Header Ads

सेक्स फिल्में देखने पर हो जाते ज्यादा उत्तेजित


सेक्स फिल्में देखने पर हो जाते ज्यादा उत्तेजित
पॉर्न देखना वास्तव में यौन उत्तेजना बढ़ा सकता है व यौन समस्याओं के बढ़ने का कारण नहीं बन सकता है। हाल ही में कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय, लॉस एंजेलिस व कोकोर्डिया विश्वविद्यालय ने इसका खुलासा किया है। इस खुलासे में वैज्ञानिक निकोल प्राउस ने कहा, “हमने पाया कि जो लोग घर पर ज्यादा सेक्स फिल्म देखते हैं वे लैब में सेक्स फिल्में देखने पर ज्यादा उत्तेजित हो जाते हैं।


कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के प्राउसे व जिम पफाउस ने प्राउसे के लैब में यौन उत्तेजना पर कामुक फिल्म देखने का असर जानने के लिए किए गए पूर्व के अध्ययन के दौरान 280 स्वयंसेवकों से एकत्रित आंकड़े का विश्लेषण किया। औनलाइन जर्नल सैक्सुअल मेडिसिन में प्रकाशित आर्टिक्लमें बोला गया है कि सभी पुरुषों ने बताया कि उन्होंने हर हफ्ते औसत घंटे तक सेक्स फिल्म को देखा।
पुरुषों ने शून्य से 25 घंटे के बीच सेक्स फिल्में देखी व उन्होंने कामेच्छा का स्तर मापने के लिए तैयार प्रश्नावली को भी पूरा किया। 280 स्वयंसेवकों में से 127 नियमित साझीदार थे व उन्होंने ‘अंतर्राष्ट्रीय कामुकता सक्रियता तालिका’ को पूरा किया। इस प्रश्नावली में पुरुष की कामुकता सक्रियता के साथ उसके अनुभव के दर की जरूरत होती है। भागीदारों ने लैब में फिल्म को भी देखा जिसमें एक पुरुष व एक महिला को सहमति से यौन संबंध बनाते दिखाया गया था व उसके बाद उन्होंने अपनी यौन उत्तेजना के स्तर के बारे में सूचित किया।


महिला पार्टनर को साफ-सुधारा व सफाई वाली स्थान पर सेक्स करना होता पसंद


सेक्स का आनंद चाहिए तो आपको इसके परफेक्ट होना पड़ेगा क्यूंकि महिला पार्टनर को साफ-सुधारा व सफाई वाली स्थान पर सेक्स करना पसंद होता है। महिलाएं व लड़कियां बहुत ज्यादाज्यादा केयरिंग होती है। इसलिए जब भी आप अपने पार्टनर को अपने रूम पर सम्भोग के लिए लेन वाले हैं तो इससे पहले रूम की साफ-सफाई कर लें। इससे एक सकारात्मक माहौल बनता है और यह आपके पार्टनर का मूड बनने में भी बहुत ज्यादा हद तक सहायक होता है।

अपने महिला पार्टनर का मूड बनने के लिए थोड़ी सी मेहनत करें जो कि इस प्रकार हैं।

मोमबत्ती जलाएं

सेक के लिए लाइट की स्थान मोमबत्तियों की रौशनी का प्रयोग करें। यह आपके पार्टनर के साथ रोमांटिक माहौल बनने में सहायक होगा। कमरे के चारों कोनों व बेड के नजदीक मोमबत्तियां लगाएं। अपनी मेज पर मोमबत्तियां चलकर रखें। बता दें कि लड़कियों को कम रौशनी में ही सेक्स करना पसंद होता है। यह माहौल आपके पार्टनर को बहुत ज्यादा ज्यादा सपोर्ट करता है।

स्पेशल किट
अपने कमरे में एक छोटा बॉक्स रखें जिसमें सेक्स से जुड़ी सभी जरुरी चीजों को रखें। जिसमें सेक्स टॉय से लेकर लुब्रिकेंट, कॉन्डम या फिर वे चीजें जिनकी आवश्यकता आपको रात में सेक्स के बाद पड़ सकती है। ऐसा करने से उस वक्त चीजें खोजने में आपका समय बर्बाद नहीं होगा जब आप पूरी तरह से सेक्स के मूड में होंगे।

