Header Ads

बच्चों को दूध पिलाने वाली महिलाएं रहती हैं कैंसर से कौसों दूर


बच्चों को दूध पिलाने वाली महिलाएं रहती हैं कैंसर से कौसों दूर



पुरुषों में अक्सर यह समानता देखी जाती है कि वह महिलाओं के बूब्स को बड़े ही गौर से निहारते हैं. महिलाओं के स्तनों को देखकर पुरुषो को एक असीम आनंद की प्राप्ति होती है. एक स्टडी में बताया गया था कि पुरुषों को 34 या इससे बड़े अकार के स्तनों को निहारने में आनंद आता है. स्तन, महिलाओं के शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग होते हैं. यह जितने ज्यादा सेंसिटिव और बड़े होते हैं, पुरुषों को यह उतने ही सेक्सी लगते हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि धूम्रपान करने वाली महिलाओं के स्तनों का आकर धूम्रपान न करने वाली महिलाओं के स्तनों के मुकाबले काफी बड़े होते हैं.

पुरुषों को आकर्षित करने वाले महिलाओं के स्तनों का साइज हर हफ्ते बदलता है क्योंकि हमारी ज़िन्दगी हॉर्मोन्स पर ही निर्भर है. पेट के बल सोने के कारण भी महिलाओं के स्तन के साइज में फर्क पड़ जाता है. नवजात शिशु को दूध पिलाने वाली माँ कैंसर से कौसो दूर रहती है. क्योंकि एक शोध में बताया गया कि जो महिलाएं बच्चे को दूध पिलाती हैं, उन्हें कैंसर की बिमारी का खतरा नहीं रहता.

बताया तो यह भी गया है कि लगातार 6 महीनों तक यदि माँ बच्चे को दूध पिलाती है तो इससे महिला का वज़न भी कम हो जाता है. महिलाओं के बूब्स दबाने से 'Oxytocin' रिलीज़ होता है. यह उस समय भी रिलीज़ होता है जब पुरुष किसी महिला को गले लगाता है. माना जाता है कि निप्पल महिला के शरीर का सबसे उत्तेजित अंग होता है, लेकिन ऐसा नहीं है. दरअसल, निप्पल की ऊपर का हिस्सा महिला को सेक्स के प्रति ज्यादा उत्तेजित करता है.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.