Header Ads

गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे

गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे
Healths Is Wealth  



गर्मियों के मौसम में पसीने की बदबू परेशानी का सबब बन जाती है। कई बार अंडरआर्म, पांवों, हथेली में पसीने की दरुगध से शर्मिदगी झेलनी पड़ जाती है। मानसिक तनाव, शारीरिक परिश्रम भावनात्मक उत्तेजना, आहार-बिहार, आनुवांशिक हार्मोन असंतुलन तथा वातावरण में उच्च तापमान गार्मियों में पसीने का मुख्य कारण माना जा सकता है। पसीने से शरीर में फंगल इन्फेक्शन भी हो सकते हैं।

गर्मियों में पसीना आना आम बात है तथा पसीने से मोटापा कम होता है तथा कई बीमारियों से छुटकारा मिलता है। यूं तो पसीना पूरी तरह गंधरहित होता है, लेकिन जब पसीना त्वचा के स्तर पर विद्यमान बैक्टीरिया से मिलता है तो पसीने से दरुगध आना शुरू हो जाती है। 

सौंदर्य विशेषज्ञ शहनाज हुसैन का कहना है कि ऐसे में नींबू के पानी, गुलाबजल, दही, बेंकिग, सोडा, ताजे पानी जैसे आसान घरेलू उपायों को अपनाकर गार्मियों में पसीने की समस्या से पूरी तरह निजात पाया जा सकता है।

भीषण गर्मियों के दौरान सूती कपड़े पहनिए जिससे पसीने के सूखने में मदद मिलेगी। गर्मियों में प्रतिदिन कपड़े बदलिए तथा खुले तथा हल्के कपड़े ज्यादा उपयुक्त तथा आरामदेह साबित होते हैं। गर्मियों में पसीने की बदबू को रोकने के लिए डिओडरेंट काफी मददगार साबित होते हैं। हमेशा हल्का सुगंधित डिओडरेंट के प्रयोग को वरीयता दें, क्योंकि तेज सुगंध के डिओडरेंट से त्वचा में जलन या संवेदनशील रसायनिक प्रभाव पड़ सकता है, जिससे त्वचा खराब हो सकती है तथा त्वचा पर काले ध्ब्बे पड़ सकते हैं। इसके अलावा टेल्कम पाउडर और इत्र का भी प्रयोग किया जा सकता है।

हर्बल क्वीन के नाम से मशहूर शहनाज हुसैन ने कहा कि वेंकिंग सोडा पसीने की दरुगध को रोकने में अहम भूमिका अदा करता है। वेंकिग सोडा, पानी तथा नींबू रस को मिलाकर पेस्ट बना लें तथा इस पेस्ट को अंडर आर्म्स में 10 मिनट तक लगाकर ताजे पानी से धो डालें। इससे पसीने की बदबू को रोकने में मदद मिलेगी। बेंकिग सोडा तथा टैलकम पाउडर का मिश्रण बना कर इसे अंडर आर्म्स तथा पांवों पर 10 मिनट तक लगाने के बाद ताजे पानी से धे डालिए। इससे पसीने की समस्या से निजात मिलेगी।
पसीने की दरुगध वाले शरीर के हिस्सों पर कच्चे आलू के स्लाइस रगड़ने से भी पसीने की दरुगध से छुटकारा मिलता है। नहाने के टब के पानी में फिटकरी तथा पुदीने की पत्तियों को डालकर नहाने से भी शरीर में ठंडक तथा ताजगी का अहसास होता है तथा पसीने समस्या से छुटकारा मिलता है।

नहाने के पानी के टब में गुलाब जल मिलाने से प्राकृतिक शीलता तथा कोमलता मिलती है। दो बूंद ट्री ऑयल तथा दो चम्मच गुलाबजल मिलाकर इस मिश्रण को काटनवूल की मदद से अंडरआर्म्स में लगाने से पसीने की समस्या से निजात मिलती है। बालों से पसीने की दरुगध को रोकने के लिए एक कप पानी में गुलाब जल तथा नींबू रस को मिलाकर बालों को धोने से पसीने की बदबू खत्म हो जाएगी।


गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे

गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे के लिए इमेज परिणाम

नई दिल्ली, 4 जून (आईएएनएस)| गर्मियों के मौसम में पसीने की बदबू परेशानी का सबब बन जाती है। कई बार अंडरआर्म, पांवों, हथेली में पसीने की दरुगध से शर्मिदगी झेलनी पड़ जाती है। मानसिक तनाव, शारीरिक परिश्रम भावनात्मक उत्तेजना, आहार-बिहार, आनुवांशिक हार्मोन असंतुलन तथा वातावरण में उच्च तापमान गार्मियों में पसीने का मुख्य कारण माना जा सकता है। पसीने से शरीर में फंगल इन्फेक्शन भी हो सकते हैं। गर्मियों में पसीना आना आम बात है तथा पसीने से मोटापा कम होता है तथा कई बीमारियों से छुटकारा मिलता है। यूं तो पसीना पूरी तरह गंधरहित होता है, लेकिन जब पसीना त्वचा के स्तर पर विद्यमान बैक्टीरिया से मिलता है तो पसीने से दरुगध आना शुरू हो जाती है।
गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे के लिए इमेज परिणाम