म्यूजिक बजाएं
सेक्स के दौरान अक्सर लोग रॉक म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं। इससे आपके पार्टनर की उत्तेजना बढ़ती है। यह आपको बोरियत से भी बचाता है।

बेड शीट बदलें
अपने बेड से रेग्युलर कॉटर चादर हटाकर कभी-कभार सिल्की सैटिन की चादर बिछाएं। यह आपको बहुत ज्यादा पॉजिटिव फील देता है। इसी के साथ आपके कमरे में सफाई दिखाई पड़ती है।

रूम फ्रेशनर व डीओ
अपने कमरे में एक अच्छा सा लाइट सुगंध वाला रूम फ्रेशनर का प्रयोग करें या इसकी के साथ आपके पार्टनर का फेवरेट बॉडी स्प्रे का प्रयोग करें।







लड़कियों के मन की बातें जानना बेहद ही होता कठिन 

लड़कियों के मन की बातें जानना बेहद ही कठिन होता है खासकर लड़के तो उनके मन की बातें समझ नहीं पाते है कि आखिर वह चाहती क्या है। वहीं रात में सोते समय लडकियां कुछ इस तरह की बातें सोचती है जिनका अंदाज़ा आप कभी नहीं लगा सकते है। लेकिन आज हम आपको बताएँगे कि आखिर लडकियां रात में सोने से पहले क्या बातें सोचती है व उनके मन में कैसे ख्याल आतें है।

दरअसल सोने से पहले हर लड़की के मन में यह ख्याल जरूर आता है कि उनकी ज़िंदगी में जो जीवनपार्टनर आएगा वो कैसा होगा। अगर वह पहले से ही किसी के साथ रिलेशनशिप में है तो वह अपने पार्टनर के बारे में सोचती रहती है।

इसके अतिरिक्त ज्यादातर लडकियां यह सोचती है कि कल प्रातः काल जब वह कॉलेज या कही बाहर घूमने जाएगी तो क्या, कौन सी, कैसी ड्रेस पहनेंगी। यही नहीं बल्कि वो हर रोज कॉलेज की सबसे स्टाइलिश लड़की व उसकी ड्रेसेज के बारे में भी सोचती हैं। कुछ लडकियां ये सोचती है कि आज दिन भर उनके साथ क्या हुआ व उन्हें किसके साथ सबसे ज्यादा अच्छा लगा।
कुछ लड़कियां उस लड़की के बारे में भी सोचती हैं जिसके पीछे उसके कॉलेज के सारे लड़के दीवाने हैं।ज्यादातर लड़कियां सबसे ज्यादा अपने होने वाले ज़िंदगी साथी के बारे अधिक सोचती है। वह सोचती है कि उनकी ज़िंदगी में जो भी लड़का आएगा क्या उन्हें वो समझ पायेगा या फिर क्या वो उनकी पसंद का होगा।

सेक्स करते समय ज्यादातर चरमोत्कर्ष करते प्रयास

सेक्स करते समय ज्यादातर चरमोत्कर्ष तक पहुचने की प्रयासकरते है  इस वक्त आपकी दिल की धड़कनें बड़ी हुई होती हैं  सांसे तेज हो जाती हैं लेकिन चरमोत्कर्ष के बारे में आप ये सब नहीं जानते होंगे लेकिन अब हम आपको चरमोत्कर्ष से जुडी कुछ ऐसी बाते बताने जा रहे है जिनके बारे में आप नहीं जानते होंग
Image result for सेक्स करते समय ज्यादातर चरमोत्कर्ष करते प्रयास यां
1. तनाव में राहत के लिए चरमोत्कर्ष का इंतजार करें
2. नींद की कमी भी चरमोत्कर्ष में पहुंचने के बाद पूरी की जा सकती है
3. बच्चों को पैदा करना भी एक तरह का सेक्‍शुअल प्लेजर है
4. कई औरतें चरमोत्कर्ष में पहुंचते ही बेहोश हो जाती हैं कई बार मृत्यु के भी मामले सामने आए हैं
5. ऑर्गेज्म को बढ़ाने के लिए कोरगैस्म यानि अभ्यास भी है
6. वीर्य में तनाव को कम करने के गुण पाए गए हैं
7. चरमोत्कर्ष इंम्यून सिस्टम भी बढ़ाता है
8. आपको खुदको बेहतर ऑर्गेज्म के लिए तैयार करते हैं

