Header Ads

आप भी लड़ सकते हैं माइग्रेन से


आप भी लड़ सकते हैं माइग्रेन से







अपनी डाइट और सेहत का आप कितना ख्याल रखते हैं. आजकल की दौड़ती-भागती जिंदगी में लोगों के पास इतना भी समय नहीं है कि वे खुद पर ध्यान दे सके, जिससे लोगों को अवसाद जैसी गहन समस्याऐं हो रही हैं. इतना ही नहीं, अव्यवस्थित जीवनशैली की वजह से आप माइग्रेन जैसी समस्या को भी न्यौता दे देते हैं. आज पूरी दुनिया में माइग्रेन से पीड़ित लोगों की तादात बढ़ते जा रही है.

सिर में बेवजह बार-बार दर्द होना ही, मा

इग्रेन है. माइग्रेन का अगर जल्दी से नहीं इलाज नहीं किया गया तो इससे आगे भयंकर बीमारी हो सकती है. हाल ही में एक रिसर्च में यह पाया गया है कि माइग्रेन का शिकार व्यक्ति यदि अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाता है तो माइग्रेन की समस्या से निजात पाया जा सकता है.

https://healthtoday7.blogspot.com/

प्रमुख लक्षण


कोई अजीब लक्षण माइग्रेन में नहीं देखे जाते. उल्टी आना, चक्कर आना और हमेशा थकान महसूस करना ही, इसके लक्षण हैं.




https://healthtoday7.blogspot.com/
घरेलू उपाय 

बेहतर डाइट और कुछ खास घरेलू उपाय अपनाकर माइग्रेन से निजात पाया जा सकता है. आज हम आपको 6 तरह के फूड बताने जा रहे हैं, जिन्हें नियमित रूप से खाकर आप आसानी से माइग्रेन को रोक सकते हैं.

1. हरी पत्तेतदार सब्जिमयां


आपको हरी पत्तेदार सब्जियां खानी चाहिए. मैग्नीशियम माइग्रेन के दर्द के लिए बहुत कारगर है और पत्तेदार सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशि‍यम पाया जाता है. इनके अलावा अनाज, सी-फूड और गेंहूं में भी भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम होता है, आप इनका भी सेवन कर सकते हैं.

2. दूध



दूध, कैल्शिजयम, प्रोटीन, विटामिन और लैक्टिक एसिड से भरपूर होता है. ये तीनों ही चीजें माइग्रेन में बहुत ही फायदेमंद होती हैं. कई दफा ऐसा भी होता है कि आपके दिमाग की नसें बिल्कुल सुस्त सी पड़ जाती हैं और फिर माइग्रेन का दर्द शुरू हो जाता है, ऐसे में दूध आपको एनर्जी भी देता है. यहां बस ये ध्यान रखने वाली बात है कि आप जो दूध पी रहे हैं वो फैट फ्री होना चाहिए.

3. रेड वाइन

सेहत सलाहकार कहते हैं कि रोज एक ग्लास रेड वाइन का सेवन करने से शरीर को एक घंटे किये गए व्यायाम, जितना फायदा मिलता है. रेड वाइन माइग्रेन के दर्द को दूर करने में सहायक होता है.


4. ब्रॉकली

ब्रॉकली मैग्नीशि‍यम, फाइबर्स और विटामिन सी का एक बेहतरीन स्रोत है. खुद को सेहतमंद रखने के लिए है नियमित रूप से ब्रॉकली खाना चाहिए. ब्रॉकली के सेवन से न केवल वजन नियंत्रण में रहता है बल्कि दिल की कई बीमारियों से लड़ने की भी ताकत मिलती है. माइग्रेन के इलाज में ब्रॉकली सहायक होता है.

5. मछली


अपर आप माइग्रेन के मरीज हैं और आप अगर आप मछली नहीं खाते तो अब खाना शुरू कर दें. ये बात तो हम हमेशा से पढ़ते आ रहे हैं कि मछली में ओमेगा 3 फैटी एसिड और विटामिन ई पाया जाता है. ये दोनों ही माइग्रेन के दर्द को कम करते हैं.


6. फायदेमंद कॉफी

अकसर देखा गया है कि सामान्य सी सिर दर्द में लोग चाय या कॉफी को पीना पसंद करते हैं. उसी तरह माइग्रेन में भी ये काफी मददगार है. माइग्रेन अटैक आने पर कॉफी पीने से राहत मिलती है.


इन सभी को अपनी फूड डाइट में शामिल करने के साथ-साथ आपको व्यायाम करना चाहिए. नींद पूरी लेना चाहिए और खाना समय पर खाना चाहिए.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.