Header Ads

ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए करें यह आसन

ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए करें यह आसन

ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए करें यह आसन


आजकल चलन ही ऐसा चल गया है कि महिलाओं को ब्रेस्ट साइज बढ़े हुए ही पसंद होते हैं। छोटे ब्रेस्ट का होना इतना बुरा भी नहीं होता लेकिन छोटे ब्रेस्ट होने के कारण लड़कियों को थोड़ी कमी महसूस होती है। ऐसे में उनका आत्मसम्मान डगमगाता रहता है। कुछ लड़कियां अपने ब्रेस्ट साइज को बढ़ाने के लिए किसी भी तरह की दवा या फिर सप्लिमेंट का सेवन करने लग जाती हैं, जो कि उनके स्वास्थ्य को नुकसान भी पहुंचा सकता हैं, तो ऐसा बिल्कुल ना करें।

तो फिर क्या करें?
ब्रेस्ट साइज कम होने की चिंता ना करें। ऐसे में आप योगा की मदद ले सकती हैं। ऐसा देखा गया है कि जो महिलाएं गोमुखासन करती हैं, उनके ब्रेस्ट साइज बढ़ जाते हैं। योगा ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के लिए काफी सही उपचार है। इससे किसी भी तरह का नुकसान नहीं होता है। नीचे बताए गए इन योगा आसन से आप अपने ब्रेस्ट साइज को आसानी से बढ़ा सकती हैं।
ऐसे तो ब्रेस्ट साइज बढ़ाने के काफी आसन हैं, लेकिन गोमुखासन इन सबसे अच्छा होता है। अगर आप नहीं जानती हैं कि इस आसन को किस तरह से किया जाता है तो चिंता ना करें। हमारे बताएं हुए चरणों का सावधानी से पालन करें।
गोमुखासन कैसे करें?

स्टेप 1. सबसे पहले जमीन पर बैठ जाएं और फिर अपने पैरों को अच्छे से खोल लें।
स्टेप 2. इसके बाद बाएं घुटने से इस मुद्रा को शुरू करें। अपने घुटनों को धीरे-धीरे उठाएं और फिर अपनी बाई एड़ी को अपने दाएं हिप के पास लाने का प्रयास करें।

स्टेप 3. इसी तरह अपने दाएं घुटने को अपने बाएं हिप के पास लाने का प्रयास करें। एक सही मुद्रा करने के लिए काफी मेहनत की जरूरत होती है, लेकिन अपनी सीमा तक ही रहकर इस मुद्रा में बैठें। आप धीरे-धीरे इस मुद्रा को आसानी से पूरा कर लेंगी।
स्टेप 4. इसके बाद अपने बाएं हाथ को मोड़ें और पीठ के पीछे की तरफ ले जाएं।
स्टेप 5. इसके बाद अपने दाहिने हाथ को झुकाकर अपनी पीठ की तरफ ले जाएं।
स्टेप 6. इसके बाद आप अपने हाथों को छूने की कोई करें। लगभग 30 सेकेंड के लिए इसी मुद्रा में बैठे रहें।

स्टेप 7. इसके बाद इस मुद्रा को बदलकर अपने हाथों को बदलें और इस मुद्रा को सुबह के समय कम से कम 4 से 5 बार जरूर करें। आप इस अवधि को बढ़ा भी सकती हैं।

स्तन वृद्धि के साथ ही यह योगा मांसपेशियों को स्ट्रेच और टोन करता है। ऐसा करने से हमारा पेट भी टोन रहता है और स्तनों को मजबूत बनाता है।
गोमुखासन के लाभ-
• यह सीने को लचीला बनाता है।
• यह कूल्हे के जोड़ों पर भी काम करता है।
• यह कंधे से तनाव को दूर करता है।
• इस आसन को करने से डिप्रेशन और तनाव से मुक्ति मिलती है।
• इसके अलावा पीठ दर्द से भी आसानी से निजात मिल जाती है।
अगर आपको यह आसन करने में कोई परेशानी होती है तो इसके लिए डॉक्टर से अवश्य संपर्क करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.