Header Ads

क्या आपके ब्रेस्ट मिल्क में भी आता है ब्लड? जानिए इसके कारण

क्या आपके ब्रेस्ट मिल्क में भी आता है ब्लड? जानिए इसके कारण

क्या आपके ब्रेस्ट मिल्क में भी आता है ब्लड? जानिए इसके कारण


मां बनना हर महिला के लिए जीवन का एक अनोखा एहसास होता है। मां बनने के बाद अपने बच्चे को स्तनपान कराने से जो खुशी उस मां को मिलती है उसका बखान शब्दों में नही किया जा सकता है। मगर अक्सर ऐसा होता है कि ब्रेस्ट मिल्क का रंग बदल जाता है। वह सफेद की बजाय नारंगी, भूरा या गुलाबी का आने लगता है। लेकिन आमतौर पर इसका पता नही चल पाता। इस बात की जानकारी तभी लग पाती है जब कभी आप दूध को पम्प करती है या फिर कभी बच्चा दूध उगल दे। अगर आपके साथ कभी ऐसा होता तो डरें नही, दरअसल यह एक समान्य बात है, हालांकि फिर भी आपको इस बारे में अपने डाक्टर से परार्मश लेना चाहिए। वैसे आपको बता दें कि ब्रेस्ट मिल्क का रंग बदलना स्तन से दूध के साथ खून निकलने के कारण होता है। चलिए जानते है कि आखिर ऐसा क्यों होता है।
1- निप्पल में दरारें पड़ना

निप्पल से खून निकलने का कारण निप्पल में दरारें पड़ना भी रहता है। अक्सर बच्चे द्वारा बार बार निप्पल चूसने की वजह से निप्पल में दरार आ जाती है। इसी कारण दूध के साथ खून आने लगता है। ऐसी स्थिति में महिलाओं को स्तनपान कराते समय दर्द भी होता है।
2- रस्टी पाइप सिंड्रोम
रस्टी पाइप सिंड्रोम की स्थिति अपने नाम के मुताबिक ही होती है। जिस प्रकार रस्टी पाइप से आने वाले पानी का रंग बदल जाता है वैसे ही रस्ती पाइप सिंड्रोम के कारण दूध का रंग सफेद से लाल या भूरा हो जाता है। यह समस्या आमतौर पर पहले प्रसव के बाद ही देखी जाती है।
3- ब्रोकन या डेमेज्ड कोशिकाएं

कई बार स्तनपान के कारण ब्रेस्ट में मौजूद कोशिकाएं क्षतिग्रस्त हो जाती है। जिसकी एक आम वजह दूध की एक्स्प्रेसिंग करना होता है। सरल शब्दों में बताएं तो जब आप ब्रेस्ट को पम्प की बजाए हाथों से दबा कर दूध निकालती है तब ऐसा होता है। इसलिए ध्यान रखें कि दूध निकालने के लिए पम्प का ही इस्तेमाल करें।

4- इंट्राडक्टल पेपिलोमा

यह एक प्रकार का ट्यूमर होता है जो कि ब्रेस्ट की कोशिकाओं की लाइनिंग में होता है। इसकी वजह से भी आपके ब्रेस्ट मिल्क में खून आ सकता है। वैसे इस ट्यूमर का पता लगाने का सबसे आसान तरीका है कि आप अपनी बगल मे हाथ लगाकर देखे, ये ट्यूमर गांठ के रुप में वहां महसूस हो जाता है।
5- मस्तितिस
यह एक प्रकार का संक्रमण होता है जो ब्रेस्टफीडिंग के दौरान होता है। यह आमतौर पर तभी होता है जब बच्चा मां के स्तन को सही से नही पकड़ता।
6- फाइब्रोसिस्टिक ब्रेस्ट

कई बार देखने में आता है कि 30 की उम्र के बाद महिलाओं की ब्रेस्ट में गांठे बन जाती है। यह भी दूध के साथ खून आने की एक वजह बन जाता है।
7- ब्रेस्‍ट कैंसर
वैसे तो ब्रेस्ट से हल्का खून आना समान्य होता है, लेकिन अगर आपको यह परेशानी लगातार आ रही है तो आपको अपने डाक्टर से परामर्श करना चाहिए। यह ब्रेस्ट का एक संकेत भी हो सकता है

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.