Header Ads

इन तरीकों से मिलेगा ड्राई आई सिंड्रोम से छुटकारा

इन तरीकों से मिलेगा ड्राई आई सिंड्रोम से छुटकारा

Healths Is Wealth ·

सिंड्रोम से छुटकारा के लिए इमेज परिणाम



कंप्यूटर, मोबाइल जैसे डिजिटल मीडियम के लंबे इस्तेमाल से इन दिनों ड्राई आई सिंड्रोम बेहद आम समस्या बन गई है। दरअसल, अगर आंखों को लंबे समय तक पूरी नमी न मिले तो उनमें खुजली और पानी आना जैसी समस्या होने लगती है। इसे ड्राई आई सिंड्रोम कहते हैं। हॉर्मोंस में बदलाव की वजह से महिलाओं में यह दिक्कत ज्यादा होती है।
ड्राइनेस के लक्षण
• आंख का लाल हो जाना
• धुंधलापन होना
• रोशनी में आंख खुलने में दिक्कत
• हवा से दिक्कत
• आंखों में खुजली
• बहुत ज्यादा पानी आना
• आंखों में थकान रहना
समस्या की ये हैं वजहें
• डिजिटल डिवाइसों का बहुत ज्यादा इस्तेमाल
• बहुत ज्यादा किताबें पढ़ना
• लगातार एसी में रहना
• ज्यादा सूखे माहौल में रहना या काम करना
• लगातार कॉन्टैक्ट लेंस पहनना

सिंड्रोम से छुटकारा के लिए इमेज परिणाम


• कुछ दवाएं जैसे कि बर्थ कंट्रोल पिल्स, एलर्जी की दवाएं, बीटा ब्लॉकर, डाययूरेटिक्स
• ऐसा भोजन खाना जिसमें फैटी एसिड्स न हों
• आंसू बनाने वाले ग्लैंड्स न होना
• लेसिक सर्जरी होना
ऐसे निपटें इस समस्या से
• कंप्यूटर, मोबाइल, टीवी या टैबलट को देखते हुए हर 5 सेकंड में पलक झपकाएं।
• आंखों को रगड़ें नहीं, इससे आंख को नुकसान हो सकता है।
• अगर किसी दवा को खाने या डालने से परेशानी लग रही है तो उसके बारे में डॉक्टर से राय लें।
• आंखों में नमी बनाए रखने के लिए अच्छे ब्रैंड की लुब्रिकेटिंग ड्रॉप्स डालें।
• कॉन्टैक्ट लेंस साफ रखें और उन्हें हमेशा पहने न रखें।
• कोशिश करें कि आंखों पर सीधी हवा न लगे।
• हेल्दी खाना खाएं, ज्यादा साबुत अनाज, फल-सब्जियां और कम चीनी खाएं।
• डॉक्टर की सलाह के बगैर आंख में कोई भी दवा न डालें।
• आंख की कोई दवा खोलने के महीने भर में खत्म कर लें। महीना बीत जाने पर इस्तेमाल न करें।
• बहुत स्वीमिंग के दौरान चश्मा जरूर पहनें और कोशिश करें कि आंखों में पानी न जाए।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.