसी महिला का पार्टनर उसके साथ सही तरीके से सेक्स नहीं कर पा रहा हो लेकिन वह शर्म (hesitation) के कारण उससे यह न बता पा रही हो कि उसे अच्छा नहीं लग रहा है या सेक्स में मजा नहीं आ रहा है तो इसके कारण भी उसे ऑर्गेज्म की प्राप्ति नहीं होती है।


उम्र बढ़ने पर सेक्स के दौरान क्लाइमेक्स या चरम आनंद न मिलना

हर उम्र में सेक्स के दौरान चरम सुख एक जैसा नहीं मिलता है। यदि किसी महिला की उम्र अधिक है तो यह संभव है कि उसे सेक्स के दौरान चरम सुख या ऑर्गेज्म की प्राप्ति न हो।


महिलाओं में चरम सुख का अनुभव न कर पाने के कारण यौन रोग होना

महिलाओं को सेक्स के दौरान चरम सुख प्राप्त न होने का एक कारण यौन संबंधित बीमारियां (sexual problem) भी हैं। यदि महिला को इस बीमारी के बारे में मालूम हो तो उसे बिना शर्म किए डॉक्टर से इलाज कराना चाहिए।


महिलाओं को ऑर्गेज्म न मिलने का कारण नींद की समस्या

यदि किसी महिला को रात में अच्छी नींद नहीं आती है और वह सुबह देर से उठती है तो इस कारण भी उसे ऑर्गेज्म की प्राप्ति होने में समस्या हो सकती है। इसके अलावा यदि वह धूम्रपान (smoking) और एल्कोहल का सेवन करती हो तो उसे यह परेशानी हो सकती है।


महिलाओं के लिए ऑर्गेज्म (चरम सुख) के फायदे – Benefits Of Orgasm For Women In Hindi


हम आपको ऊपर ही बता चुके हैं कि ऑर्गेज्म की प्राप्ति सेक्स का अंतिम चरण माना जाता है। इससे महिलाओं को पूर्ण संतुष्टि प्राप्त होती है और वे मानसिक तनाव से मुक्त एवं प्रसन्न रहती हैं। लेकिन इसके अलावा भी महिलाओं को चरम सुख (ऑर्गेज्म) के कई फायदे होते हैं। आइये जानते हैं इन फायदों के बारे में।
मासिक धर्म नियमित करने में ऑर्गेज्म के फायदे – Orgasm Benefits For Regulate Menstrual Cycle In Hindi

एक स्टडी में पाया गया है कि यदि कोई महिला हफ्ते में कम से कम एक बार सेक्स के दौरान चरम सुख या ऑर्गेज्म को प्राप्त करती है तो उसका मासिक धर्म नियमित और सामान्य रहता है। इसके अलावा उनकी पेल्विक कैविटी (pelvic cavity) सुदृढ़ रहता है और स्वस्थ कोशिकाओं का विकास होता है।

चरम सुख के फायदे बांझपन को दूर करने में – Orgasm Benefits For Infertility In Hindi

सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म का सुख प्राप्त करने से हाइपोथैलमस ग्रंथि (hypothalamus glands) पूरी तरह ऊर्जा से भर जाती है और महिलाओं की प्रजनन क्षमता बढ़ती है। इसके अलावा यह भूख, शरीर के तापमान, भावनाएं और पीयूष ग्रंथि (pituitary gland) को भी नियंत्रित करती है जिसके कारण प्रजनन हार्मोन तेजी से बनते हैं और अंडाशय में अंडे बनने की क्रिया तेज होती है।


तनाव दूर करने में ऑर्गेज्म के फायदे – Charam sukh ke fayde For Stress In Hindi

सेक्स के दौरान चरम सुख या ऑर्गेज्म की प्राप्ति होने पर महिलाओं को एक तरह की संतुष्टि (satisfaction) मिलती है और उन्हें सेक्स का भी पूरा आनंद मिलता है जिसके कारण मानसिक शांति मिलती है और तनाव दूर हो जाता है। इसलिए ऑर्गेज्म को आनंद का अंतिम चरण माना जाता है।


ऑर्गेज्म के फायदे सर्कुलेशन बेहतर बनाने में – Orgasm Benefits For Better Circulation In Hindi

सेक्स के दौरान या मस्टरबेशन करने से ऑर्गेज्म मिलने पर जननांगों के क्षेत्रों (genital area) में सर्कुलेशन बेहतर होता है और जननांगों को मजबूत भी बनाता है।


सेक्स के दौरान चरम सुख के फायदे हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में – Charam sukh ke fayde for heart in Hindi

महिलाओं को सेक्स के दौरान चरम सुख मिलने पर दिल का दौरा पड़ने (heart attack) की संभावना कम हो जाती है। एक स्टडी में पाया गया है कि जिन महिलाओं की यौन इच्छाएं पूरी होती है और वह सेक्स के दौरान ऑर्गेज्म से संतुष्ट होती हैं उन्हें हार्ट अटैक नहीं आता है और वे चिंतामुक्त रहती हैं।


ऑर्गेज्म के फायदे इम्यूनिटी बढ़ाने में – Benefits of Orgasm For Immunity In Hindi

सप्ताह में एक या दो बार सेक्स के दौरान चरम सुख का सुख लेने से शरीर में इम्यूनोग्लोबुलिन ए (immunoglobulin A) नामक एंटीबॉडी का स्तर बढ़ता है जो इम्यूनिटी को बढ़ाता है और संक्रमण एवं सर्दी जुकाम होने से बचाता है।


चरम सुख के फायदे अच्छी नींद के लिए के लिए – Orgasm Benefits For Insomnia In Hindi

महिलाओं को सेक्स के दौरान चरम सुख की प्राप्ति होने से उनके शरीर को राहत मिलती है और उन्हें अच्छी नींद आती है। एक स्टडी में पाया गया है कि ऑर्गेज्म प्राप्त करने पर महिलाओं के शरीर में एंडोर्फिन्स (endorphins) नामक रसायन का स्राव होता है जिसके कारण नींद अच्छी आती है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.