Header Ads

वज्रासन करने का तरीका और फायदे –


वज्रासन करने का तरीका और फायदे –




Vajrasana in Hindi वज्रासन संस्कृत के दो शब्दों वज्र और आसन से मिलकर बना है। जहां वज्र का मतलब डॉयमंड या thunderbolt होता है जबकि आसन का मतलब मुद्रा या pose होता है। इसलिए वज्रासन का अर्थ योगिक मुद्रा से है जो शरीर को हीरे के समान मजबूत बनाता है। वज्रासन को डायमंड पोज (Diamond Pose) या थंडरबोल्ट पोज (Thunderbolt pose) भी कहते हैं। वज्रासन करने से शरीर निरोगी और मजबूत बनता है। वज्रासन पाचन कार्य को सुधारने में सहयोग करता है और पैरों को भी मजबूती प्रदान करता है। यह आसन करने से डाइजेशन की समस्या जड़ से दूर हो जाती है। इस आर्टिकल में हम आपको वज्रासन करने का तरीका, वज्रासन के फायदे एवं वज्रासन करते समय बरतें सावधानियां के विषय में बताएंगे।

वज्रासन में अनुलोग-विलोम, प्राणायाम और सांस लेने एवं छोड़ने से संबंधित अन्य कई योग व्यायाम भी किया जाता है। यह आसन करने से व्यक्ति के शरीर की मांसपेशियां भी मजबूत रहती हैं। यह आसन करने के लिए जब व्यक्ति दोनों पैरों को पीछे की ओर मोड़कर बैठता है तो यह पैरों के आसपास खून के बहाव को कम करके पाचन क्षेत्र की तरफ ब्लड के प्रवाह को बढ़ाता है जिससे कि पेट और पाचन दोनों ठीक रहता है। वज्रासन जितनी आसान मुद्रा लगती है उतनी है नहीं क्योंकि इस आसन को करने में शुरू में हल्का दर्द और दिमाग में बेचैनी होती है लेकिन लगातार अभ्यास से यह परेशानी दूर हो जाती है
1. वज्रासन करने का तरीका – Steps of Vajrasana (Thunderbolt Pose) in Hindi
2. वज्रासन करने के फायदे – Benefits of vajrasana in Hindi
3. वज्रासन करते समय सावधानियां – Vajrasana Precautions in Hindi
वज्रासन करने का तरीका – Steps of Vajrasana (Thunderbolt Pose) in Hindi

जमीन पर शरीर को एकदम सीधा करके बैठ जाएं।
अब अपने पैरों के घुटनों पीछे की ओर मोड़ते हुए इस तरह बैठें कि आपके दोनों पैर आपके नितंबों को छू जाएं।
इसके बाद अपने एक हाथ को पहले जंघे पर और दूसरे हाथ को दूसरी ओर के जंघे पर रखें।
अपनी पीठ को बिल्कुल सीधी रखें और आंखें बंद कर लें।
अब बहुत धीरे से सांस खीचें और बिल्कुल आहिस्ता से सांस छोड़ें।
सांस छोड़ते समय दिमाग को शांत रखें और यह विचार लाएं कि आपके शरीर की सारी परेशानिया इस सांस के जरिए नाक से बाहर निकल रही है।
इसी प्रक्रिया को करीब पांच मिनट तक दोहराएं।
फिर नियमित वज्रासन करते हुए इसके समय को बढ़ाएं।
आप चाहें तो इस आसन को पंद्रह मिनट तक भी कर सकते हैं।
वज्रासन के फायदे – Benefits of vajrasana in Hindi


Vajrasana वज्रासन करना हर व्यक्ति को काफी आसान मालूम पड़ता है लेकिन शुरूआत में यह बहुत कष्टकारी होता है, इसके लिए नियमित अभ्यास की जरूरत होती है। यह आसन पैरों को मोड़कर किया जाता है जिससे कि शरीर को कई तरह के फायदे होते हैं। तो आइये आपको बताते हैं कि वज्रासन करने से शरीर को क्या फायदे होते हैं।
वज्रासन के फायदे वजन कम करने में – Vajrasana for weight loss in Hindi