हस्तमैथुन के बारे में लोगों को न जाने कितनी होती भ्रांतियां



हस्तमैथुन सहवास का दूसरा विकल्प है। जिन लोगों को अपने पार्टनर के साथ सहवास करने का मौका नहीं मिला है या उसकी गैर-मौजूदगी में अपनी सेक्सी की तलप मिलाने के लिए लोग अक्सर हस्तमैथुन करते हैं। जो कि एक स्वाभाविक क्रिया है। हस्तमैथुन के बारे में लोगों को न जाने कितनी भ्रांतियां होती है। कुछ लोग हस्तमैथुन को सेहत के लिए हानिकारक समझते हैं पर आज हम आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि हस्तमैथुन किसी भी प्रकार से आपके लिए हानिकारक नहीं है।


उसी तरह हस्तमैथुन से भी कोई कमजोरी नहीं होती। इसकी वजह यह है कि सहवास के दौरान जो क्रिया पुरुष का प्राइवेट पार्ट, स्त्री के प्राइवेट भाग में करता है. वही क्रिया हस्तमैथुन के दौरान पुरुष का प्राइवेट भाग मुट्ठी में करता है। जिस तरह शब्द अलग-अलग हो सकते हैं लेकिन लिपि एक ही होती है, उसी तरह से सहवास में सच होती है व हस्तमैथुन में सच की कल्पना।

बता दें कि हस्तमैथुन से आपके बॉडी में किसी भी प्रकार से कमजोरी नहीं आती है व न ही इससे आपका कौन कम होता है। अब शारीरिक की एनर्जी कुछ वक़्त के लिए डाउन होती है पर वह कुछ देर में फिर रिकवर हो जाती है। हस्तमैथुन लड़का व लड़कियां दोनों ही करते हैं। इसके दौरा आप चरमसुख का आनंद लेते हैं


हस्तमैथुन करने से होते है ये चौंका देने वाले फायदे

हस्तमैथुन मानव ज़िंदगी में सभी के साथ होने वाली एक आम प्रक्रिया है लेकिन इसे ज्यादातर पुरुषों से जोड़कर देखा जाता है। हालांकि ये बात पूरी तरह से सही नहीं है क्योकि पुरुषों की तरह ही स्त्रियों में भी कामुकता होती है। वहीं कुछ लोग इसे अश्लीलता से जोड़ते है। लेकिन एक शोध में ये बताया गया है कि हस्तमैथुन से कई फायदे होते है। तो आज हम आपको बताएँगे हस्तमैथुन से जुड़ी कुछ रोचक बातें।


ताजा हुई रिसर्च में ये बताया कि 18 से ऊपर आयु की अधिकांश स्त्रियों ने कम से कम एक बार हस्तमैथुन किया था जबकि कुछ महिलाएं इसे नियमित तौर पर करती है। वहीं इंडियाना यूनिवर्सिटी के नैशनल सर्वे के अनुसार, 25 से 29 के बीच 7.9 फीसदी महिलाएं एक हफ्ते में 2-3 बार हस्तमैथुन करती हैं। वहीं 23.4 फीसदी पुरुष एक हफ्ते में 3-4 बार हस्तमैथुन करते हैं।
हस्तमैथुन के फायदे 

बताया गया कि हस्तमैथुन करने से ऑर्गैजम से एंडॉरफिन्स डोपामाइन व ऑक्सीटोसिन रिलीज होता है जो आपके मदद को फ्रेश करता है व आप बेहतर महसूस करते है। ऐसा करने से बिस्तर पर जाते ही आपको नींद आ जाती है। इसके अतिरिक्त हस्तमैथुन आपकी सेक्स जीवन को बेहतर बनाने के साथ-साथ आप समझ सकते है कि आपके बॉडी के किस हिस्से में ज्यादा उत्तेजना होती है।शोध में बताया गया है कि हस्तमैथुन करने का कोई भी निगेटिव प्रभाव नहीं पड़ता है। इसे करने से आपको कोई भी नुकसान नहीं पहुंचता है। ऐसा करने से न आप बीमार पड़ेंगे व न हीप्रेगनेंट होने का कोई भय रहेगा।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.