सौंदर्य विशेषज्ञ शहनाज हुसैन का कहना है कि ऐसे में नींबू के पानी, गुलाबजल, दही, बेंकिग, सोडा, ताजे पानी जैसे आसान घरेलू उपायों को अपनाकर गार्मियों में पसीने की समस्या से पूरी तरह निजात पाया जा सकता है।

गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे के लिए इमेज परिणाम



भीषण गर्मियों के दौरान सूती कपड़े पहनिए जिससे पसीने के सूखने में मदद मिलेगी। गर्मियों में प्रतिदिन कपड़े बदलिए तथा खुले तथा हल्के कपड़े ज्यादा उपयुक्त तथा आरामदेह साबित होते हैं। गर्मियों में पसीने की बदबू को रोकने के लिए डिओडरेंट काफी मददगार साबित होते हैं। हमेशा हल्का सुगंधित डिओडरेंट के प्रयोग को वरीयता दें, क्योंकि तेज सुगंध के डिओडरेंट से त्वचा में जलन या संवेदनशील रसायनिक प्रभाव पड़ सकता है, जिससे त्वचा खराब हो सकती है तथा त्वचा पर काले ध्ब्बे पड़ सकते हैं। इसके अलावा टेल्कम पाउडर और इत्र का भी प्रयोग किया जा सकता है।

गर्मियों में पसीने की बदबू से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे के लिए इमेज परिणाम




हर्बल क्वीन के नाम से मशहूर शहनाज हुसैन ने कहा कि वेंकिंग सोडा पसीने की दरुगध को रोकने में अहम भूमिका अदा करता है। वेंकिग सोडा, पानी तथा नींबू रस को मिलाकर पेस्ट बना लें तथा इस पेस्ट को अंडर आर्म्स में 10 मिनट तक लगाकर ताजे पानी से धो डालें। इससे पसीने की बदबू को रोकने में मदद मिलेगी। बेंकिग सोडा तथा टैलकम पाउडर का मिश्रण बना कर इसे अंडर आर्म्स तथा पांवों पर 10 मिनट तक लगाने के बाद ताजे पानी से धे डालिए। इससे पसीने की समस्या से निजात मिलेगी।






पसीने की दरुगध वाले शरीर के हिस्सों पर कच्चे आलू के स्लाइस रगड़ने से भी पसीने की दरुगध से छुटकारा मिलता है। नहाने के टब के पानी में फिटकरी तथा पुदीने की पत्तियों को डालकर नहाने से भी शरीर में ठंडक तथा ताजगी का अहसास होता है तथा पसीने समस्या से छुटकारा मिलता है।






नहाने के पानी के टब में गुलाब जल मिलाने से प्राकृतिक शीलता तथा कोमलता मिलती है। दो बूंद ट्री ऑयल तथा दो चम्मच गुलाबजल मिलाकर इस मिश्रण को काटनवूल की मदद से अंडरआर्म्स में लगाने से पसीने की समस्या से निजात मिलती है। बालों से पसीने की दरुगध को रोकने के लिए एक कप पानी में गुलाब जल तथा नींबू रस को मिलाकर बालों को धोने से पसीने की बदबू खत्म हो जाएगी।






शहनाज हुसैन के सुझाव :






-रात को खाने से पहले टमाटर जूस पीना चाहिए। टमाटर पसीने की बदबू के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया को खत्म करता है।






-पान के पत्ते तथा आंवला को पीसकर इसका पेस्ट बना लें तथा इस पेस्ट को अंडर आर्म्स में 10 मिनट तक लगाने के बाद ताजे पानी से नहाने से पसीने की दरुगध से मुक्ति मिलती है।






-अपने वाथटब में नीम की पत्तियों को रात में साफ करके डाल दें तथा इस पानी से नहाने से पसीने की दरुगध के अलावा त्वचा की इन्फैक्शन को रोकने में मदद मिलती है।






-बॉथ टब में नहाने से एक घंटा पहले संतरे का छिलका डालकर छोड़ दें। इस पानी से नहाने से शरीर में ताजगी तथा ठंडक का अहसास होता है।






-शरीर को रगड़कर ताजे पानी से नहाने से शरीर से गंदगी, दरुगध तथा रोग के कीटाणु का सफाया हो जाता है तथा यह पसीने की दरुगध से छुटकारा पाने का सबसे आसान एवं सरल उपाय है।






(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)



One in a



कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.