Vajrasana वज्रासन करने यह पोषक तत्वों को बेहतर तरीके से अवशोषित करता है जिससे मेटाबोलिक रेट बढ़ने लगता है और इसकी वजह से शरीर में कैलोरी तेजी से नष्ट होती है और व्यक्ति के शरीर का वजन घटने लगता है।
वज्रासन के फायदे स्ट्रेस कम करने में – Vajrasana for stress in Hindi

सभी योग मुद्रा एवं आसन की भांति वज्रासन को करने से श्वसन क्रिया बेहतर होती है जिससे कि तनाव एवं चिंता की समस्या दूर हो जाती है।
वज्रासन के फायदे विषाक्त पदार्थ दूर करने में – Vajrasana to remove toxic substances in Hindi

यदि आपके शरीर में जमा विषाक्त पदार्थ बाहर निकलने में कठिनाई होती हो तो वज्रासन करने से मल-मूत्र में त्यागने में काफी आसानी होती है और शरीर में बीमारियां नहीं लगती हैं।
वज्रासन के फायदे स्टैमिना बढ़ाने में – Vajrasana for Stemina in Hindi

Vajrasana वज्रासन स्ट्रेस एवं एनेक्जाइटी के स्तर को कम करता है जिससे की व्यक्ति का मन अधिक प्रसन्न रहता है और शरीर में टेस्टोस्टेरॉन का स्तर भी सुधरता है। टेस्टोस्टेरॉन का लेवल बढ़ने से व्यक्ति को एनर्जी मिलती है और स्टैमिना बढ़ता है और जोड़ों की हड्डियां शक्तिशाली बनती हैं।
वज्रासन के फायदे मूड सुधारने में – Benefits of vajrasana for Improving the mood in hindi

व्यक्ति का मूड स्विंग होने के पीछे बहुत सारी वजहें होती हैं। वज्रासन करने से गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट स्वस्थ रहता है जिससे की शरीर में अच्छे हार्मोन उत्पन्न हो होते हैं और वे मूड को अच्छा रखने में मदद करते हैं।
वज्रासन के फायदे शरीर को टोन करने में – Benefits of vajrasana tone in the body in hindi

Vajrasana वज्रासन करने से व्यक्ति के मांसपेशियों, जोड़ों में खिंचाव होता है। जिससे की इनमें मजबूती आती है। इसके अलावा यह टखने, नितंब और घुटने को भी स्ट्रेच करने में मदद करता है। इसकी वजह से पूरे शरीर को टोनिंग हो जाती है और सेहत अच्छी रहती है। इसके अलावा वज्रासन करने से व्यायाम एवं मेडिटेशन दोनों के फायदे एकसाथ व्यक्ति को मिल जाते हैं।
वज्रासन के फायदे चेहरे पर चमक लाने में – Benefits of vajrasana for glowing skin in hindi

शरीर का पाचन ठीक रहने पर त्वचा संबंधी रोगों से व्यक्ति को छुटकारा मिलता है। यह आसन करने से शरीर और त्वचा से विषाक्त पदार्थ बाहर निकलते हैं जिससे कि त्वचा कोमल, चिकनी बनती है और चेहरा ग्लो करने लगता है।
वज्रासन के फायदे रोगों से निजात पाने में – Benefits of vajrasana to cure diseases in hindi

Vajrasana वज्रासन करने से रीढ़ मजबूत होती है जिससे कि व्यक्ति को साटिका की समस्या नहीं होती है। इसके अलावा यह आसन किडनी और यकृत की क्रिया को सुधारता है जिसके परिणामस्वरूप डाइजेशन ठीक रहता है।
वज्रासन करते समय बरतें सावधानियां – Vajrasana Precautions in Hindi


यदि किसी भी आसन को करते समय व्यक्ति लापरवाही बरतता है तो वह बहुत नुकसानदायक हो जाता है लेकिन यदि आपके शरीर में किसी विशेष तरह की परेशानी हो तो आपको डॉक्टर की सलाह के बिना कोई भी आसन नहीं करना चाहिए।
अगर आप जोड़ों के दर्द या घुटनों के दर्द से पीड़ित हैं तो वज्रासन न करें।
यदि आपके शरीर की कशेरूकाओं में कोई दिक्कत या तकलीफ हो तो वज्रासन करने से बचें।
अगर आपको हार्निया हो, आंतों में अल्सर हो या बड़ी एवं छोटी आंत में किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो डॉक्टर या किसी विशेषज्ञ की सलाह के बाद ही वज्रासन करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.